विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जनवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 11 जनवरी 2022

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जनवरी

अहमदपुर क्षेत्र के लोगों से मेरे पारिवारिक रिश्ते हैं - विधायक शशांक भार्गव 


vidisha news
विदिशा:- आपका विधायक-आपके द्वार कार्यक्रम के तहत विधायक शशांक भार्गव ने विदिशा ब्लॉक के अहमदपुर क्षेत्र के 7 गांवों का दौरा किया।विधायक भार्गव ने ग्राम अहमदपुर में ग्रामवासियों के साथ पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें स्मरण किया।ग्राम अहमदपुर में कार्यक्रम के अंत में पप्पू रघुवंशी जी के निधन पर दो मिनिट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। ग्राम अहमदपुर में आवासीय पट्टे, ट्रांसफार्मर बदलने,28 कुटीर की पहली किश्त जारी करने,शेष बचे शौचालय निर्माण कराने, मार्च तक नलजल योजना शुरु करने,अस्पताल में रैबीज इंजेक्शन आपूर्ति, पुलिया निर्माण एवं हनुमान मंदिर पर नवीन हैंडपंप की मांग की गई विधायक भार्गव ने मौके पर मौजूद अधिकारियों से समस्याओं का त्वरित निराकरण करने के साथ पीएचई अधिकारियों को 15 दिन के अंदर हैंडपंप उत्खनन के निर्देश दिए।ग्राम सतियाखेड़ी में विद्युत लाइन बदलने,श्मशान घाट पर हैंडपंप एवं विधायक निधि से चबूतरा निर्माण करने एवं स्टॉप डेम का सर्वेकर एस्टीमेट तैयार करने के निर्देश दिए। ग्राम डंगरवाडा में स्कूल भवन में मुरमिकरण कार्य,विधायक निधि से अगले वित्तीय वर्ष में यात्री प्रतीक्षालय बनवाने,ग्राम की मुख्य सड़क रिपेरिंग करने के निर्देश दिए। ग्राम कांकरखेड़ी में हरिजन बस्ती में नया ट्रांसफार्मर लगवाने,पीएचई अधिकारियों को नलजल योजना में क्षतिग्रस्त हुई सड़क रिपेरिंग के निर्देश दिए। ग्राम बरखेड़ा में पंचायत निधि व विधायक निधि से निस्तार पानी के लिए सीसी सड़क व नाली निर्माण स्वीकृत किया। ग्राम सौंथर व अंडिया में भी चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुनी और निराकरण के निर्देश दिए। ग्राम चौपालों को संबोधित करते हुए विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि वे चार बार विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं।हमेशा ही अहमदपुर क्षेत्र के गांवों से जनसमर्थन मिलता रहा है। अहमदपुर क्षेत्र के नागरिकों से पारिवारिक रिश्ते हैं।इस क्षेत्र के एक-एक गांव की समस्या से वे भलीभांति परिचित हैं मुख्य समस्या विदिशा से अहमदपुर रोड़ की थी जिसका काम शुरु हो गया है बाकी के काम भी जल्द से जल्द पूरा कराने की कोशिश करेंगे। जिला पंचायत विधायक प्रतिनिधि बाबूलाल वर्मा ने कहा कि विधायक निधि का बड़ा हिस्सा स्वास्थ व शिक्षा के क्षेत्र में प्रयोग हो रहा है जिसका लाभ पूरे क्षेत्र के नागरिकों को मिलेगा। ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष दीवान किरार,जिला किसान कांग्रेस अध्यक्ष आशीष भदौरिया ने कहा कि प्रत्येक नागरिक को मूलभूत सुविधाएं मिल सकें इसके लिए आज सभी अधिकारियों के साथ आपके गांव आकर आपकी समस्याएं सुन रहे हैं। ग्राम चौपालों को नंदकिशोर शर्मा, अजय कटारे, रामबाबू लोधी, दीपक कपूर, डॉ शिवराज पिपरोदिया, डॉ राजेंद्र दांगी, सुनील रघुवंशी, शिवचरण शर्मा, सतेंद्र पवार, महाराज सिंह ठाकुर, मलखान मीणा, उमराव कुशवाह ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर जालम सिंह मीणा, नोनीतराम किरार, अनिल यादव, दिनेश दांगी, नरेंद्र दांगी, लालू लोधी, निरंजन दांगी, बब्लू किरार सरपंच, घनश्याम शर्मा, पहाड़ सिंह रघुवंशी, मयंक यादव, सोनू राजपूत, मुआज़ कामिल, अवधेश सिंह, सुरजीत दरबार, जसवीर किरार, बलवीर दांगी, हरिओम किरार, मुकेश वर्मा, मनीष विश्वकर्मा सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।


प्रभारी मंत्री का दौरा कार्यक्रम


चिकित्सा शिक्षा एवं भोपाल गैस त्रासदी राहत तथा पुर्नवास विभाग के मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग बुधवार 12 जनवरी को विदिशा जिला मुख्यालय पर आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे। प्रभारी मंत्री श्री सारंग का प्राप्त दौरा कार्यक्रम अनुसार बुधवार 12 जनवरी की पूर्वान्ह 11.30 बजे भोपाल से विदिशा के लिए प्रस्थान कर दोपहर 12.30 बजे विदिशा आगमन एवं एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में आयोजित स्वरोजगार, रोजगार दिवस महोत्सव कार्यक्रम में शामिल होकर लाभांवित हितग्राहियों को ऋण स्वीकृति व वितरण के प्रमाण पत्र प्रदाय करेंगे। प्रभारी मंत्री दोपहर दो बजे विदिशा के सर्किट हाउस में प्रबंध समिति कोर ग्रुप की बैठक में शामिल होंगे। इसके पश्चात् दोपहर 2.30 बजे जिला योजना समिति की बैठक एवं जिले के अधिकारियों के साथ विभागीय कार्यो की समीक्षा बैठक, रोगी कल्याण समिति की बैठक तथा जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में शामिल होंगे। उपरोक्त तीनो बैठके नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित की गई है। प्रभारी मंत्री श्री सारंग दोपहर 3.30 बजे अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय का निरीक्षण करेंगे। इसके पश्चात् सायं चार बजे किले अन्दर चौपडा में पहुंचकर श्री चन्द्रकिशोर मिश्रा से सौजन्य मुलाकात इसके पश्चात् 4.15 बजे विदिशा से भोपाल के लिए रवाना होंगे।


सागर सांसद का दौरा कार्यक्रम


सागर सांसद श्री राजबहादुर सिंह 12 एवं 13 जनवरी को विदिशा जिले के प्रवास पर रहेंगे। प्राप्त दौरा कार्यक्रम अनुसार बुधवार 12 जनवरी की प्रातः दस बजे निज निवास गोपालगंज सागर से विदिशा के लिए रवाना होंगे। दोपहर 12 बजे विदिशा सर्किट हाउस में आगमन, इसके पश्चात् दोपहर 12.30 बजे एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह कक्ष में आयोजित प्रदेशव्यापी स्वरोजगार दिवस कार्यक्रम में शामिल होंगे। सांसद श्री राजबहादुर सिंह दोपहर दो बजे जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेंट समिति एवं जिले के विभिन्न विभागो की समीक्षा बैठक में शामिल होंगे। उक्त बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित की गई है। सागर सांसद श्री राजबहादुर सिंह गुरूवार 13 जनवरी की प्रातः 10.15 बजे करारिया चौराहे पर आयोजित स्वागत कार्यक्रम में शामिल होंगे। 10.45 बजे विधानसभा शमशाबाद अंतर्गत ग्रामो में दौरा, भूमिपूजन एवं लोकार्पण कार्यक्रमों में शामिल होंगे। ग्राम देवखजूरी में भैरो बाबा मंदिर पर दर्शन एवं कार्यकर्ताओं से भेंट करेंगे। सांसद श्री राजबहादुर सिंह ग्रामों में आयोजित कार्यक्रम तदानुसार पूर्वान्ह 11.30 बजे ग्राम दुपारिया, उमरखेडी में सीसी एवं नाली निर्माण कार्य का भूमिपूजन कार्यक्रम में, दोपहर 12.30 बजे पीपलखेडा में पेयजल योजना का लोकार्पण, दोपहर 1.30 बजे ग्राम खामखेडा में पुलिस चौकी का लोकार्पण, दोपहर 2.30 बजे ग्राम सायर में पेयजल योजना का भूमिपूजन, सायं चार बजे ग्राम करैयाहाट में प्रधानमंत्री सड़क का भूमिपूजन तथा सायं 4.30 बजे ग्राम करैयाहाट से सागर के लिए रवाना होंगे।


विदिशा सांसद श्री रमाकांत भार्गव का दौरा कार्यक्रम


सांसद विदिशा श्री रमाकांत भार्गव बुधवार 12 जनवरी को विदिशा विधानसभा क्षेत्रांतर्गत आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होंगे। सांसद श्री भार्गव का जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार बुधवार 12 जनवरी की पूर्वान्ह 11.30 बजे भोपाल से विदिशा के लिए प्रस्थान कर दोपहर 12.30 बजे विदिशा के सर्किट हाउस में आगमन, इसके पश्चात् दोपहर एक बजे स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होने के उपरांत दोपहर तीन बजे विदिशा से भोपाल के लिए रवाना होंगे।


ग्रामीण विकास योजनाओं की समीक्षा


जिला पंचायत के सभाकक्ष में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत की अध्यक्षता में ग्रामीण विकास योजनाओं की समीक्षा बैठक आज आयोजित की गई थी। इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, कार्यपालन यंत्री ग्रा.या.से., सहायक यंत्री जनपद पंचायत, उपयंत्री, अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा, ब्लाक समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन एवं योजना प्रभारी मौजूद रहें। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में आयोजित उक्त बैठक में जिन  एजेण्डा बिन्दुओं पर गहन समीक्षा की गई उनमें सीएम हेल्पलाइन, समाधान शिकायत का निराकरण, ओबीसी अंतर्गत सभी प्रपत्रो पर जानकारी, आपकी सरकार आपके द्वार ,ग्रामीण पथ विक्रेता, प्रधानमंत्री आवास योजनान्तर्गत शेष स्वीकृति एवम आवास पूर्णता, जीपीडीपी, देवरण्य योजना, मनरेगा के निर्माण कार्य एवम अन्य निर्माण कार्य,एसबीएम अंतर्गत लीच पिट एवम सोकपिट, एमडीएम अंतर्गत माँ की बगिया सामुदायिक पोषण कार्यक्रम शामिल है।


निर्देश

जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने समीक्षा बैठक के दौरान जो दिशा निर्देश दिए है उनमें जलकर, सेनेटरी टैग में प्रगति संतोषप्रद न होने से जनपद पंचायत नटेरन, ग्यारसपुर,विदिशा को कारण बताओ सूचना पत्र  एवं जनपद पंचायत कुरवाई की ग्राम पंचायत ब्रद्रावठा के सचिव को निलंबित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। मनरेगा अन्तर्गत आधारसीडिंग कार्य की प्रगति संतोषप्रद न होने से अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा जनपद लटेरी को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने हेतु निर्देशित किया गया। प्रत्येक जनपद पंचायत में तीन सामुदायिक पोषण वाटिका, देवअरण्य योजना के कार्य स्वीकत कर तत्काल प्रारंभ करने के निर्देश दिये गये । साथ ही पुष्कर धरोहर समृद्धि योजनान्तर्गत चिन्हांकित संरचनाओं को तकीनकी एवं प्रशासकीय स्वीकृति तीन दिवस में जारी करने हेतु निर्देशित किया गया। जनपद पंचायत बासोदा में एसबीएम का कार्य संतोषपूर्ण नहीं होने से तथा जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा बार बार कहने पर भी कार्य नहीं करने से ब्लाक समन्वयक श्रीमती सुजाता खातरकर को जिला कार्यालय में संलग्न करने हेतु निर्देशित किया गया।


प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में विभिन्न विभागो के कार्यो की समीक्षा बैठक आज


चिकित्सा शिक्षा एवं भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग मध्यप्रदेश शासन एवं प्रभारी मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग की अध्यक्षता में आज 12 जनवरी 2022 की दोपहर दो बजे नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट समिति एवं जिले के समस्त विभागों के माध्यम से संपादित होने वाले कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित की गई है।


रोगी कल्याण समिति की बैठक

प्रभारी मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग की अध्यक्षता में विभागो के कार्यो की समीक्षा बैठक उपरांत जिला रोगी कल्याण समिति की बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित की गई है।


स्वरोजगार, रोजगार दिवस आयोजन की तैयारियों का जायजा


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज एसएटीआई परिसर में आयोजित होने वाले स्वरोजगार, रोजगार दिवस महोत्सव की तैयारियों का जायजा लिया है। उन्होंने कार्यक्रम स्थल कैलाश सत्यार्थी सभागृह के अन्दर बैठक व्यवस्था, मुख्यमंत्री जी के लाइव उद्बोधन को देखने, सुनने के लिए किए गए प्रबंधो का भी अवलोकन करते हुए व्यवस्थाओं के मद्देनजर आवश्यक दिशा निर्देश विभागों के अधिकारियों को दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने रोजगार दिवस महोत्सव दिवस आयोजन के परिपेक्ष्य में जारी गाइड लाइन के अनुसार कोविड के दिशा निर्देशो का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने आयोजन परिसर में हितग्राहियों को विभिन्न विभागो के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं के अंतर्गत लाभाविंत करने हेतु क्रियान्वित व्यवस्था तथा निजी कंपनियों में रोजगार मुहैया कराने हेतु कंपनियों के स्टॉलों के लिए आवंटित स्थलों की भी जानकारी प्राप्त की है। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, एसडीएम श्री गोपाल सिंह, वर्मा, मुख्य नगरपालिका अधिकारी सुधीर सिंह समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 


स्वरोजगार, रोजगार दिवस कार्यक्रम में लाभांवित हितग्राहियों की जानकारी


जिला स्तरीय स्वरोजगार, रोजगार दिवस 12 जनवरी को आयोजित कार्यक्रम में में लाभांवित हितग्राहियों की जानकारी देते हुए जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र विदिशा श्री पीडी वंशकार ने बताया कि एसएटीआई में आयोजित कार्यक्रम के अंतर्गत कुल 2313 हितग्राहियों को 1634.10 लाख रू की राशि का वितरण किया जाना है। श्री वंशकार ने बताया कि समस्त राष्ट्रीयकृत बैंक, प्राइवेट बैंक, माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूट के द्वारा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में 1005 हितग्राहियों को 1005.00 लाख की राशि का वितरण, जिला शहरी विकास अभिकरण विदिशा के द्वारा प्रधानमंत्री स्वयंनिधि योजना में 69 हितग्राहियों को 6.90 लाख रू की राशि का वितरण, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (व्यक्तिगत) के अंतर्गत 12 हितग्राहियों को 24.00 लाख रू की राशि का वितरण, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (समूह) के अंतर्गत 9 हितग्राहियों को 18.00 लाख रू की राशि का वितरण किया जाएगा। इसके अलावा मध्यप्रदेश डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में 124 हितग्राहियों को 124.00 लाख रू की राशि का वितरण, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथकर विक्रेता में 1042 हितग्राहियों को 104.20 लाख रू की राशि का वितरण किया जाएगा एवं जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्रध्खादी ग्रामोद्योग बोर्डध्खादी ग्रामोद्योग आयोग के अंतर्गत प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम में 52 हितग्राहियों को 352.00 लाख रू की राशि का वितरण किया जाएगा।


बेतवा के घाटो पर लगाई गई रोक, कलेक्टर ने की अपीलः नागरिकगण मेलों में अधिक संख्या में एकत्रित ना हों


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले में कोविड-19 कोरोना के बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए आमजनो से अनुरोध किया है कि मकर संक्रांति पर आयोजित होने वाले मेलो एवं नदी, तालाबों के किनारे भरने वाले मेलों में अधिक संख्या में नागरिकगण एकत्रित ना होने की अपील की है। बेतवा नदी के घाटों पर रोक लगाई गई है आमजनों से मेलों में शामिल ना होने की अपील की गई है। कलेक्टर श्री भार्गव ने आमजनों से अपील की है कि अनावश्यक परेशानी से स्वयं बचें एवं दूसरों को भी अभिप्रेरित करें।


जनसुनवाई कार्यक्रम में 90 आवेदन प्राप्त हुए


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के मार्गदर्शन में आहूत जनसुनवाई कार्यक्रम में 90 आवेदको ने अपने आवेदन प्रस्तुत कर व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं से अवगत कराया है। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में जनसुनवाई कार्यक्रम के दौरान डिप्टी कलेक्टर श्रीमती अनुभा जैन, अतिरिक्त जिला पंचायत सीईओ श्री दयाशंकर सिंह समेत अन्य विभागो के अधिकारियों ने पंक्तिबद्ध-रो में बैठकर आवेदकों से आवेदन प्राप्त कर निराकरण की पहल की गई है। आज सम्पन्न हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में मौके पर 24 आवेदनों का निराकरण संबंधित विभागो के अधिकारियों द्वारा किया गया है शेष लंबित आवेदनों पर समय सीमा में कार्यवाही करने के निर्देश प्रसारित किए गए है।


कोरोना सेम्पल

जनसुनवाई कार्यक्रम में शामिल होने वाले आवेदकों के लिए आवेदन लिखने की सुविधा के अलावा उन सबका कोविड 19 सेम्पल भी लिया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा बकायदा पूरी टीम तैनात की गई थी जो जिला पंचायत सभागार के प्रवेश द्वार पर उपस्थित रहकर सभी आवेदकों का सेम्पल लेने का कार्य किया गया है। सेम्पल देने के उपरांत ही आवेदक जनसुनवाई कक्ष में प्रवेश कर अपनी मूलभूत समस्या से अवगत करा रहे थे। 


पेंशनर जीवन प्रमाण पत्र संबंधित बैंक की किसी भी शाखा में जमा कर सकते है


पेंशन भविष्य  निधि एवं जीवन के संचालक द्वारा जारी नवीन दिशा निर्देशों का हवाला देते हुए जिला कोषालय अधिकारी श्री उमेश श्रीवास्तव ने बताया कि अब पेंशनर अपना जीवन प्रमाण पत्र संबंधित बैंक की किसी भी शाखा में जमा कर सकते है। कोई भी बैंक की शाखा पेंशनर को उसी बैंक की अन्य शाखा में जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने हेतु वापिस नही भेजेगी। प्रमाण पत्र अस्वीकार नहीं करेंगी। यदि पेंशनर के जीवित्ता प्रमाण पत्र लेने से किसी बैंक शाखा द्वारा मनाही, कोताही बरती जाती है और ऐसी शिकायत प्राप्त होती है तो संबंधित बैंक शाखा पर तत्काल कार्यवाही प्रस्तावित की गई है। निर्देशो की अवहेलना करने पर पेंशनर अपनी जानकारी जिला पेंशनर अधिकारी को अवगत करा सकते है।


पीपीओ पर परिवार पेंशनर का नाम अंकित के संबंध में


यदि पेंशनर का परिवार पेंशनर के साथ संयुक्त खाता है, पीपीओ पर संयुक्त फोटो चस्पा है तथा परिवार पेंशनर का नाम पेंशन भुगतान आदेश में अंकित है उन पेंशनरों की मृत्यु की दशा में परिवार पेशन प्रारंभ करने के लिए फार्म 42 भरने की आवश्यकता नहीं होगी। बैंक स्वतः परिवार पेंशन प्रारंभ कर सकेंगे। उक्त आदेश संचालनालय पेंशन, भविष्यनिधि एवं बीमा के संचालक द्वारा जारी किए गए है। जिला पेंशन अधिकारी ने बताया कि कतिपय प्रकरणों में पीपीओ पर संयुक्त फोटो व परिवार पेंशनर का नाम अंकित है परन्तु पेंशनर का संयुक्त खाता नही है जिससे पेंशनर की मृत्यु होने की दशा में परिवार पेंशन प्रारंभ करने में विलम्ब होता है इस कारण से संचालनालय द्वारा जारी नवीन आदेश से अब त्वरित पेंशनर के परिवार को आर्थिक कठिनाईयों से बचने में सहायता होगी। अतः ऐसे प्रकरणों जिसमें पेंशनरों की पहचान की जानी है उन परिवार पेंशन प्रारंभ में अब कोइ्र्र कठिनाई नहीं होगी। पेंशन खाते को संयुक्त खाते में सुगमता से परिवर्तित करा सकेंगे। बैंक ऐसे पेंशनरों को चिन्हांकित कर उन्हें एसएमएस द्वारा सूचना प्रेषित कर प्रक्रिया से अवगत करा सकेंगें। नवीन व्यवस्था से पेंशनर व परिवार पेंशनर को जो सुविधा होगी उससे भविष्य में परिवार पेंशन शुरू होने में कोई कठिनाई का सामना नहीं होगा ना ही पेंशनर का मृत्यु प्रमाण पत्र व परिवार पेंशन का जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत करते ही परिवार पेंशन तत्काल प्रारंभ हो सकेगी। पेंशनर को बैंक, जिला पेंशन कार्यालय, अन्य कार्यालयों में अनावश्यक उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं पडेंगी, बैंक की भी शिकायते कम होगी जिससे समय की बचत होगी। अतः बैंक ऐसे पीपीओ की भी सूची तैयार कर संबंधित जिला पेंशन अधिकारी और संचालनालय पेंशन को प्रेषित करें जिन पर परिवार पेंशनर का नाम अंकित नहीं है ताकि ऐेसे प्रकरणों में परिवार पेंशन की पात्रता के परीक्षण के संबंध में अनुवर्ती कार्यवाही पर विचार किया जा सकें। 


स्वामी विवेकानंद जयंती पर जिला स्तरीय संवाद कार्यशाला का आयोजन


मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद द्वारा 12 जनवरी 2022 को स्वामी विवेकानंद जी की 158 वी जयंती (राष्ट्रीय युवा दिवस) के उपलक्ष्य में जिला स्तरीय संवाद कार्यशाला का आयोजन किया गया है। कि जानकारी देते हुए जन अभियान परिषद की जिला समन्वयक श्रीमती पूजा श्रीवास्तव ने बताया कि आत्मनिर्भर भारत एवं स्वामी विवेकानंद के विचारों के संदर्भ में युवाओं की भूमिका पर आयोजित कार्यशाला विदिशा के एसएटीआई कॉलेज के स्मार्ट हाल में बुधवार 12 जनवरी की दोपहर 12 बजे से आयोजन किया गया है। कार्यक्रम में जिले के विकासखण्डों से समस्त युवा प्रतिभागी शामिल होंगे।


दस्तक अभियान का शुभारंभ


विदिशा शहर की आंगनवाड़ी केंद्र क्रमांक 102 कुमार गली में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डीके शर्मा ने शिवांश प्रजापति पुत्र अरुण प्रजापति, मोक्षिता कुशवाह श्री माधव कुशवाह,  शिवांश सोनी पुत्र नीतेश सोनी को विटामिन ए की दवा पिलाकर दस्तक अभियान का शुभांरभ किया। यह अभियान 12 फरवरी तक जारी रहेगा। आंगनबाडी केन्द्र में आयोजित कार्यक्रम में एएनएम श्रीमती शांता नायर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता  कुमारी पूनम नेमा, सहायका श्रीमती पूजा शर्मा मीडिया अधिकारी बीएस दांगी एवं अन्य उपस्थित रहे आज नियमित टीकाकरण के साथ केंद्र पर विटामिन ए की दवाई 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को पिलाई जा रही थी जो 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चे विटामिन ए की दवा पीने से वंचित रहेंगे उनको दूसरे दिन घर-घर जाकर दवा पिलाई जाएगी। 


जनहितकारी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम छोर तक पहुंचाना सुनिश्चित करें- कलेक्टर

  • अपने कार्य में संवेदनशीलता का परिचय दे राजस्व अधिकारी- अपर कलेक्टर
  • वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक संपन्न

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कहा कि शासन द्वारा संचालित जनहितकारी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम छोर तक बैठे व्यक्ति को प्राथमिकता के आधार पर दिलवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि शासन की समस्त योजना गरीबों और असहाय वर्ग के लोगों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। सभी राजस्व अधिकारी इसे प्राथमिकता के आधार पर ले तथा अपने कर्तव्यों का पालन कर्तव्य निष्ठा के साथ करें। बैठक में कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि न्यायालयीन प्रकरणों के साथ-साथ सीएम हेल्पलाइन एवं समाधान ऑनलाइन प्रकरणों का भी जल्द से जल्द निराकरण करना सुनिश्चित करें तथा कोई भी प्रकरण अनअटेंडेंट ना रहे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की उक्त बैठक में कलेक्टर श्री भार्गव ने निर्देश दिये कि सभी राजस्व अधिकारी अपने क्षेत्र में कानून एवं व्यवस्था पर पूरी निगरानी रखने के साथ ही क्षेत्र की हर गतिविधि पर भी नजर रखें। अपने क्षेत्र की प्रत्येक संवेदनशील और महत्वपूर्ण घटनाओं की जानकारी से प्रतिदिन जिला प्रशासन को अवगत करायें। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि राजस्व के नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन के प्रकरण निर्धारित समय सीमा में निराकृत करें तथा निराकरण की ऐसी प्रणाली विकसित करें जिससे प्रकरणों की जानकारी पारदर्शिता के साथ मिले और प्रकरण शीघ्र निराकृत हों। आर.सी.एम.एस. में दर्ज प्रकरणों का भी समय पर निराकरण करें लंबित प्रकरणों का प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र निराकरण करें तथा यह सुनिश्चित करें कि 300 दिनों से अधिक का कोई भी प्रकरण लंबित नहीं रहे। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी राजस्व प्रकरण ऑनलाइन दर्ज कर सभी प्रक्रियाएं ऑन लाईन निष्पक्षता और विधि के अनुसार करते हुये आदेश भी ऑनलाईन पारित कर प्रकरणों का निराकरण करें जिससे हितग्राही समय पर लाभान्वित हो सकें। उन्होंने निर्देश दिये कि पटवारी अपने हल्के के ग्रामों के सभी अविवादित व विवादित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, अतिक्रमण, डायवर्सन, वसूली आदि के प्रकरणों की एक पंजी संधारित करें जिससे सारी जानकारी एक साथ मिल सके। इस पंजी में तहसीलदार और नायब तहसीलदार न्यायालयों द्वारा प्रकरणों में पारित आदेश की प्रविष्टि भी करें। बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृन्दावन सिंह ने जिले के समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार तथा नायब तहसीलदारों को निर्देशित किया कि उनके क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न ग्रामों से आने वाले ग्रामीणों की समस्याओं को सुनकर निराकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों से लोग बड़े आस्था और विश्वास के साथ अपनी समस्याएं लेकर आते हैं, उनके समस्याओं का निराकरण हर हाल में होना चाहिए। हम सबको अपने कार्य में संवेदनशीलता का परिचय देना चाहिए। बैठक में अपर कलेक्टर ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान में सभी अधिकारी युद्ध स्तर पर कार्य करें तथा 15 से 18 वर्ष के युवाओं को जल्द से जल्द पूर्ण टीकाकरण कर जिलों को अन्य जिलों के मुकाबले अग्रणी बनाएं। अपर कलेक्टर ने कहा कि राजस्व अधिकारियों को अपनी सोच का दायरा विस्तृत करते हुए कार्य को बेहतर ढ़ंग करने की आदत डाले। बैठक में धारणाधिकार, मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार पत्र योजना, पीएम किसान योजना, आरसीएमएस पोर्टल मासिक पत्रक, नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, राजस्व वसूली, सीएम हेल्पलाईन, लोक सेवा गारंटी अधिनियम, भू-अर्जन तथा स्वामित्व योजना सहित अन्य विषयों पर गहनता से समीक्षा की गई। 


अंकुर योजना के तहत पंजीयन कर प्राप्त करें प्राणवायु प्रमाण पत्र


राज्य में हरित क्षेत्र में वृद्धि कर प्रदेश के पर्यावरण को स्वच्छ रखने व प्रकृति को प्राणवायु से समृद्ध करने के उद्देश्य से जन सहभागिता के माध्यम से व्यापक स्तर पर अंकुर अभियान के तहत जन-जन को हरियाली से जोड़ने के मकसद से विदिशा जिले में दस हजार पौधे रोपने का लक्ष्य लेकर अंकुर अभियान में विदिशा की सशक्त भागीदारी बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। मध्यप्रदेश शासन के अंकुर कार्यक्रम के तहत जन सहयोग से अधिकतम पौधरोपण के लक्ष्य को लेकर जिले के विभिन्न ग्रामों जिसमें जन अभियान परिषद के वालेंटियर्स पौधरोपण कर रहे हैं। जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक व अंकुर कार्यक्रम के जिला सहायक नोडल अधिकारी श्रीमति पूजा श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में अंकुर अभियान के अंतर्गत विकासखंड समन्वयकों के नेतृत्व में परिषद के वालेंटियर्स, नवांकुर संस्था, बीएसडब्ल्यू छात्र, प्रस्फुटन समिति के द्वारा पौध रोपण के साथ ही लोगों को वृक्षों के महत्व से अवगत कराते हुए बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वृक्षों से ही हमे प्राण वायु अर्थात ऑक्सीजन मिलती है और ऑक्सीजन की हमारे जीवन मे क्या महत्ता है, यह हम कोरोना की दूसरी लहर में भली भांति जान सके है। इस कार्यक्रम के तहत वायुदूत एप्प में प्रथम पौधरोपण की फोटो अपलोड करने के पश्चात वृक्षारोपण के 30 दिवस बाद पुनः नवरोपित पौधों की नवीन फोटो एप पर अपलोड करना होगी। तदपश्चात प्रतिभागी सहभागिता प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकेंगे। जिलेवार चयनित विजेताओं को मुख्यमंत्री जी द्वारा प्राणवायु अवार्ड से सम्मानित कर प्रमाण पत्र प्रदान किये जायेंगे। जन सामान्य द्वारा किये गये वृक्षारोपण का सत्यापन जन अभियान परिषद एवं राष्ट्रीय हरित कोर योजना के वैरिफायर द्वारा पौधरोपण स्थल पर जाकर किया जावेगा।


त्रैमासिक, छमाही, प्रीबोर्ड एवं मुख्य परीक्षा के अंकों की ऑनलाइन प्रविष्टि करने के निर्देश


माध्यमिक शिक्षा मण्डल मध्यप्रदेश से संबद्ध शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत कक्षा - 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के मौजूदा शैक्षणिक सत्र के त्रैमासिक, छमाही, प्रीबोर्ड एवं मुख्य परीक्षा के अंकों की ऑनलाइन प्रविष्टि की जानी है। एमपी ऑनलाइन के जरिए 15 जनवरी तक यह प्रविष्टियां सुनिश्चित करने के आदेश संबंधित शिक्षण संस्थाओं को पूर्व में ही जारी किए जा चुके हैं। ऐसी शिक्षण संस्थायें जिन्होंने अभी तक यह काम नहीं किया है, उनको माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा सचेत किया गया है कि इस काम को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराएं। इस कार्य के लिये तिथि में वृद्धि नहीं की जायेगी और न ही ऑफलाईन अंक मान्य किए जायेंगे। डीएलएड द्वितीय अवसर के फॉर्म भरने की सुविधा 10 जनवरी तक माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा संचालित प्रारंभिक शिक्षा में पत्रोपाधि पाठ्यक्रम (D.EL.ED) प्रथम ध् द्वितीय वर्ष (द्वितीय अवसर) परीक्षा 12 जनवरी को शुरू हो रही है। ऐसे विद्यार्थी जिनका परीक्षा परिणाम 15 दिसम्बर के पश्चात घोषित किया गया है, उन्हें 10 जनवरी तक डीएलएड (द्वितीय अवसर) के परीक्षा आवेदन फॉर्म जमा करने की सुविधा दी गई है। 


आंगनबाड़ी केंद्रों के सुदृढ़ीकरण कर बाल रुचि अनुरूप बनाने का कार्यक्रम प्रारंभ


संचालक महिला एवं बाल विकास के हवाले से प्रदत्त जानकारी के अनुसार जिले में संचालित आंगनवाड़ी केंद्रों के आधारभूत ढांचे का सुदृढ़ीकरण अथवा सेवाओं के उन्नयन हेतु विभाग द्वारा कार्यक्रम जारी किया गया है। इस कार्यक्रम हेतु कोई भी कोई भी व्यक्ति अथवा संस्था एक अथवा अनेक आंगनवाड़ी केंद्रों को अडॉप्ट कर इन केंद्रों के आधारभूत ढांचे का सुदृढ़ीकरण अथवा सेवाओं का उन्नयन कर सकता है। अधिक जानकारी के लिए https://mpwcdmis.gov.in/awcadoptiondetails.aspx वेबसाइट पर संपर्क किया जा सकता है।


मिशन परिवार विकास पखवाडा 11 जनवरी से 25 जनवरी 2022 तक जिले में मनाया जायेगा  


परिवार कल्याण कार्यक्रम के अन्तर्गत मिशन परिवार विकास पखवाडा 11 जनवरी से 25 जनवरी 2022 तक जिले में मनाया जायेगा। परिवार नियोजन की सेवाओं के प्रति जागरूकता बढाने हेतु मिशन परिवार विकास पखवाडा का आयोजन जिले की सभी स्वास्थ्य संस्थाओं पर किया जायेगा। परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी गर्भ निरोधक साधनों के संबंध में जन समुदाय में जन जागरूकता लाने हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार किया जायेगा।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अखण्ड प्रतापसिंह द्वारा पखवाडे की अवधि में हरेक  एएन.एम, पुरूष स्वास्थ्य कार्यकर्ता, पुरूष स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा पुरुष सुपरवाईजर को पुरूष नसबन्दी करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। ताकि लक्ष्य पूर्ति की जा सके। पखवाडे के दौरान सभी विकासखण्डों पर फिक्स डे में नसबंन्दी ऑपरेशन और जिला चिकित्सालय मुरैना में प्रतिदिन महिला एवं पुरूष नसबंन्दी ऑपरेशन किये जायेगे। डॉ. एपी सिंह के द्वारा आम नागरिक से अपील की है कि मिशन परिवार विकास पखवाडे के दौरान अधिकाधिक लक्षित हितग्राहियों का मोबलाईजेशन किया जाना सुनिश्चित करें। 


आनंद उत्सव 2022 के आयोजन के संबंध में दिशा-निर्देश, आनंद उत्सव का आयोजन 14 जनवरी से


प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी 14 जनवरी से आनंद उत्सव का आयोजन किया जायेगा। यह उत्सव 28 जनवरी 2022 तक मनाया जायेगा। आनंद उत्सव का उद्देश्य नागरिकों में सहभागिता एवं उत्साह को बढ़ाने के लिये समूह स्तर पर खेल-कूद और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। आनंद उत्सव की मूल भावना प्रतिस्पर्धा नहीं वरन् सहभागिता होगी। यह आयोजन नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित किये जायेंगे। प्रथम चरण में ग्रामीण एवं नगरीय निकाय क्षेत्रों में 14 जनवरी से 28 जनवरी 2022 में किये जायेंगे। द्वितीय चरण (वैकल्पिक) में जिला स्तर पर आयोजित किये जायेंगे।  जिला आनंदम सहयोगी श्री विजय श्रीवास्तव  ने बताया कि विदिशा विकासखण्ड में आनंद उत्सव के परिपेक्ष्य में की जाने वाली तैयारियों हेतु 12 जनवरी को जनपद पंचायत विदिशा के सभागार कक्ष में दोपहर तीन बजे से एक बैठक आयोजित की गई है।


यूडीआईडी कार्ड होल्डर दिव्यांग देश में कहीं से भी ले सकते हैं सरकारी योजनाओं का लाभ


मध्यप्रदेश दिव्यांगों के यूनिक डिसएबिलिटी आई. डी. कार्ड (यूडीआईडी) बनाने में देश में शीर्ष स्थान पर है। बड़े राज्यों में मध्यप्रदेश ने 103 प्रतिशत से अधिक की उपलब्धि हासिल की है। भारत सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य 6 लाख 60 हजार 313 के विरुद्ध प्रदेश में 6 लाख 83 हजार 551 दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनाये जा चुके हैं। यूडीआईडी परियोजना का उद्देश्य दिव्यांगजन को शासकीय योजनाओं का लाभ आसानी से उपलब्ध कराना है। इस कार्ड से दिव्यांग देशभर में कहीं भी अपनी पहचान बताकर इलाज करा सकते हैं। नये दिव्यांगता प्रमाण-पत्र एवं पुराने प्रमाण-पत्रों के नवीनीकरण की कार्यवाही सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा सतत रूप से जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और सिविल सर्जन के समन्वय से की जा रही है। यूडीआईडी कार्ड बनाने, नवीनीकरण, पुनः प्राप्त करने, आवेदन की वस्तु-स्थिति जानने, निःशक्तता प्रमाण-पत्र को डाउनलोड करने और व्यक्तिगत प्रोफाइल को अपडेट करने की सुविधा ऑनलाइन www.savlambancard.gov.in  पर उपलब्ध है।


रोजगार मेले में 100 हितग्राहियों को आमंत्रित करने के निर्देश, कोरोना प्रोटोकॉल का हो पालन करें


12 जनवरी बुधवार को रोजगार दिवस पर प्रदेश के सभी जिलों में लगने वाले रोजगार मेलों में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर अधिकतम 100 हितग्राहियों को ही आमंत्रित किया जाएगा। रोजगार मेला का मुख्य कार्यक्रम भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे हाल (मिंटो हाल) में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में होगा। समारोह का इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सीधा प्रसारण भी किया जाएगा। सचिव एमएसएमई और आयुक्त उद्योग श्री पी. नरहरि ने सभी जिलों के कलेक्टर्स से कहा है कि कोविड के बढ़ते मामलों के दृष्टिगत राज्य तथा केंद्र सरकार की कोविड गाइडलाइन का पालन रोजगार मेले में किया जाए। उन्होंने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि रोजगार मेलों में किसी भी जिले में 100 से अधिक लाभार्थी न बुलाए जाएँ। उन्होंने कहा कि राज्य स्तरीय मुख्य समारोह के सीधे प्रसारण की भी कार्यक्रम में सुसंगत व्यवस्था करें। 


मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना के तहत कर सकते हैं आवेदन


मध्यप्रदेश शासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक ग्राम पंचायत क्षेत्र में आबादी क्षेत्र की भूमि पर पात्र परिवारों को आवासीय भू-खण्ड उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना प्रारंभ की जा रही है। योजना के तहत प्राप्त आवेदन तथा स्वीकृत प्रकरणों की ऑनलाईन मॉनीटरिंग एवं कार्य की प्रगति की समीक्षा प्रमुख राजस्व आयुक्त द्वारा की जाएगी। SAARA पोर्टल पर प्राप्त आवेदनों की सूची तहसीलदार आईडी से देखी जा सकती है। योजना के तहत ऐसे आवेदक परिवार जिनके पास स्वतंत्र रूप से रहने के लिए आवास है तथा पॉच एकड़ से अधिक भूमि है, उन्हें योजना का लाभ नहीं मिलेगा। इसके अतिरिक्त आवेदक परिवार सार्वजनिक वितरण प्रणाली पीडीएस दुकान से राशन प्राप्त करने के लिए पात्रता पर्ची धारित नहीं करता है। आवेदक परिवार का कोई भी सदस्य आयकर दाता है या आवेदक परिवार का कोई भी सदस्य शासकीय सेवा में है तो उसे योजना का लाभ नहीं मिलेगा। आवेदक को मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना के तहत आवासीय भू-खण्ड प्राप्त करने के लिए ऑनलाईन SAARA पोर्टल के माध्यम से निर्धारित प्रारूप में आवेदन प्रस्तुत करना होगा।


गाँव की बेटी और प्रतिभा किरण योजना में आवेदन की अंतिम तिथि 20 जनवरी


शैक्षणिक सत्र 2021-22 में नवीन प्रवेशित छात्राओं के लिए गाँव की बेटी योजना एवं प्रतिभा किरण योजना में आवेदन करने के लिए छात्रवृत्ति पोर्टल 2.0 पर आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 20 जनवरी 2022 निर्धारित की गई है। छात्रवृत्ति के लिए ऑफलाइन आवेदन मान्य नहीं होंगे। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा शुरू की गई “गाँव की बेटी“ योजना में ग्रामीण क्षेत्र की बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से 500 रूपए प्रतिमाह की दर से 10 माह तक प्रतिवर्ष छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। योजना के तहत मध्यप्रदेश राज्य के शहरी क्षेत्र की निवासी मेधावी छात्राएँ, जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन कर रही हैं और अच्छे अंकों से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण हुई हैं, ऐसी छात्राओं को प्रतिवर्ष 5 हजार रूपये छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। 


तुषार, पाले एवं शीत लहर से बचाव के लिए किसानों को सलाह


वर्तमान में चल रही शीतलहर को दृष्टिगत रखते हुए कृषि विभाग द्वारा शीत लहर एवं तुषार, पाले की सम्भावना वाले मौसम में, शीत एवं पाले के प्रति अति संवेदनशील फसलें जैसे-सब्जी, भाजी एवं चना, सरसों, मटर की फसल के चारों ओर शाम के समय खेत के उत्तर-पश्चिम हिस्से में धुआं करने की किसानों को सलाह दी गई है। पाला पड़ने की संभावना पर फसलों पर जल विलेय सल्फर 80 प्रतिशत की 500 ग्राम मात्रा प्रति एकड़ की दर से छिड़काव करने एवं खेतों से खरपतवार की निदाई- गुड़ाई कर निकलवाने की सलाह दी गई है ताकि खेत में वायु एवं प्रकाश पर्याप्त रूप से फसल को प्राप्त होता रहे और मौसम की विपरीत दशाओं से फसल को सुरक्षा प्राप्त हो सके।

कोई टिप्पणी नहीं: