बिहार : जब नीतीश ने महिला विधायक के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 दिसंबर 2021

बिहार : जब नीतीश ने महिला विधायक के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल किया

nitish-to-women-bjp-mla
पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेतुके बयानों ने एक बार फिर उनके लिए मुश्किल खड़ी कर दी है. अभी पिछले सप्ताह ही शराबबंदी के नाम पर बिना महिला पुलिस के शादी समारोह में दुल्हन के कमरे की तलाशी लेने की घटना को उन्होंने सही करार दे कर एक विवाद को जन्म दिया था.  इसके बाद एक बार फिर नी​तीश ने मुसीबत मोल ले ली है. इस बार उन्होंने सोमवार को हुई एनडीए विधायक दल की बैठक में भाजपा की महिला विधायक निक्की हेम्ब्रम के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल किया है. जिसके बाद न केवल उन्हें कुछ विधायकों का विरोध झेलना पड़ा, बल्कि खुद बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल को बीच बचाव के लिए उतरना पड़ा. 


इस ताजा विवाद बांका जिले के कटोरिया विधानसभा क्षेत्र की विधायक डा. निक्की हेम्ब्रम से संबंधित है.सोमवार को एनडीए विधायक दल की बैठक में हुई. दरअसल इस बैठक में निक्की हेम्ब्रम ने महुआ की खेती में लगे लोगों के लिए वैकल्पिक रोजगार का मुद्दा उठाया. जिसके बाद नीतीश कुमार ने उन्हें बीच में टोकते हुए बोलना शुरू किया कि आप इतनी सुंदर हैं, लेकिन आपको मालूम है कि आदिवासियों के लिए हमने क्या-क्या किया है और आपका विचार बिल्कुल उल्टा है. फिर उन्होंने ये भी कहा कि आप अपने विधान सभा क्षेत्र में नहीं जाती हैं. नीतीश कुमार का इतना कहना था कि बैठक में अधिकांश विधायक सन्न रह गए. उसके बाद मामला संभालने के लिए उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने निक्की हेम्ब्रम से बातचीत की ताकि यह बात मीडिया तक न पहुंचे, लेकिन मंगलवार शाम भाजपा विधायक दल में कई विधायकों ने निक्की हेम्ब्रम के प्रति मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लहजे और शब्दों के चयन पर विरोध जाहिर किया. इसके बाद मामले को शांत करने के लिए बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल को बीच-बचाव में ये कहना पड़ा कि वे पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व को इस बारे में अवगत कराएंगे. हालांकि अब माना जा रहा है कि नीतीश कुमार जल्द इस मसले नाराजगी खत्म करने के लिए निक्की हेम्ब्रम को चाय पीने पर बुला सकते हैं.

कोई टिप्पणी नहीं: