सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 27 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 27 नवंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 27 नवम्बर

डीसीए ने एक तरफा मुकाबले यंग स्टार को 131 रन से दी शिकस्त, विस्फोटक बल्लेबाज राकेश धनगर ने खेली धमाकेदार 71 रन की पारी


sehore news
सीहोर। शहर के बीएसआई मैदान पर शनिवार से आरंभ स्वर्गीय मथुरा प्रसाद केसरिया की स्मृति में जिला क्रिकेट एसोसिएशन और बीएसआई हेल्थ एंड स्पोट्र्स के तत्वाधान में टी-20 लीग सीजन-2 क्रिकेट प्रतियोगिता के पहले मैच में विस्फोटक बल्लेबाज राकेश धनगर की 71 रन की धमाकेदार अद्र्धशतकीय पारी की बदौलत एक तरफा मुकाबले में डीसीए ने यंग स्टार को 131 रन के विशाल अंतर से हराया। इस मैच में पहले टास जीतकर डीसीए ने निर्धारित 20 ओवर में चार विकेट के नुकसान पर 191 रन का स्कोर खड़ा किया था। जिसमें राकेश धनगर ने धमाकेदार 71 रन की अद्र्धशतकीय पारी खेली। इसके अलावा अमित शर्मा ने 27 रन और सुनील जलोदिया-संजय पटेल वकील ने 26-26 रन और कप्तान मदन कुशवाहा ने नौ रन बनाए। वहीं यंग स्टार की ओर से आजाद ने दो विकेट, रमन-ऋषि ने एक-एक विकेट हासिल किया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी यंग स्टार की पूरी टीम 12.3 ओवर में मात्र 60 रन पर ढेर हो गई। इसमें पवन ने 17 रन की संघर्षपूर्ण पारी खेली। इधर डीसीए की ओर से शुभम राठौर, अमित शर्मा, वीरु वर्मा ने दो-दो विकेट हासिल किए। वहीं  गौरव खरे, अजय चंदेल और स्वप्रिल ने एक-एक विकेट प्राप्त किए। शनिवार को मैच का शुभारंभ जिला क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मनीष जैन, उपाध्यक्ष हरफान हुसैन, सुनील यादव, आयोजन समिति के हेमंत केशरिया, अमन धावरी, राकेश शर्मा, उपेन्द्र सिंह ठाकुर आदि ने किया।


दूसरे मैच में पीपीसीए ने इलेवन टाइगर को हराया

आयोजन समिति के पदाधिकारी श्री केसरिया ने बताया कि एक दूसरे मैच में पीपीसीए ने इलवेन टाइगर को 32 रन से हराया। इस मैच में पीपीसीए ने पहले बल्लेबाजी करते हुए दस विकेट के नुकसान पर 117 रन बनाए थे। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी इलवेन स्टार 85 रन ही बना सकी।


राकेश धनगर और मानस सोनी को दिया मैन आफ द मैच

डीसीए की ओर से विस्फोटक बल्लेबाजी करने वाले राकेश धनगर और पीपीसीए की ओर से शानदार गेंदबाजी करने वाले गेंदबाज मानस सोनी चार ओवर में 25 रन देकर पांच विकेट लेने पर मैन आफ द मैच दिया गया। रविवार को दोपहर एक बजे पीपीसीए और यंग स्टार के मध्य मैच खेला जाएगा। इस अवसर पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के भगवान सिंह, समाजसेवी केशव राठौर, लखन मेवाड़ा आदि खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन करने मौजूद रहेंगे। 


कलेक्टर ने किया कराटे खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन


sehore news
सीहोर। शहर के इंदौर नाका स्थित बजरंग कालोनी में मास्टर आफ ताओ कराटे एसोसिएशन के तत्वाधान में शनिवार से नौवीं नेशनल कराटे प्रतियोगिता के पहले दिन   महिला वर्ग में ओपन कराटे प्रतियोगिता में नंदनी चौहान ने गोल्ड हासिल किया। इस मौके पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कलेक्टर चंद्र मोहन ठाकुर, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे एसोसिएशन के मुख्य संरक्षक अखिलेश राय, जाली कुरियन, उमेश जोगी, कोच लखन ठाकुर, श्रीमती विमला ठाकुर आदि ने यहां पर मौजूद बड़ी संख्या में खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन किया। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि बेटियों की आत्म रक्षा के लिए कराटे एक अच्छा विकल्प है। आज के समय में बगैर हथियार के अपनी सुरक्षा करना मार्शल आर्ट है। आत्मरक्षा के लिए मार्शल आर्ट की विधा में पारंगत होना जरूरी है। स्कूली शिक्षा के साथ-साथ छात्र-छात्राओं के लिए शारीरिक शिक्षा का होना भी बहुत जरूरी है। जिसके माध्यम से बच्चों के शरीर का विकास होता है। मास्टर आफ ताओ कराटे एसोसिएशन के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि रविवार को प्रतियोगिता के पहले दिन सात वर्ष से नौ वर्ष की आयु वर्ग में मित राज ने गोल्ड, 10 वर्ष से 12 वर्ष की आयु वर्ग में भूमिका, 13 से 15 वर्ष की आयु वर्ग में जिज्ञासा, 16 वर्ष से 18 वर्ष की आयु वर्ग में अन्वेशा और ओपन कराटे प्रतियोगिता में नंदनी चौहान ने शानदार खेला का प्रदर्शन करते हुए गोल्ड हासिल किया।  प्रतियोगिता का दूसरा चरण रविवार को खेला जाएगा।


अम्बेडकर पार्क में  मनाया  गया  संविधान दिवस , नागरिकों ने ली एकता अखंडता बनाए रखने की शपथ


sehore news
सीहोर। अनुसुचित जाति वार्ड क्रमांक 11 के डॉ अम्बेडकर पार्क में शुक्रवार को भारी संख्या में उपस्थित होकर आम नागरिकों के द्वारा भारतीय संविधान दिवस के अवसर पर देश की एकता अखंडता बनाए रखने के लिए भारत के संविधान पर चलने की शपथ ली  गई। उक्त कार्यक्रम क्षेत्रीय पार्षद आरती खंगराले के द्वारा जन जागरूकता के लिए आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राकेश राय के द्वारा डॉ भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं कैंडिल जलाकर किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाजसेवी डॉक्टर अनीस खान थे, कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ अम्बेडकर सामाज कल्याण परिषद के प्रदेशाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले के द्वारा की गई। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में शैलनिधि बांगरे, प्रेमलता शैल, डॉ प्रीतम दयाल चौरसिया तथा मून्नालाल मालवीय उपस्थित रहे।  कार्यक्रम में प्रमुख रूप से भवंरलाल सूर्यवंशी, दयाराम गबाटिया, विनोद उपाध्याय, धन्नालाल परचोले, पन्नालाल खंगराले, शोभाराम अहिरवार, दीपक सोनकर, इमरतलाल बमानिया, डॉ विजेंद्र सूर्यवंशी, धमेंद्र सूर्यवंशी, चतुरनारायण भारती,बदरी दसबंत, अनिकेष सिलावट भगत सिंह भारती, बदरी प्रसाद भारती, कमल सिंह सूर्यवंशी, कुमेर सिंह नागर, मीरा रेकवार, शोभा तोमर, मीना सक्सेना, घनश्याम जाटव, भूपेंद्र बहिवार, गिरजा मोर्या,रामकली रेदास, सुनीता भारती, कलाबाई नागर रामस्वरूप भारती आदि नागरिक मौजूद रहे।  


संगीतमय भजन संध्या का आयोजन 30 नवंबर को कलश यात्रा के साथ आरंभ हुई श्रीराम कथा


sehore news
सीहोर। शहर के चाणक्यपुरी स्थित श्री गोंदन सरकार धाम हनुमान मंदिर में अनंत श्री विभूषित पंडित श्री महावीर शरण चतुर्वेदी दद्दा जी की पुण्य स्मृति के उपलक्ष्य में धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। शनिवार को सुबह कलश यात्रा के शुरूआत की गई। इस मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल थे। श्रीराम कथा हमें मर्यादा में रहना सिखाती है। साथ ही यह मानव का सही मार्गदर्शन भी करती है। जो मनुष्य सच्चे मन से श्रीराम कथा का श्रवण कर लेता है, उसका लोक ही नहीं परलोक भी सुधर जाता है। मनुष्य जीवन बहुत दुर्लभ है और बहुत सत्कर्मों के बाद ही मनुष्य का जीवन मिलता है। उक्त विचार कथा के पहले दिन कथा व्यास पंडित श्री राघवेन्द्राचार्य महाराज ने कहे। उन्होंने कहा कि मनुष्य को इसका सदुपयोग करना चाहिए और राम नाम का जप करते हुए अपने लोक व परलोक को सुधारना चाहिए। कलियुग में मनुष्य का सबसे बड़ा सहारा राम नाम ही है। प्रवचन के दौरान महाराज ने कहा कि हमें अपने दाम्पत्य जीवन में गंभीर होना चाहिए। पति-पत्नी, भाई- बहन, भाई-भाई का प्रेम, पिता-पुत्र, सास-बहु सभी को अपनी मर्यादा में रहना चाहिए। रामायण हमें मर्यादा सिखाती है। इस संबंध में जानकारी देते हुए पंडित जितेन्द्र चतुर्वेदी ने बताया कि श्रीराम कथा प्रतिदिन दोपहर एक बजे से आरंभ होती है। कथा के पहले दिन श्रद्धालुओं ने कलश यात्रा निकाली। आगामी 30 नवंबर को रात्रि आठ बजे स्वरांजली गु्रप के साथ संगीतमय भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा। इसके पश्चात एक दिसंबर को सुबह श्रद्धांजली, कथा विश्राम और हवन एवं प्रसादी वितरण का आयोजन किया जाएगा। श्री गोंदन सरकार धाम हनुमान मंदिर के शिष्य मंडल सहित क्षेत्रवासियों ने इस पावन अवसर पर आने की अपील की है।  


शहर के बेटी शिवानी बनी मध्यप्रदेश फुटबाल टीम की कप्तान


sehore news
सीहोर। शहर के चर्च मैदान पर जिला फुटबाल एसोसिएशन के तत्वाधान में खेलने वाली शहर की दो प्रतिभाशाली बेटियों का चयन केरल में रविवार से आरंभ होने वाली नेशनल फुटबाल प्रतियोगिता के लिए हुआ चयन है और यह गर्व का विषय है कि मध्यप्रदेश फुटबाल टीम की कप्तान का जिम्मा भी शहर बेटी शिवानी गौर को मिला है। महिला फुटबाल टीम रविवार को अपने पहला मैच उत्तराखंड से खेलेगी। इस संबंध में जिला फुटबाल एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने बताया कि शहर में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, इनको मंच देने और तलाशने का जिम्मा मध्यप्रदेश महिला फुटबाल टीम की कोच ललिता सैनी ने बखूबी अंजाम दिया है। जिनके कारण शहर की प्रतिभाओं को प्रदेश ही नहीं देश में खेलने का अवसर प्राप्त हुआ है। उनके विशेष प्रयासों से गत दिनों इंदौर में आयोजित चयन शिविर के दौरान शहर की प्रतिभाशाली फुटबाल खिलाड़ी शिवानी गौर जो मिड हाफ पोजिशन में कई बार मध्यप्रदेश टीम के लिए खेली है, इसके अलावा मधु राघव का चयन भी नेशनल फुटबाल टीम के लिए हुआ है। शिवानी गौर ने अब तक उडीसा, असम, केरल, तमिलनाडू और उत्तराखंड आदि में नेशनल में उम्दा प्रदर्शन किया है। इसके अलावा आधा दर्जन से अधिक बार मधु राघव ने उडीसा, गोवा, गुजरात, कर्नाटक तमिलनाडू, केरल और राजस्थान आदि में शानदार प्रदर्शन किया है। यह गौरव का विषय है कि हमारे शहर का नाम रोशन करने वाली ललिता सैनी द्वारा लगातार 15 दिनों तक इंदौर में मध्यप्रदेश की टीम ने प्रशिक्षण प्राप्त किया है और कोच ललिता के नेतृत्व में टीम केरल में रवाना हो गई है। इस टीम की जिम्मेदारी भी शहर की बेटी शिवानी गौर को मिली है। श्री व्यास ने बताया कि मध्यप्रदेश महिला फुटबाल टीम का पहला मैच रविवार को उत्तराखंड, दूसरा मैच 30 नवंबर को मिजोरम और 2 दिसंबर को तीसरा मैच केरल से खेला जाएगा। शिवानी गौर और मधु राघव के चयर पर विधायक सुदेश राय, कलेक्टर चंद्रमोहन  ठाकुर, पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी, मध्यप्रदेश फुटबाल एसोसिएशन के संरक्षक पूर्व विधायक रमेश सक्सेना, जिला फुटबाल एसोसिएशन के चेयरमैन अखिलेश राय, एसोसिएशन के अध्यक्ष शशांक सक्सेना, सुदीप व्यास, कमलेश अग्रवाल, मधुर विजयवर्गीय, हिमांशु राय, खेल अधिकारी अरविन्द इलियाजर, मनोज कन्नोजिया, मनोज दीक्षित मामा, अत्ता उल्ला खान, अरुणा पारे, नारायण कुशवाहा, शैलेन्द्र पहलवान, शैलेन्द्र चंदेल, शैलेन्द्र चौहान, अरुण राठौर, आनंद उपाध्याय, कमल पहलवान, वीरु वर्मा, मनोज अहिरवार आदि शामिल है। 


आत्मरक्षा के लिए कराटे एक अच्छा विकल्प है- कलेक्टर श्री ठाकुर

  • कलेक्टर ने किया कराटे खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन

sehore news
बेटियों के लिए आत्मरक्षा के लिए कराटे एक अच्छा विकल्प है इसे सीखना चाहिए। इसके अलावा भी शारीरिक मानसिक विकास के लिए खेल बहुत आवश्यक है। यह बात कलेक्टर श्री चंद्रमोहन ठाकुर ने कराटे एसोसिएशन द्वारा आयोजित आयोजित कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि शारीरिक शिक्षा भी बहुत आवश्यक है यह सभी बच्चों को दी जानी चाहिए। एसोसिएशन द्वारा बजरंग कालोनी में मास्टर ऑफ ताओ कराटे एसोसिएशन द्वारा नौवीं नेशनल कराटे प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता के पहले दिन महिला वर्ग में ओपन कराटे प्रतियोगिता में नंदनी चौहान ने गोल्ड हासिल किया। प्रतियोगिता के पहले दिन सात वर्ष से नौ वर्ष की आयु वर्ग में मित राज ने गोल्ड, 10 वर्ष से 12 वर्ष की आयु वर्ग में भूमिका, 13 से 15 वर्ष की आयु वर्ग में जिज्ञासा, 16 वर्ष से 18 वर्ष की आयु वर्ग में अन्वेशा और ओपन कराटे प्रतियोगिता में नंदनी चौहान ने शानदार खेला का प्रदर्शन करते हुए गोल्ड हासिल किया। प्रतियोगिता का दूसरा चरण रविवार को खेला जाएगा।


न्यायालय द्वारा फर्जी एसडीएम को कारावास एवं अर्थदण्ड की सजा


न्यायालय के विशेष न्यायाधीश श्री संजय कुमार शाही ने नकली एसडीएम  होशंगाबाद निवासी मुकेश सिंह राजपूत को 04 वर्ष का कठोर कारावास एवं 1000 रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया किया। जमुनिया खुर्द से संबंधित कार्य होने के कारण तहसीलदार द्वारा मुकेश सिंह को दोराहा भेज दिया था। "सिंह ने कार्यालय में आकर परिवादी नायब तहसीलदार कुलदीपक दुबे को अपना परिचय एसडीएम भोपाल के रुप में दिया। मुकेश राजपूत ने नायब तहसीलदार कुलदीपक दुवे को वर्ष 2013 बैच का एमडीएम होना बताते हुए ग्राम जमुनिया खुर्द की भूमि खसरा क्रमांक-1/29 रकवा 5 एकड़ का नामान्तरण जल्द करने के लिए कहा और कहा कि अगर नामान्तरण हीं किया तो वह उन्हें सम्पेंड करवा देगा। मुकेश ने धमकाते हुए यह भी कहा कि यहां से हटवा देगा। साथ ही भोपाल कलेक्टर व कमिश्नर से बात करने को कहा तो तब परिवादी कुलदीपक दुबे को संदेह होने पर उन्होने भोपाल से पता किया तो पता चला कि इस नाम का कोई एसडीएम, भोपाल में पदस्थ नहीं है। मुकेश सिंह के पास बोलेरो जीप क्रमांक एमपी 04 बीए-0992 जिस पर एमडीएम लिखी एक पट्टी लगी थी तथा नीली बत्ती लगी थी। मुकेश राजपूत के साथ सरवत जैदी पिता अली कौशल, साहिल रिजवी पिता ताज रिजवी एवं भागवत साहू मौजूद थे। मुकेश सिंह राजपूत दवाव बनाकर व फर्जी पद का नाम का उपयोग कर शासन द्वारा प्रदत्त अहस्तान्तरणीय जमीन ग्राम जमुनिया खुर्द खसरा क्रमांक- 1/29 का नामान्तरण करवाना चाहता था,  इसके लिए फर्जी पद नाम का सहारा लेकर धमकी दी। मुकेश सिंह राजपूत एवं उसके साथ आये तीनों व्यक्तियों को बोलेरो गाड़ी सहित कार्यालय के स्टाफ यशवन्त वर्मा, रसीद खां व चौकीदार दिनेश व जीवन की मदद से थाना लेकर गया। परिवादी द्वारा शिकायत आवेदन दिए जाने पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की गई। साक्ष्य न मिलने पर न्यायालय द्वारा शेष आरोपियों को दोषमुक्त किया जा चुका है। शासन की ओर से पैरवी श्रीमती शाहना रहीश, अपर लोक अभियोजक, जिला सीहोर द्वारा न्यायालय के समक्ष अभिलेख पर आई साक्ष्य से सहमत होकर आरोपी को दंडित किया गया।


नसबंदी पखवाड़ा शिविर में किया गया 86 हितग्राहियों का ऑपरेशन


sehore news
पुरूष नसबंदी पखवाड़ा 21 नवबंर से 04 दिसंबर तक आयोजित किया जा रहा है। इस पखवाड़े के तहत सिविल अस्पताल आष्टा एवं नसरूल्लागंज में शुक्रवार को विशेष नसबंदी शिविर आयोजित कर 86 हितग्राहियों की नसबंदी की गई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि आयोजित शिविर में सिविल अस्पताल इछावर से 26 महिला तथा 05 पुरूष हितग्राहियों की नसबंदी संपन्न की गई। इसके साथ ही सिविल अस्पताल नसरूल्लागंज में 52 महिला हितग्राहियों की नसबंदी परिवार कल्याण कार्यक्रम के तहत की गई। जिला चिकित्सालय में 03 महिला हितग्राहियों की सीटीटी नसबंदी की गई। मिशन परिवार विकास कार्यक्रम के तहत पुरूषों के नसबंदी कराने पर हितग्राही पुरूष को 3 हजार रूपए तथा प्रेरक के 400 रूपये उनके खाते में प्रदान किए जाते है। प्रसव के 7 दिवस के भीतर नसबंदी कराने पर हितग्राही महिला को 3 हजार रूपये तथा प्रेरक को 400 रूपये प्रदान किए जाते है।  महिला नसबंदी सामान्य समय में कराने पर हितग्राही महिला को 2 हजार रूपए तथा प्रेरक को 300 रूपये उनके खाते में डीबीटी के माध्यम से प्रदान किए जाते है। परिवार कल्याण के अस्थायी साधन अंतरा इंजेक्शन लगाने पर 100 रूपए प्रोत्साहन राशि तथा पीपीआईयूसीडी लगाने पर 300 रूपये हितग्राही महिला को प्रदान किए जाते है।


लार्वा नष्ट करने डाली जा रही गम्बूशिया मछली


sehore news
जिले के समस्त विकासखण्ड में डेंगू एवं मलेरिया से बचाव के लिए व्यापक जनजागरूकता अभियान संचालित कर तालाबों और पानी से भरे गढ्ढों में लार्वा भक्षी गम्बूशिया मछली डाली जा रही है। इसके साथ ही लार्वा सर्वें तथा लार्वा नष्ट करने का अभियान बडे़ पैमाने संचालित किया जा रहा है। जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे ने जानकारी देते हुए बताया कि संवेदनशील क्षेत्रो में लार्वा का घर-घर पहुंचकर सर्वे मलेरिया विभाग के दल द्वारा किया जा रहा है।इसके लिए पंचायत के सचिव, सहायक सचिव, आशा व आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की भी मदद ली जा रही है। लोगों को मच्छरों से बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में भी समझाइश दी जा रही है।


खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य पर बैंक लिंक खातों में किसानों को भुगतान


खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान एवं मोटा अनाज के समर्थन मूल्य का भुगतान किसानों को उनके आधार लिंक बैंक खाते में करने की व्यवस्था की गई है। ई-उपार्जन में पंजीकृत किसानों के आधार नम्बर से लिंक बैंक खातों के सत्यापन करने के लिए किसान पंजीयन में दर्ज आधार नम्बर से लिंक बैंक खाते में एक रूपये का ट्रान्जेक्शन किया जाएगा एवं जिस बैंक खाते में ट्रान्जेक्शन सफल होगा उसी बैंक खाते में समर्थन मूल्य का भुगतान किया जाएगा। बैंक खाते की जानकारी एसएमएस  के माध्यम से किसान को दी जाएगी। जिन किसानों के बैंक खाते आधार से लिंक न होने के कारण ट्रान्जेक्शन विफल होगा, उन किसानों को अपना आधार लिंक बैंक खाता ई-उपार्जन पोर्टल पर दर्ज कराने हेतु एसएमएस  के माध्यम से सूचित किया जाएगा। किसान से सही आधार लिंक बैंक खाते की जानकारी प्राप्त करने के लिए किसानों के आधार लिंक बैंक खाते में संशोधन या सही बैंक खाता पोर्टल पर दर्ज करने की सुविधा शाखा प्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक एवं DSC/DSO के लॉगिन में उपलब्ध है। किसान को आधार नम्बर सत्यापन हेतु उपार्जन केन्द्र पर उपस्थित ऑपरेटर से आधार एवं मोबाईल नम्बर का मिलान पोर्टल पर दर्ज आधार नम्बर एवं मोबाईल नम्बर से कराना होगा। त्रुटिपूर्ण नम्बर दर्ज होने पर ऑपरेटर द्वारा सही मोबाइल नम्बर पर ओटीपी भेजकर आधार एवं मोबाइल नम्बर को खाते से लिंक किया जाएगा। किसान द्वारा पंजीयन में दी गई जानकारी एवं आधार में दर्ज जानकारी का मिलान पोर्टल पर ऑटोमेटेड व्यवस्था से किया जाएगा। पंजीयन एवं आधार डाटाबेस में किसान के विवरण में भिन्नता होने सत्यापन विफल अथवा मिलान होने पर सफल प्रदर्शित होगा। किसानवार रिपोर्ट पोर्टल पर उपलब्ध है।                                        


आधार लिंक खाते में सीधे जमा होगी अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति


अल्पसंख्यक छात्रवृति योजनाएँ वर्ष 2021-22 के लिये विद्यार्थियों की स्वीकृत छात्रवृत्ति की राशि का भुगतान सीधे विद्यार्थियों के केवल आधार सीडेड बैंक खाते में ऑनलाइन हस्तांतरित की जाएगी। विद्यार्थी ने अपने ऑनलाइन आवेदन में अन्य बैंक खाते की जानकारी क्यों न भरी हो। विद्यार्थी का आधार सीडेड बैंक खाता सक्रिय मोड में होना अनिवार्य है ताकि छात्रवृत्ति का भुगतान विफल न हो। जिन विद्यार्थियों द्वारा अपने आवेदनों को भारत सरकार के छात्रवृत्ति पोर्टल पर बिना आधार के रजिस्टर कर ऑनलाइन आवेदन भरा गया है ऐसे प्रकरणों में नवीन छात्रवृत्ति अंतर्गत केवल आधार पंजीयन हेतु छात्रवृत्ति पोर्टल पुनः 31 दिसम्बर 2021 तथा नवीनीकरण छात्रवृत्ति अंतर्गत केवल आधार पंजीयन हेतु छात्रवृत्ति पोर्टल पुन: 15 जनवरी 2022 तक खोला जाएगा। भारत सरकार द्वारा विद्यार्थियों को पोर्टल पर दर्ज किये गये मोबाइल नम्बर पर एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जाएगी। इसके संबंध में व्यापक प्रचार-प्रसार कर जिले में मान्यता प्राप्त समस्त शैक्षणिक संस्थाओं को सूचित किया जाए। साथ ही शैक्षणिक संस्था के एल-1 के लिए अधिकृत नोडल अधिकारी से व्यक्तिगत अथवा दूरभाष पर संपर्क कर संस्था में अध्ययनरत विद्यार्थियों से वांछित कार्यवाही पूर्ण कराई जाना सुनिश्चित की जाएगी।


कोविड-19 महामारी के कारण माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिए पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना


कोविड-19 महामारी के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिए भारत सरकार द्वारा पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना प्रारंभ की गई है। जिले के ऐसे बालक-बालिका जिनकी आयु 18 वर्ष से कम है एवं जिन्होंने कोविड-19 के कारण 11 मार्च 2020 के बाद अपने माता-पिता या कानूनी अभिभावक अथवा दत्तक माता-पिता या जीवित माता-पिता को खो दिया है, उन्हें योजना के तहत सहायता प्रदान की जाएगी। योजना के तहत पुलिस विभाग, पंचायत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, सामाजिक न्याय विभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, जनअभियान परिषद, महिला एवं बाल विकास विभाग, चाइल्ड लाइन सभी के सहयोग से पात्र बच्चों के चिन्हांकन की कार्यवाही की जा रही है। योजना के तहत पात्र बच्चे की जानकारी https://pmcaresforchildren.in  पोर्टल पर रजिस्टर की जाएगी।


प्रदेश की प्रगति के आँकड़ों की स्पष्ट झलक मिली राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे में बच्चों के कुपोषण की दर में आई 29.3 प्रतिशत की उल्लेखनीय कमी, प्रदेश में लिंगानुपात हुआ और भी बेहतर - मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में सम्मिलित प्रयासों से नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे-5 की रिपोर्ट में मध्यप्रदेश में लिंगानुपात बेहतर होकर वर्ष 2020-21 में प्रति 1000 बेटों पर 956 बेटियाँ पर पहुँच गया है। वर्ष 2015-16 में प्रति एक हजार बेटों पर बेटियों की संख्या 927 थीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने लाड़ली लक्ष्मी योजना के माध्यम से बेटियों को सशक्त और आत्म-निर्भर बनाने के लिए हर संभव प्रयास किए हैं। बेटी बोझ न लगे इसके लिए उनके जन्म से लेकर शिक्षा और विवाह तक की हर जिम्मेदारी अभिभावक बनकर सरकार उठा रही है।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ट्वीट किया - "समाज के सशक्तिकरण के लिए नारी का सशक्त होना भी जरूरी है। आइये, हम सभी बेटियों को खुले आसमान में उड़ने दें, उन्हें कैद न करें। वह हमारा आने वाला कल हैं, उम्मीद हैं, उन्हें हौंसला दें और  उन्हें इस जहाँ में आने दें।" मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश की जागरूक जनता और संबंधित विभागों द्वारा किए जा रहे महत्वपूर्ण प्रयासों के लिए बधाई दी। उन्होंने बेटियों के महत्व को इन पंक्तियों में प्रस्तुत किया..


बेटियाँ अभिमान हैं, ईश्वर का वरदान हैं, बेटी जैसा न कोई दूजा,बेटियाँ है तो सारा जहाँ है।

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे-5 के आँकड़ों में प्रदेश में हुई प्रगति की स्पष्ट झलक दिखाई देती है। हाल ही में जारी राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे-5 के आँकड़ों में प्रदेश ने वर्ष 2015-16 के राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे-4 के मुकाबले अनेक क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रगति प्राप्त की है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा एनएफएचएस-5 (राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे-5) वर्ष 2020-21 के जारी आँकड़ों में प्रदेश में 5 वर्ष तक आयु वर्ग के बच्चों में सभी प्रकार के कुपोषण की दरों में कमी आई है। प्रदेश में एनएफएचएस-4 वर्ष 2015-16 की तुलना में सर्वे-5 में राष्ट्रीय औसत से भी अधिक सुधार हुआ है। प्रदेश में विभागीय योजनाओं के समन्वित एवं प्रभावी क्रियान्वयन से अति गंभीर कुपोषण में 29.3 प्रतिशत कमी आई है। देश के अन्य प्रदेशों की तुलना में प्रदेश की स्थिति में 13 रैंक का सुधार हुआ है। प्रदेश 30वें स्थान से 17वें स्थान पर आ गया है। जहाँ देश में अति गंभीर कुपोषण 2.7 प्रतिशत बढ़ा है, वहीं मध्यप्रदेश में 29.3 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई है। दुबलेपन (वेस्टिंग) में प्रदेश अन्य राज्यों में सुधार के क्रम में तीसरे स्थान पर है। देश में 8.1 प्रतिशत का सुधार हुआ है, जबकि मध्यप्रदेश में 26.4 प्रतिशत का सुधार हुआ है। पूर्व में एनएफएचएस-4 में प्रदेश 32वें स्थान पर था, जो अब 24वें स्थान पर आ गया है। इस प्रकार 8 स्थान का सुधार हुआ है। कम वजन श्रेणी में सुधार में प्रदेश देश में द्वितीय स्थान पर है। देश में 10.3 प्रतिशत का सुधार हुआ है, जबकि मध्यप्रदेश में 22.9 प्रतिशत का सुधार हुआ है। पूर्व में एनएफएचएस-4 में प्रदेश 33वें स्थान पर था, अब 31वें स्थान पर आ गया है। इस प्रकार 2 स्थान का सुधार हुआ है। ठिगनेपन में अधिकतम सुधार करने वाले राज्यों में मध्यप्रदेश छठवें नंबर पर हैं। देश में 7.8 प्रतिशत का सुधार हुआ है, जबकि प्रदेश में 15 प्रतिशत का सुधार हुआ है। पूर्व में एनएफएचएस-4 में प्रदेश 32वें स्थान पर था, जो अब 30वें स्थान पर आ गया है। इस प्रकार प्रदेश की रैंकिंग में 2 स्थान का सुधार हुआ है। बाल विवाह की दर में देश में 13.1 प्रतिशत की गिरावट आई है, जबकि प्रदेश में 28.7 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। इसके अतिरिक्त जन्म के समय लिंगानुपात में देश में 1.1 प्रतिशत का सुधार हुआ, जबकि प्रदेश में 3.1 प्रतिशत का सुधार दर्ज हुआ है।


आईटीआई में प्रवेश हेतु सीएलसी राउंड के तहत रजिस्ट्रेशन एवं च्वाईस फिलिंग प्रारंभ


प्रदेश के सभी शासकीय आईटीआई के संचालित व्यवसायों में प्रवेश सत्र 2021 की रिक्त सीटों के लिए सीएलसी राउंड के तहत नवीन रजिस्ट्रेशन, च्वाईस फिलिंग कर प्रवेश की कार्यवाही 25 नवम्बर से 30 नवम्बर 2021 तक एमपी ऑनलाईन के माध्यम से की जा रही है। प्रवेश के लिए च्वाईस फिलिंग उपरांत संबंधित संस्था के प्राचार्य द्वारा मैरिट अनुसार प्रतिदिन दोपहर 02 बजे के बाद प्रवेश की कार्यवाही की जाएगी। आवेदक द्वारा जिस दिन स्पॉट रजिस्ट्रेशन एवं च्वाईस फिलिंग की गई है, उस दिन दोपहर 02 बजे के बाद आवेदक को प्रवेश प्राप्त करने के लिए संबंधित संस्था में अनिवार्य रूप से उपस्थित होना होगा। यदि आवेदक निर्धारित अवधि में संबंधित संस्था में उपस्थित नहीं होता है तो उसका प्रवेश संबंधित संस्था नहीं हो पाएगा। प्रत्येक दिवस में नई च्वाईस फिलिंग मान्य होगी। जिसमें पिछले दिवस में की गई च्वाईस फिलिंग रात्रि 12 बजे निरस्त कर दी जाएगी। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए नजदीकी शासकीय आईटीआई में सम्पर्क किया जा सकता है। इच्छुक आवेदक 30 नवम्बर के पूर्व जिले के शासकीय आईटीआई में रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए एमपी ऑनलाईन के माध्यम से आवेदन कर संस्था में उपस्थित होकर प्रवेश प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं।


कमिश्नर, कलेक्टर वीडियो कॉफ्रेंसिंग 29 नवम्बर को


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में 29 नवम्बर को प्रातः 11 बजे से मध्यप्रदेश के कमिश्नर, कलेक्टर, पुलिस महानिरीक्षक एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियों कांफ्रेंसिंग आयोजित की गई है। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रदेश में माफिया के विरूद्ध कार्यवाही, महिला अपराध एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा, प्रधानमंत्री शहरी पथविक्रेता स्वनिधि एवं मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना की प्रगति की समीक्षा की जाएगी। इसके साथ ही बैठक में कोविड-19 टीकाकरण अंतर्गत द्वितीय डोज लगाने की कार्यवाही, सीएम हेल्पलाइन अंतर्गत प्रकरणों के निराकरण, सीएम राईज योजना का प्रस्तुतीकरण, मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का प्रस्तुतीकरण, मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना का प्रस्तुतीकरण, मध्यप्रदेश सिकल सेल अर्थात हीमोग्लोबिनोपैथी मिशन से संबंधित प्रेजेन्टेशन दिया जाएगा।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या10021  हैं। आज 528 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 112, श्यामपुर से 145, नसरूल्लागंज 39, आष्टा से 147, तथा बुधनी से 50 एवं इछावर से 35 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 302295 हैं। जिनमें से 290183 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 462सेंपलो की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1898 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


पशु एवं मछली पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड 15 फरवरी तक जारी होंगे, अभियान में मध्यप्रदेश के 16 लाख किसानों को मिलेगा लाभ


अपर मुख्य सचिव पशुपालन एवं डेयरी विभाग श्री जेएन कंसोटिया ने जानकारी देते हुए बताया कि केन्द्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय द्वारा 15 नवम्बर 2021 से 15 फरवरी 2022 तक ष्नेशनवाइड एनिमल हस्बेंडरी डेयरी एवं फिशरीज़ केसीसी केम्पैन चलाया जा रहा है। प्रदेश में भी केसीसी अभियान शुरू किया गया है। इसमें पशुपालन गतिविधियों के लिये प्रदेश के 16 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिये सभी संभागायुक्त और कलेक्टर्स को दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं। केसीसी अभियान में प्रदेश के सभी पात्र पशुपालकों और दुग्ध उत्पादक संगठनों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराए जाएँगे। श्री कंसोटिया द्वारा प्रत्येक शुक्रवार को शिविर आयोजित कर जाँच-परख कर आवेदन स्वीकार करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि पशुपालकों की जागरूकता और अभियान के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिये आत्मा (एग्रीकल्चर टेक्नालॉजी मेनेजमेंट एजेंसी), कृषि विज्ञान केन्द्र, एसआरएलएम, एनआरएलएम, पंचायत, कृषि, राजस्व विभाग की भी मदद ली जाए।


जनजातीय समाज की मांगों और अपेक्षाओं पर  सकारात्मक रूप से विचार किया जाएगा - मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान का जनजातीय संगठनों ने माना आभार

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार जनजातीय समाज के सामाजिक, शैक्षणिक और आर्थिक सशक्तिकरण के लिए कृत-संकल्पित है। जनजातीय भाई-बहन देश के पुनर्निर्माण में अपना योगदान दे रहे हैं। जनजातीय भाई-बहनों की मांगों और आकांक्षाओं पर गंभीरता से विचार कर सकारात्मक रूप से कदम उठाए जाएँगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान निवास पर जनजातीय संगठनों के प्रतिनिधियों से भेंट कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान का जनजातीय संगठनों के प्रतिनिधियों ने पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम परिवर्तित कर जननायक टंट्या भील रेलवे स्टेशन करने की अनुशंसा करने के लिए आभार माना। इसके साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मानपुर और इंदौर में खंडवा रोड के भंवरकुआं चौराहे का नामकरण जननायक टंट्या मामा भील पर करने और पातालपानी स्थित जननायक टंट्या भील की समाधि स्थल के मंदिर का जीर्णोद्धार करने घोषणा की तथा इंदौर में निर्माणाधीन आईएसबीटी बस स्टैंड का नामकरण जननायक टंट्या भील बस स्टैंड करने के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान का आभार माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान से जनजातीय संगठनों ने महू में जनजाति गौरव केंद्र की स्थापना करने का अनुरोध किया। इसमें टंट्या मामा भील का जीवन परिचय, चित्रकला, ऑडियो- वीडियो माध्यमों से प्रदर्शित करने और जनजाति समाज के सभी महापुरुष, क्रांतिकारी, राष्ट्रीय नायकों की चित्र प्रदर्शनी तथा जनजाति समाज की परंपराओं, रीति-रिवाज, वेशभूषा, संस्कृति, कलाकृति, वाद्य यंत्र, शस्त्र-अस्त्र प्रदर्शित करने का अनुरोध भी किया। जनजातीय संगठनों ने देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर में जनजातीय शोध पीठ की स्थापना तथा मालवा के जनजातीय क्षेत्र के लिए जनजाति शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान आरंभ करने का निवेदन भी किया। यह संस्थान वन संवर्धन, वनोपज और उसके वैल्यू एडिशन, मार्केटिंग इत्यादि विषयों पर शोध और प्रशिक्षण सुविधा उपलब्ध कराएगा। संगठनों ने निवेदन किया कि इन गतिविधियों से जनजातियों के सामाजिक सशक्तिकरण के साथ-साथ आर्थिक उन्नयन का मार्ग प्रशस्त होगा।


वर्ष 2022 के लिए शासकीय अवकाश घोषित                                                                                                     


राज्य शासन द्वारा वर्ष 2022 के लिए शासकीय अवकाश दिवसों की अधिसूचना 16 नवम्बर, 2021 (क्रमांक-450) को असाधारण राजपत्र में जारी की गयी है। यह अधिसूचना वेबसाइट www-govtpressmp-nic-in  पर उपलब्ध है।


30 नवम्बर तक दावे और आपत्ति आमंत्रित


भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 01 जनवरी 2022 के मान से फोटो निर्वाचनक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2022 का प्रारूप प्रकाशन 01 नवम्बर, 2021 को किया जा चुका है। आयोग के द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 01 नवम्बर, 2021 से 30 नवम्बर, 2021 तक दावे और आपत्ति दर्ज करने की तिथि निर्धारित है। इस अवधि में ऐसे मतदाता जिनकी आयु 18 वर्ष पूर्ण हो चुकी है। अपना नाम क्षेत्र बी.एल.ओ. से फार्म प्राप्त कर अपना नाम वोटर लिस्ट में जुड़वा सकते है। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष पूर्ण करने वाले मतदाता अपना नाम जुड़वाने के लिए प्राप्त सुविधा का लाभ उठाये। इसके लिए बी.एल.ओ. के माध्यम से फॉर्म 6 भर सकते है।   जिले के प्रत्येक मतदान केन्द्रों पर 30 नवम्बर तक फोटो मतदाता सूची प्रदर्शित की जाएगी। मतदाता सूची के अवलोकन से यह सुनिश्चित कर सकते है कि मतदाता का नाम मतदाता सूची में है या नही। यदि है तो उसमें कोई गलती तो नही है। यदि कोई गलती है तो फॉर्म 8 भरकर गलती को सुधरवा सकते हैं। इसके अतिरिक्त नए वोटर कार्ड के लिए फार्म 6 भरकर उसके अपने पता आयु संबंधी दस्तावेज संलग्न कर वे बीएलओ को जमा करें। बीएलओ मतदाता को नवीन परिचय पत्र तैयार कराकर देंगे। साथ ही ऐसे मतदाता जो नाम संबंधी का नाम आयु एवं पता में संशोधन कराना चाहता है, वह फार्म-8 भरकर सुधार संबंधी आवश्यक दस्तावेज लगाकर संशोधन कराये जाने हेतु फॉर्म-8 बी.एल.ओ. को जमा कर सकता है।जो मतदाता अन्य जगह चले गये है वह मतदाता सूची से नाम हटवाने हेतु फार्म-7 भरकर दे सकते है।और ऐसे मतदाता जिनकी मृत्यु हो चुकी है उनके परिवार से बीएलओ नोटिस देकर हटाने की कार्यवाही कर सकता है।


नेशनल स्कॉलरशिप आवेदन की अन्तिम तिथि 30 नवम्बर तक                                     


पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग द्वारा कमजोर अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के लिये नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन-पत्र आमंत्रित किये गये हैं। आवेदन-पत्र की अन्तिम तिथि 30 नवम्बर 2021 है। प्री-मैट्रिक कक्षा एक से 10वीं एवं पोस्ट मैट्रिक कक्षा 11वीं एवं 12वीं के लिये स्कूल शिक्षा विभाग के शासकीय अथवा अशासकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले विद्यार्थी www.scholarships.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं: