लोगों को लाइन में लगाने वाली भाजपा की विदाई तय : अखिलेश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 12 दिसंबर 2021

लोगों को लाइन में लगाने वाली भाजपा की विदाई तय : अखिलेश

bjp-will-depart-from-up-akhilesh
लखनऊ 12 दिसंबर, समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को कहा कि नोटबंदी और डीएपी खाद समेत तमाम मौकों पर लोगों को लाइन में लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मतदाता आने वाले चुनाव में लाइन में लग कर बाहर का रास्ता दिखायेंगे। बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी,पूर्व सभापति गणेश शंकर पांडेय और पूर्व सांसद भीमशंकर तिवारी समेत बसपा,कांग्रेस के कई नेताओं को सपा की सदस्यता दिलाने के मौके पर अखिलेश ने पत्रकारों से कहा कि अंग्रेजों ने बांटो और राज करो की नीति पर चलकर देश पर शासन किया था जबकि भाजपा उससे दो कदम आगे चलकर लोगों को डरा धमका कर और मार कर राज करना चाहती है। भाजपा की समाज को बांटने और नफरत फैलाने वाली राजनीति को जनता समझ चुकी है और आने वाले चुनाव में उसका सफाया करने के लिये तैयार है। उन्होने कहा कि योगी आदित्यनाथ को जनता ने यूपी का मुख्यमंत्री इसलिये बनाया था कि प्रदेश खुशहाली और तरक्की के रास्ते पर आगे जाये मगर बाबा मुख्यमंत्री ने जाति धर्म देखकर काम किया। सरकार को अपने संकल्प पत्र में किये गये वादों की भी याद नहीं रही। टेबलेट, लैपटाप,वाईफाई समेत तमाम चीजों काे युवाओं को मुफ्त दिलाने का वादा झूठा साबित हुआ। सरकार की परीक्षा की घड़ी पास आ चुकी है और जनता इस बार भाजपा सरकार को फेल करने को तैयार बैठी है। अखिलेश ने कहा कि भर्तियों में स्टे,बरोजगारी,भटकते शिक्षा मित्र और वह किसान जिनके लिये सरकार ने कीले बिछायी, ट्रैक्टरों से रौंदा, उन सब गल्तियों का हिसाब सरकार को देना होगा। पराली के मुकदमे तो वापस हुये मगर पराली जलाने पर कोई फैसला नहीं हुआ। नदियां अब भी गंदी है। सडकों पर गड्ढे है। सरकार ने नोटबंदी पर, कोरोना काल में बेडो के लिये,डीएपी खाद के लिये किसान और आम लोगों को लाइन में लगवा दिया। पेट्रोल,डीजल,खाद तेल समेत तमाम जरूरी चीजों पर महंगाई से आम आदमी त्रस्त है। सरकार को आने वाले चुनाव में इसका हिसाब देना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: