सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 07 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 7 दिसंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 07 दिसंबर

युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने किया कुईया का स्वागत


sehore news
सीहोर। भारतीय जनता युवा मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य चुने जाने पर युवा साथियों द्वारा कोतवाली चौराहा पर मंगलवार को हर्षोल्लास के साथ युवा भाजपा नेता निखिल कुईया का जोरदार स्वागत कर वरिष्ठ नेतृत्व का आभार व्यक्त किया और श्री कुईया को बधाई दी। स्वागत शुभासर पर सुदीप प्रजापति, सुनील राय, पम्पू  वर्मा, हरीश चौधरी, नट्टू राठौर, जितेंद्र यादव, आकाश रावत, विशाल पाटीदार, अभिषेक चौहान, योगेश पहलवान, विशाल राठौर, गोलू वर्मा, ऋषभ नाथ, मयंक, अभिषेक जोशी, राज सूर्यवंशी, ब्रज रजक, अनुकूल वर्मा, जीवन गौर आदि उपस्थित रहे।


विद्यालय में स्वेटर वितरण, छात्रों के खिले चेहरे


sehore news
सीहोर। शासकीय माध्यमिक शाला बराड़ी कला के समस्त छात्रों को बहुउद्देशीय सेवा समिति के द्वारा विद्यालय में स्वेटर वितरण किया गया। जिससे विद्यार्थियों के चेहरे पर मुस्कान नजर आई। इस मौके पर बहुउद्देशीय सेवा समिति के संतोष त्रिपाठी, नूतन त्रिपाठी एवं श्री खान द्वारा शाला में दर्ज समस्त छात्रों को निशुल्क गर्म स्वेटर का वितरण किया गया। कार्यक्रम में सरपंच संघ जिला अध्यक्ष एलम सिंह दांगी ग्राम के पटेल एवं जन शिक्षा केंद्र झरखेड़ा के जन शिक्षक कृष्णा माथनकर संस्था के प्रभारी भीकम सिंह राजपूत एवं समस्त शिक्षक एवं आंगनवाड़ी स्टाफ, ग्राम के अनेक पालकगण और समस्त छात्रों की गरिमामय उपस्थिति में समस्त बच्चों को गर्म स्वेटर समिति द्वारा निशुल्क वितरण किया गया संस्था की ओर से समिति का आभार व्यक्त किया गया। इस मौके पर सरपंच संघ के जिलाध्यक्ष श्री दांगी ने कहा कि विगत वर्ष कोरोना काल की विषम परिस्थियों में भी विद्यालय बंद होने के बावजूद शिक्षकों ने बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा सहित अनेक माध्यम से शिक्षा से जोड़े रखा। इसी के चलते शिक्षण कार्य अनवरत चलता रहा, लेकिन अब विद्यालय खुले हुए है और हर रोज विद्यार्थियों द्वारा अध्ययन किया जा रहा है। समिति के द्वारा विद्यार्थियों ठंड के मौसम में गर्म वस्त्रों का वितरण करना सेवा कार्य है। 


कोरोना की तीसरी लहर की संभावना, भाजपा युवा मोर्चा ने बाजार में नागरिकों को बांटे मास्क, दुकानदारों और ग्राहकों को दी कार्यकर्ताओं ने समझाईश


sehore news
सीहोर। भाजपा युवा मोर्चा के सैकड़ों कार्यकर्ता मंगलवार को सड़क पर उतरे और मुख्य बाजार में पहुंचकर दुकानदारों ग्राहकों रहगीरों को कोरोना वैरियंट और ओमिक्रोन वायरस से बचने के लिए मेडिकली मास्कों का वितरण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं विधायक सुदेश राय के निर्देशन में भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता नागरिकों के स्वास्थ्य हित में कोरोना की तीसरी लेहर प्रदेश में आने की संभावना के मददेनजर सक्रिय हो गए है। कोतवाली चौराहा पर भाजपा युवामोर्चा के कार्यकर्ता कोरोना गाईडलाईन का पालन करते हुए मास्क लगाकर सैनीटाईजर से हाथ साफकर और दोगज की दूरी बनाकर एकत्रित हुए। कार्यकर्ताओं ने कोतवाली चौराहा से लीसा टाकिज चौराहा तक की दोनों तरफ की दुकानों घरों पर पहुंचकर दुकानदारों नागरिकों और बाजार में खरीददारी करने पहुंचे ग्राहकों को मास्क लगाने खतरनाक वायरस से बचने के लिए सरकार और जिला प्रशासन के द्वारा दी गई गाईडलाईन का पालन करने की समझाईश दी। कार्यकर्ताओं ने नागरिकों से सर्दी जुखाम होने बुखार आने सहित अन्य घातक बीमारी के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाने ईलाज करने के लिए भी प्रोत्साहित किया। भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इस दौरान भाजपा की प्रदेश सरकार के द्वारा कोरोना महामारी से निपटने के लिए किए गए विशेष इंतजामों की जानकारी भी नागरिकों को दी। कार्यकर्ताओं ने कहा की नागरिकों को घवराने की जरूरत नहीं है जिला अस्पताल परिसर में विधायक सुदेश राय के प्रयास से ऑक्सीजन प्लांट और अमरिकन सर्वसुविधा युक्त वाडों को निर्माण भी किया जा चुका है। मास्क वितरण अभियान में युवामोर्चा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य निखिल कुईया, जिला मंत्री सुदीप प्रजापति, भाजपा युवा नेता सुनील राय, युवा नेता पम्पु आकाश वर्मा, हरीश चौधरी, आकाश रावत, विशाल पाटीदार, दिपांशु राठौर, मयंक जोशी, अभिषेक चौहान, जितेंद्र यादव, योगेश यादव,प्रदीप नागर, उमेश मेवाड़ा, विशाल राठौर, गोलू वर्मा, रिषभ नाथ, राज सूर्यवंशी, अरविंद राय, दीपक विश्वकर्मा, ब्रिज रजक, जीवन गौर, रोहित यादव अनिल, कुलदीप आदि कार्यकर्ता शामिल रहे। 


भारतीय जनता पार्टी सीहोर जिला अध्यक्ष रवि मालवीय ने जिले के सभी 19 मंडलों के प्रभारियों के नामों की घोषणा की जिला महामंत्री धारासिंह पटेल सीहोर नगर एवं राजकुमार गुप्ता आष्टा नगर मंडल के प्रभारी नियुक्त 


sehore-news
सीहोर। सीहोर जिला भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष रवि मालवीय ने भाजपा भोपाल संभाग की प्रभारी सुश्री कविता पाटीदार एवं सीहोर जिला भारतीय जनता पार्टी के प्रभारी  बहादुर सिंह मुकाती से विचार विमर्श कर सीहोर जिले के सभी 19 मंडलों के प्रभारियों के नामों की घोषणा की। सीहोर जिला भारतीय जनता पार्टी के जिला मीडिया प्रभारी सुशील संचेती ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि जिला अध्यक्ष रवि मालवीय ने सीहोर जिले के शाहगंज मंडल की श्रीमती सूर्या चौहान, बुधनी मंडल के रघुवीर सिंह चौहान, सलकनपुर मंडल के प्रभारी गुरुप्रसाद शर्मा, चकल्दी मंडल के राजेंद्रसिंह राजपूत,नसरुल्लागंज मंडल की श्रीमती निर्मला बारेला, गोपालपुर मंडल के जितेंद्र गौड़, लाडकुई मंडल के लखन यादव, इछावर मंडल के धर्मसिंह आर्य, बरखेड़ी मंडल के कैलाश सुराना, बिलकिसगंज मंडल के भूपेंद्र सिंह सिसोदिया, सीहोर नगर मंडल के धारासिंह पटेल, अहमदपुर मंडल के सीताराम यादव, श्यामपुर मंडल के अजीत सिंह, कोठारी मंडल की श्रीमती रीना मिश्रा, जावर मंडल के उमेश शर्मा एवं संध्या बजाज,मैना मंडल के नरेश मेवाडा, सिद्धिकगंज मंडल के देवजी पटेल एवं श्रीमति तारा कटारिया, आष्टा नगर मंडल के राजकुमार गुप्ता एवं आष्टा ग्रामीण मंडल के कल्याण सिंह ठाकुर को मंडल का प्रभारी नियुक्त किया है।


sehore news

टीकाकरण महा अभियान के तहत 326 टीकाकरण सत्र नियोजित, 40 हजार हितग्राहियों के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित


टीकाकरण महा अभियान के तहत जिले में बुधवार को कोविड वैक्सीनेशन के 326 सत्र नियोजित किए गए है। जिसमें 40 हजार का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि आष्टा के 57 सत्रों में 6518, बुदनी के 43 सत्रों में 4560, इछावर के 42 सत्रों में 4500, नसरूल्लागंज के 56 सत्रों में 12 हजार 111, शहरी सीहोर क्षेत्र में 25 सत्रों में 5000 तथा श्यामुपर विकासखण्ड में 103 सत्र आयोजित होंगे जिसमें 7311 हितग्राहियों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिले में 07 दिसंबर को 8000 हितग्राहियों का टीकाकरण किया गया।


जैसे-जैसे हम पढ़ते जाते हैं वैसे-वैसे आत्मविश्वास बढ़ता है-अपर जिला न्यायाधीश श्री दांगी

  • अपर जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अध्यक्षता में संपन्न हुआ विधिक शिविर

sehore news
सीहोर नगरपालिका के लाइब्रेरी में जिले के यूपीएससी और एमपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क कोचिंग प्रदान की जा रही है। अपर जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने छात्र-छात्राओं को विधिक सेवा से जुड़ी जानकारी प्रदान की। अपर जिला न्यायाधीश श्री दांगी ने विधिक सेवाओं और नियमों की जानकारी देते के साथ ही परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं को मार्गदर्शन दिया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आप जितना परिश्रम करेंगे उतना ही आत्मविश्वास बढ़ेगा। उन्होने कहा कि किसी भी लक्ष्य को पाने के लिए खुद पर विश्वास होना जरूरी है। लाइब्रेरी में विधिक सेवा जागरूकता शिविर भी आयोजित किया गया। उन्होंने कहा कि पीड़ितों के अधिकारों की रक्षा के लिए अनेक विधियां हैं। हम सभी को इन जरूरी और सामान्य विधियों की जानकारी होना चाहिए जिससे समय सीमा में न्याय मिल सके और जागरूक नागरिक होने के नाते पीड़ित को न्याय दिलवा सके। उन्होंने कहा कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पीड़ित व्यक्ति और उनके आश्रितों को निःशुल्क अधिवक्ता के साथ ही आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराता है। अपर जिला न्यायाधीश श्री दांगी ने यूपीएससी एवं एमपीपीएससी की निःशुल्क तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं के सवालों के जवाब विस्तार से दिए।


आरएके कृषि महाविद्यालय में विश्व मृदा दिवस मनाया गया


sehore news
आरएके कृषि महाविद्यालय में मृदा विज्ञान एवं कृषि रसायन शास्त्र विभाग के तहत गत दिवस विश्व मृदा दिवस आयोजित किया गया। कार्यक्रम में किसानों को विश्व मृदा वर्तमान परिपेक्ष्य में मृदा स्वास्थ्य में विभिन्न कारणों से आ रही गिरावट जैसे मृदा प्रदूषण, असंतुलित उर्वरक का उपयोग, अन्धाधुंध पेस्टीसाईड रसायनों का उपयोग कारणों की जानकारी दी। मृदा जीवांश कार्बन में आ रही गिरावट पर भी किसानों को सचेत किया। कार्यक्रम में प्रभारी अधिष्ठाता श्री पीएस रघुवंशी, डॉ. एससी गुप्ता ने किसानों को मृदा स्वास्थ्य के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर प्रगतिशील किसान श्री भोलाराम त्यागी एवं रामसिंह चौहान सहित पीजी, यूजी के छात्र, कालेज स्टॉफ एवं अनेक ग्रामीण क्षेत्रों के किसान उपस्थित रहे।


जिला जेल में कैदियो को दी गई एड्स नियंत्रण की जानकारी, एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के तहत कार्यशाला आयोजित


sehore news
एड्स दिवस तथा एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के तहत जिला जेल में एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। इस कार्यशाला में कैदियों को एड्स नियंत्रण एवं जागरूकता पर विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यशाला में बताया गया कि एड्स रोगियों के संबंध में भारत का दुनिया में चौथा स्थान है। हमेशा इंजेक्शन लगवाने के लिए नई सुई का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। परंतु एड्स कतई संक्रामक रोग नहीं है। एड्स रोगियों को छूने अथवा उनके साथ बैठने-उठने से यह नहीं फैलता है। समाज में फैली इन भ्रांतियों को दूर करना जरूरी है। संक्रमित व्यक्ति को लगाई गई सूई एवं इंजेक्शन लगाने से तथा असुरक्षित यौन संबंध बनाने से एड्स फैलता है। जेल में कैदियों की सहभागिता और सहयोग से रेड रिबन का मोनो जेल परिसर में फूलों तथा रांगोलियों से बनाया गया। प्रश्नमंच के दौरान कई कैदियो ने एड्स के संबंध में प्रश्न पूछकर जवाब प्राप्त किया। इस अवसर पर वैश्विक महामारी कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से बचने, पर्याप्त सावधानियां बरतने तथा कोविड टीके के दोनों डोज अनिवार्य रूप से लगाने की सलाह भी दी गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला एड्स नियंत्रण अधिकारी डा. जेडी कोरी तथा जेल अधीक्षक श्री संजय सहलाम, एड्स काउंसलर श्रीमती पुष्पा साहू, श्री कुलदीप तिग्गा एवं श्री तकेसिंह सोलंकी ने भी कैदियों को एड्स नियंत्रण पर विस्तार से जानकारी प्रदान की।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021  हैं। आज 689 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 223, श्यामपुर से 160, नसरूल्लागंज से 54, आष्टा से 172, बुधनी से 48 तथा इछावर से 32 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 307881 हैं। जिनमें से 295058 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 515 सैंपलो की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। कुल 2609 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


होम क्वारंटाइन व्यक्तियों के लिए कोविड-19 कमांड कॉल सेंटर


जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद के लिए जिला स्तरीय कोविड–19 कमाण्ड कॉल सेंटर बनाया गया है। जिसका संपर्क नंबर -07562-1075 है। जिला स्तर पर जिला कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर के मोबाइल नंबर 942540273, 7987652577, 9425400453 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है।  राज्य स्तर पर 104 या 181 नंबर पर कॉल करके भी टेलीनेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 24x7 हेल्पलाइन नंबर 104 पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती है। होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम क्वारटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस तथा साइकोलॉजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते हैं। मोबाईल मेडिकल यूनिट द्वारा होम आइसोलेट व्यक्तियों की सतत् निगरानी की जा रही है।


मुद्रण एवं प्रकाशन की जानकारी देना अनिवार्य


 त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021-22 के निर्वाचन की घोषणा उपरांत आदर्श आचार संहिता प्रभावशील हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार निर्वाचन पम्पलेटो, पोस्टरों आदि के मुद्रण एवं प्रकाशन को प्रतिबंधित करते हुए लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम-1951 की धारा-27 क के उपबंधों द्वारा विनिमित किया गया है। जिले में स्थित समस्त मुद्रणालय एवं उनके स्वामियों तथा प्रकाशको को आदेश प्रसारित किए है कि किसी भी पम्पलेट या पोस्टर मुद्रण, मुद्रित सामग्री पर मुद्रक तथा प्रकाशकों के नाम व पते का स्पष्ट रूप से उल्लेख किया जाए। यह भी कोई व्यक्ति किसी निर्वाचन पम्पलेट अथवा पोस्टर का मुद्रण नही करेंगे और ना ही मुद्रित करवाएंगे जब तक की प्रकाशको की पहचान की घोषणा उनके द्वारा हस्तांक्षरित तथा दो व्यक्ति जो उन्हें व्यक्तिगत रूप से जानते हो उनके द्वारा सत्यापित होना जरूरी है।    अनुबंध क में प्रकाशको से घोषणा प्राप्ति कर जिला निर्वाचन कार्यालय को भेजी जाएगी अनुबंध ख में मुद्रित सामग्री तथा घोषणा के साथ प्रिन्टर कागजातों की प्रतियों की संख्या मुद्रण के लिए वसूल की गई कीमत का ब्यौरा देना होगा। उक्त आदेशों का कढाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश प्रिन्टिग प्रेसो को जारी किए गए है यदि कही त्रुटि पाई जाती है तो राज्य के संगत कानूनो के तहत प्रिन्टिग प्रेस के लायसेंसो का प्रतिसंहरण भी हो सकता है।


शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अब घर-घर टीकाकरण अभियान


जिले को शत्-प्रतिशत टीकारण पूर्ण करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के अमले द्वारा पूरी मेहनत और लगन से कोविड टीकारण के लिए शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर कोविड टीके के बारे में समझाइश दे कर टीकारण करने प्रयास किया जा रहा है। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में स्वाथ्य विभाग की टीम जब घर पहुंचकर कोविड का टीका लगाया गया तो महिलाओं के चेहरे खिल उठे। खास बात है कि टीकारण के लिए जब टीम टीका लगाने पहुंची तो महिलाओं ने कहा कि उन्हें घर पहुंचकर टीका लगाया गया और टीकाकरण केन्द्र पर लाईन में नहीं लगना पड़ा। वहीं घर का कोई कार्य भी प्रभावित नहीं हो रहा है। दूसरा डोज के निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर टीकाकरण अभियान किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि एएनएम, स्टाफ नर्स, आशा, आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिकाओं का संयुक्त दल बनाकर घर-घर जा कर लोगों से टीके की जानकारी प्राप्त की जा रही है तथा छूटे हुए लोगों को टीका लगाया जा रहा है। जिससे हितग्राहियों में प्रसन्नता देखी जा रही है तथा उनके चेहरे खिले हुए है। इस कार्य में कई कठनाई भी आ रही है जैसे हितग्राहियों द्वारा प्रथम टीके दौरान जो मोबाइल नंबर पोर्टल पर इंट्री कराया था सेकण्ड डोज में नंबर का मिलान नहीं होने से कुछ दिक्कतें आ रही है फिर भी टीकाकरण दल द्वारा आधार कार्ड के अनुसार टीका लगाए जाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।


पशु एवं मछली पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड 15 फरवरी तक जारी होंगे


केन्द्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय द्वारा 15 नवम्बर 2021 से 15 फरवरी 2022 तक "नेशनवाइड एनिमल हस्बेंडरी डेयरी एवं फिशरीज़ केसीसी केम्पैन" चलाया जा रहा है। प्रदेश में भी केसीसी अभियान शुरू किया गया है। इसमें पशुपालन गतिविधियों के लिये प्रदेश के 16 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिये सभी संभागायुक्त और कलेक्टर्स को दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं। केसीसी अभियान में प्रदेश के सभी पात्र पशुपालकों और दुग्ध उत्पादक संगठनों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराए जाएँगे। अपर मुख्य सचिव पशुपालन एवं डेयरी विभाग श्री जे.एन. कंसोटिया ने बताया कि प्रत्येक शुक्रवार को शिविर आयोजित कर जाँच-परख कर आवेदन स्वीकार करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि पशुपालकों की जागरूकता और अभियान के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिये आत्मा (एग्रीकल्चर टेक्नालॉजी मेनेजमेंट एजेंसी), कृषि विज्ञान केन्द्र, एसआरएलएम, एनआरएलएम, पंचायत, कृषि, राजस्व आदि विभाग की भी मदद ली जाए।


केसीसी कैम्पेन समन्वय समिति गठित होगी

जिला स्तर पर किसान क्रेडिट कार्ड अभियान के लिये केसीसी समन्वय समिति गठित की जा रही है। समिति में अग्रणी बैंक जिला प्रबंधक समन्वयक और समस्त बैंकों के जिला स्तर के प्रतिनिधि सदस्य होंगे। जिलों में पदस्थ पशुपालन एवं डेयरी उप संचालक नोडल अधिकारी होंगे। सहकारी दुग्ध संघ के अधिकारी/कर्मचारी, उप संचालक से समन्वय स्थापित कर दुग्ध सहकारी समितियों से संबंधित पशुपालकों के आवेदन शिविर में प्रस्तुत करेंगे। वहीं दुग्ध संघ से इतर अन्य पशुपालकों के आवेदन उप संचालक पशुपालन एवं डेयरी प्रस्तुत करेंगे। शिविर में सभी बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे। प्राप्त आवेदन का चेकलिस्ट अनुसार मिलान कर पूर्ण पाए जाने पर आवेदक को पावती दी जाएगी। वहीं कमी रहने पर आवेदक को लिखित में अवगत कराया जाएगा। सही आवेदनों का निराकरण 15 दिवस के भीतर हो जाएगा। अभियान की निगरानी के लिये प्रति सप्ताह डीएलसीसी और बीएलबीसी बैठक आयोजन करने और सम्पूर्ण कार्यवाही से शासन को अवगत कराने के निर्देश दिये हैं।


वरिष्ठ नागरिकों के लिए एल्डर लाइन नम्बर 14567


वरिष्ठजन के साथ शारीरिक या भावनात्मक रूप से दुर्व्यवहार किया जा रहा है, तो वह एल्डरलाइन नंबर 14567 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार तथा सामाजिक न्याय और निशक्तजन कल्याण विभाग के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों की सुविधाओं एवं मार्गदर्शन हेतु सहायता के लिए हेल्पेज इंडिया द्वारा हेल्पलाइन टॉलफ्री नम्बर जारी किया गया है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए स्थापित एक योजना है, जो मप्र के सभी जिलों में संचालित है। यह हेल्पलाइन सप्ताह के सातों दिन सुबह 08 बजे से रात 08 बजे तक कार्य करती है। एल्डर लाइन के अतंर्गत सेवाओं के एक भाव के रूप में मुफ्त कानूनी मार्गदर्शन प्रदान किया जाता है तथा वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण और रख-रखाव के अधिनियम 2007 के बारें में और पेंशन योजनाओं के बारें में जानकारी प्रदाय की जाती है। यदि किसी वरिष्ठजन के साथ शारीरिक या भावनात्मक रूप से दुर्व्यवहार किया जा रहा है, तो वह इस हेल्पलाइन नंबर पर रिपोर्ट कर सकतें है। कोई भी वरिष्ठजन अकेला हो या भावनात्मक रूप से कमजोर महसूस कर रहा हों, वे फोन करके बात कर सकतें है। हेल्पलाइन के माध्यम से भावनात्मक परामर्श प्रदान करने, परित्यक्त वृद्ध लोगों को अस्थाई आश्रय प्रदान करनें, उन्हें फिर से उनके परिवार के साथ मिलानें में मदद की जाती है। इसके अलावा वृद्धाश्रम, देखभाल करने वाली संस्थाओं, अस्पतालों आदि के बारें में भी जानकारी प्रदान की जाती है।


सेवानिवृत्त माह, हर वर्ष पेंशनर को देना होगा जीवन प्रमाण-पत्र, पेंशनर्स के लिये जीवन प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करने के नये नियम


अब पेंशनर जिस माह में शासकीय सेवा से सेवानिवृत्त हुआ है, उसे उसी माह प्रतिवर्ष जीवन प्रमाण-पत्र संबंधित बैंक शाखा में प्रस्तुत करना होगा। इसी तरह परिवार पेंशन के प्रकरण में परिवार पेंशनर को उस माह जीवन प्रमाण-पत्र बैंक में प्रस्तुत करना होगा, जिस माह उसकी परिवार पेंशन प्रारम्भ हुई है। पेंशन, भविष्य निधि और बीमासंचालक श्री जे.के. शर्मा ने बताया कि अभी तक शासकीय सेवा से सेवानिवृत्त पेंशनर और परिवार पेंशनर को जीवन प्रमाण-पत्र संबंधित बैंक में प्रतिवर्ष नवम्बर माह में प्रस्तुत करना होता था। इस संबंध में एक जुलाई 2020 से लागू की गई मध्यप्रदेश कोषालय संहिता-2020 के सहायक नियम-201 के अनुसार जीवन प्रमाण-पत्र बैंक में जमा करने के संबंध में संशोधित नियम जारी किए गए हैं। शासन के इस नियम से सभी बैंकों को अवगत कराया गया है।


बकाया राशि एवं नियमित देयकों का भुगतान तत्काल करें


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बकाया राशि वसूली के लिए सघन प्रयास किये जा रहे हैं। इन प्रयासों के अंतर्गत बकाया राशि वसूली के लिए घर-घर जाकर बिजली कर्मचारी और अधिकारी राजस्व वसूली में लगे हैं। कंपनी के सभी वृत्त कार्यालयों में समीक्षा बैठकें आयोजित कर मैदानी स्तर पर राजस्व वसूली की वृद्धि के प्रयास तेज कर दिये गये हैं। सभी मैदानी अधिकारियों को बकाया राशि वसूली करने,भू-राजस्व संहिता के अंतर्गत सी-फार्म एवं कुर्की करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने यह भी निर्देश दिये हैं कि विजीलेंस द्वारा बनाये गये प्रकरणों में बकाया राशि की वसूली भी तेज की जाए। इसके अलावा ऑडिट द्वारा निकाली गई बकाया राशि और अन्य कारणों से बकाया राशि को उपभोक्ता के बिल में जोड़कर राजस्व वसूली की जाए। यह भी निर्देश दिये गये हैं कि काटे गये कनेक्शनों की रात्रि में चेकिंग की जाए ताकि बकायादार उपभोक्ता अवैध रूप से बिजली का उपयोग न करें और यदि कोई उपभोक्ता ऐसा करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध बिजली अधिनियम-2003 की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण बनाया जाए। कंपनी ने अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा है कि टीम भावना से कार्य कर लक्ष्य की प्राप्ति करें।


बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह - बकाया राशि कंपनी में जमा कराएं

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने कंपनी कार्यक्षेत्र के बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे बकाया राशि का भुगतान तत्काल करें। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बकायादार बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि बिजली कनेक्शन विच्छेदन की अप्रिय कार्यवाही से बचने के लिए विद्युत बिलों का भुगतान तत्काल सुनिश्चित करें।   कंपनी के द्वारा बकायादारों के विरूद्ध बड़े स्तर पर बिजली कनेक्शन विच्छेदन की कार्यवाही में “आपरेशन एवं मेंटेनेंस” अमले के साथ-साथ“ विजीलेंस”को भी जोड़ा है। कंपनी के सहायक अभियंता/जूनियर इंजीनियर जो कि तहसीलदार का दायित्व निर्वहन कर रहे हैं,भी राजस्व वसूली के लिए सक्रिय हो गये हैं। बिजली उपभोक्ताओं से अनुरोध है कि बिजली वितरण कंपनी के कार्मिकों द्वारा बिजली बिल के भुगतान की रसीद मांगे जाने पर उन्हें रसीद अवश्य दिखाएं,ताकि बिजली उपभोक्ताओं को अनावश्यक असुविधा न हो।


नगरों के सुनियोजित विकास के लिए सतत समीक्षा हो – मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नगरों के सुनियोजित विकास के लिए विभिन्न एजेंसियों द्वारा संचालित योजनाओं की सतत समीक्षा की जाए। नगरों के विकास के विभिन्न कार्यों में संलग्न एजेंसियाँ परस्पर समन्वय के साथ जन-कल्याण के कार्यों को अंजाम दें। उन्होंने मंत्रालय में मध्यप्रदेश अर्बन डेवलपमेंट कम्पनी के संचालक मंडल की सातवीं बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने ने कहा कि विभिन्न नगरों में सीवरेज योजना और जल प्रदाय योजनाओं के चल रहे कार्यों को यथा समय पूर्ण किया जाए। संचालक मंडल की गत बैठक के निर्णयों के क्रियान्वयन की जानकारी बैठक में दी गई। मध्यप्रदेश शहरी अधो-संरचना कोष में गठित कम्पनी की अंशपूँजी 10 करोड़ के स्थान पर 20 करोड़ रूपये किए जाने पर भी सहमति हुई।


बिजली के अनाधिकृत उपयोग करने पर सख्त खिलाफ कार्यवाही के निर्देश


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने सीधे बिजली लाइन से तार डालकर बिजली के अनधिकृत उपयोग के खिलाफ सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। निर्देशों में कहा गया है कि संबंधित लाइन कर्मचारी एवं मीटर वाचक का यह दायित्व है कि वे अपने क्षेत्रांतर्गत बिजली लाइन से सीधे तार डालकर बिजली का उपयोग करने वाले उपयोकर्ताओं की जानकारी वितरण केन्द्र प्रभारी को उपलब्ध करायें ताकि सख्ती से ऐसे मामलों की जांच की जा सके और विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 के तहत प्रकरण दर्ज कर उनके विरूद्ध विद्युत प्रदाय संहिता में निहित प्रावधानों के अनुसार बिलिंग की जा सके।   कंपनी ने कहा है कि विद्युतीकृत कॉलोनियों एवं क्षेत्रों में नये कनेक्शन देने में विलंब नहीं किया जाए। ऐसी कॉलोनियॉं जो अविद्युतीकृत हैं उनमें निवासरत लोगों को स्थाई कनेक्शन देने के लिए बाह्य विद्युतीकरण के लिए प्रेरित किया जाए ताकि विद्युतीकरण कार्य पूर्ण होने पर नियमानुसार राशि जमा करते हुए स्थाई विद्युत कनेक्शन प्रदान किया जा सके। ऐसे परिसर जो कि अवैध कॉलोनी के क्षेत्रान्तर्गत आते हैं, उन्हें मध्यप्रदेश नगर पालिक विधि (संशोधन) अध्यादेश 2021 में दिये गये प्रावधानों के अनुसार कार्य निष्पादित करने हेतु बाध्य किया जाएगा एवं उनके विद्युतीकरण हेतु प्राक्कलन बनाकर सार्वजनिक रूप से घोषित करते हुए नियत प्रति किलोवॉट दर तथा अन्य सप्लाई अफोर्डिंग चार्जेस इत्यादि जमा कराते हुए विद्युत कनेक्शन प्रदान किये जाएंगे। कंपनी ने कहा है कि मीटर बायपास कर अथवा लाइन में कट जोड़ लगाकर अनधिकृत रूप से विद्युत का उपयोग कर रहे लोगों के खिलाफ कार्यवाही की जाए। मीटर में छेड़छाड़ करने वाले उपभोक्ताओं के खिलाफ कार्यवाही की जाए और उनके खिलाफ विद्युत अधिनियम 2003 के अनुसार प्रकरण पंजीबद्ध कर विद्युत प्रदाय संहिता में दिए गए प्रावधानों के अनुसार बिलिंग की जाए।  बिजली चोरी के मामलों में विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 126, 135 एवं 138 के तहत बनने वाले मुकद्मों के तहत कठोर कार्यवाही के प्रावधान हैं यहॉं तक कि दोषी उपभोक्ताओं को जेल भी हो सकती है। उल्लेखनीय है कि बिजली चोरी के प्रकरणों में आरोप सिद्ध पाये जाने पर जुर्माना या कारावास या दोनों सजाओं का प्रावधान है।


कोरोना के नए वेरिएंट को करेंगे पराजित : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • जन-सहयोग से कोरोना नियंत्रण के मॉडल का जरूरत पड़ने पर फिर होगा उपयोग

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोविड से बचाव के अभियान में अन्य स्वैच्छिक संगठनों के साथ ही अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन (एआयएफ) का महत्वपूर्ण सहयोग रहा है। फाउंडेशन ने सेवा धर्म का निर्वाह करते हुए अद्भुत कार्य किया है। भारत और अमेरिका दो महत्वपूर्ण लोकतांत्रिक राष्ट्र हैं। अनेक क्षेत्र में दोनों देश मिलकर कार्य करते हैं, जो इतिहास रचने जैसा कार्य हो जाता है। मध्यप्रदेश में जन-सहयोग से कोरोना नियंत्रण का कार्य हुआ। यह मॉडल जरूरत पड़ने पर फिर उपयोग में लाया जाएगा। हम कोरोना के नए वेरिएंट को पराजित करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एआयएफ के माध्यम से लगभग 20 वर्ष पूर्व गुजरात में आए भूकम्प के समय तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रभावितों की सहायता में अमेरिका का सहयोग लिया था। आपदा की उस घड़ी में अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन ने सहयोग का हाथ बढ़ाया था। इन सेवा कार्यों को भुलाया नहीं जा सकता। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज फाउंडेशन के सहयोग से सीहोर के जिला चिकित्सालयों में 50 बेड की नवीन मॉड्यूलर इकाई का भी शुभारंभ किया गया।


नए वेरिएंट का मुकाबला करने के लिए हम तैयार हैं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अब नए वेरिएंट का मुकाबला करने में भी हम फाउंडेशन और अन्य संस्थाओं के सहयोग से विजयी होंगे, कोरोना वायरस पराजित होगा। हाल ही में मॉकड्रिल द्वारा प्रदेश के ऑक्सीजन संयंत्र चलाकर देखे भी गए हैं। जन-सहयोग से सावधानियाँ रखते हुए हम प्रदेश में कोरोना वायरस पर नियंत्रण की स्थिति बनाए रखेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में राज्य सरकार द्वारा कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की पूरी तैयारी की गई है। जहाँ परस्पर दूरी और मास्क के उपयोग की सावधानियों को सुनिश्चित किया जा रहा है, वहीं वैक्सीनेशन के माध्यम से संपूर्ण आबादी को सुरक्षा चक्र देने का कार्य तत्परता और प्राथमिकता से किया जा रहा है। प्रदेश में पात्र आबादी में से 93 प्रतिशत को पहला डोज और 70 प्रतिशत को दूसरा डोज लग गया है। महाअभियान के माध्यम से वैक्सीनेशन कार्य निरंतर चल रहा है। अठारह वर्ष से अधिक आयु के सभी पात्र व्यक्तियों को दिसम्बर माह में वैक्सीन लगवाने का लक्ष्य है। हर हाल में लहर को रोकना है। यदि लहर आ भी जाए तो इससे मुकाबले के लिए हम पूरी तरह तैयार हैं।


पीड़ित मानवता के लिए फाउंडेशन के कार्य प्रशंसनीय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोविड नियंत्रण के कार्य में रोगियों के उपचार और प्रबंधन, सिंगल यूजर वेंटीलेटर, पल्स ऑक्सीमीटर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन प्लांट, कोल्ड स्टोरेज और मॉड्यूलर अस्पताल जैसी सुविधाएँ फाउंडेशन उपलब्ध करवाई हैं। इस पर करीब 15 करोड़ की राशि व्यय हुई। इसके साथ ही वैक्सीनेशन अभियान में भी फाउंडेशन का सहयोग मिल रहा है। पीड़ित मानवता की सेवा के लिए कार्य कर रही फाउंडेशन की टीम प्रशंसा की पात्र है। मध्यप्रदेश में जन-सहयोग से कोरोना नियंत्रण के मॉडल को सराहा गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दिव्यांगजन, स्ट्रीट वेण्डर्स, हमारी बहनों और जनजातीय समुदाय को भी सहायता प्रदान करने में फाउंडेशन का सहयोग रहा है। फाउंडेशन के कंट्री डायरेक्टर श्री मैथ्यु जोसेफ ने कहा कि फाउंडेशन यूएस और इंडिया के बीच सेतु का कार्य कर रहा है। मध्यप्रदेश में कोविड के प्रथम चरण में फाउंडेशन ने फ्रंटलाइन वर्कर्स को संक्रमित होने से बचाने, प्रवासी श्रमिकों और उनके परिवारों के लिए राशन की आपूर्ति के कार्य में सहयोग किया। प्लाई सर्जिकल मास्क, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, एन-95 मास्क, दस्ताने, थर्मल स्कैनर उपलब्ध करवाए गए। मौजूदा स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढाँचे को बढ़ाने के लिए फाउंडेशन गंभीर रूप से बीमार लोगों को तत्काल सहायता उपलब्ध करवाता है। कोविड की दूसरी लहर में भी फाउंडेशन सक्रिय रहा। कोविड नियंत्रण के साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में भी कार्य हो रहा है।


प्रभारी अधिकारी और कलेक्टर्स नियमित संवाद करें : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • 8, 16 और 22 दिसम्बर टीकाकरण महाअभियान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में वैक्सीनेशन कार्य की प्रगति अच्छी है, लेकिन महाअभियान के माध्यम से हमारा लक्ष्य शत-प्रतिशत पात्र आबादी को कोरोना वायरस से बचाव के लिए सुरक्षा चक्र प्रदान करना है। दिसम्बर माह तक सभी पात्र लोगों को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य है। जिलों के लिए निर्धारित किए गए भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी अपनी प्रभारी अधिकारी की भूमिका को पूरी गंभीरता से निभाते हुए प्रतिदिन कलेक्टर के संवाद करें। जन-सहयोग से हमने इस महामारी के नियंत्रण में सफलता प्राप्त की है। जन-जागरूकता, जन-सहयोग और सावधानियों के पालन के साथ तीसरी लहर की आशंका को निर्मूल करना है। आवश्यक सावधानियों के पालन, जन-जागरूकता के लिए घर-घर दस्तक और रोको-टोको अभियान पर जोर देकर हम किसी भी वेरिएंट का मुकाबला कर सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में प्रदेश में कोरोना नियंत्रण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने ने कहा कि अन्य देशों से आ रहे अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को ट्रेस किया जा रहा है। इन यात्रियों का आरटी-पीसीआर परीक्षण भी किया जा रहा है। सख्त मॉनीटरिंग से स्थिति पर नजर रखी जा रही है। सभी चाक-चौबंद रहें, इसके लिए प्रभारी अधिकारी और कलेक्टर्स निरंतर संवाद रखें। जिन क्षेत्रों में वैक्सीन के डोज़ कम लगे हैं, वहाँ घर-घर दस्तक अभियान संचालित किया जाएगा। आगामी 8, 16 और 22 दिसम्बर टीकाकरण महाअभियान के प्रचार-प्रसार पर विशेष जोर रहेगा। ताकि टीकाकरण के लिए शेष रह गए लोगों को इसका लाभ सुनिश्चित हो। जागरूकता अभियान के लिए समाज के विभिन्न संगठनों, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों और धर्मगुरूओं को जोड़ा जाएगा। सासंद, विधायक और जन-प्रतिनिधि भी अभियान से जुड़ेंगे।


प्रदेश में योजनाबद्ध तरीके से कोविड नियंत्रण

प्रदेश में आज कोविड-19 के 17 पॉजिटिव प्रकरण दर्ज हुए हैं। कुल एक्टिव प्रकरणों की संख्या 138 है। आज जाँच के लिए 56 हजार 895 सेम्पल लिए गए। प्रदेश की रिकवरी दर 98.6 प्रतिशत है। भारत सरकार की मार्गदर्शिकाओं का पालन पहले भी किया गया है। प्रदेश में आय.आय.टी.टी.वी अर्थात् आयडेंटिफिकेशन, आयसोलेशन, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और वैक्सीनेशन का पालन करते हुए व्यापक रूप से योजनाबद्ध तरीके से कोरोना नियंत्रण का प्रसार रोका जा रहा है। संक्रमण की शीघ्र पहचान और त्वरित उपचार की प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है। प्रदेश में अब तक कुल 2 करोड़ 21 लाख से अधिक सेम्पल लिए जा चुके हैं। प्रदेश में 9 करोड़ 12 लाख 8 हजार 38 वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं। प्रदेश में कोविड-19 और वेरिएंट ऑफ कन्सर्न ओमिक्रान के संबंध में निरंतर कार्य हो रहा है। दिसम्बर 2021 से अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की ट्रेसिंग का कार्य निरंतर चल रहा है। कुल 501 यात्रियों को ट्रेस किया जा चुका है। किसी भी यात्री की पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आयी है।


मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा दिए गए निर्देश

प्रतिदिन प्रभारी अधिकारी जिला कलेक्टर से चर्चा करें।जिला कलेक्टर और क्राइसिस मैनेजमेंट समितियों के सदस्य अस्पतालों में आवश्यक व्यवस्थाओं को देखें। ऑक्सीजन संयंत्रों और वेंटीलेटर की स्थिति का निरीक्षण कर लें। रेमडेसिवीर सहित जीवन रक्षक दवाइयों की उपलब्धता की जानकारी प्राप्त करें। कोविड केयर सेंटर का भी अवलोकन करें। आम नागरिकों से वैक्सीन के सेकंड डोज का निरंतर आग्रह किया जाए। सभी पात्र लोगों को वैक्सीन का डोज लगे, यह सुनिश्चित करें। फेस मॉस्क और बार-बार हाथ धोने और परस्पर दूरी की सावधानियों को अपनाएँ। विभिन्न समाजों के अध्यक्षों और धर्मगुरुओं द्वारा भी मार्गदर्शन दिया जाए। स्वैच्छिक संगठनों और वॉलंटियर्स आमजन को महामारी से बचाव की सावधानियों की जानकारी निरंतर दें। योग से निरोग और "मैं कोरोना वॉलेंटियर" जैसे प्रयोगों को पुनः अपनाया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: