अब शहरवासियों को भी मिल सकेगा जैविक उत्पाद का स्वाद, निरोगी रहेगी काया! - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 4 फ़रवरी 2022

अब शहरवासियों को भी मिल सकेगा जैविक उत्पाद का स्वाद, निरोगी रहेगी काया!


जनजाति अंचल में वाग्धारा संस्था द्वारा चलाए जा रहे खाद एवं कीटनाशक मुक्त खेती की और चलाये जास  रहे अभियान में बडी सफलता हासिल करते हुए अब जनजातिय क्षैत्र मंे अधिकांश किसान जैविक उत्पादन कि तरफ बढ रहे है। वाग्धारा संस्था के प्रयासो से बांसवाडा जिले में 314 जैविक किसान समुहो को गठन किया है। जिसमें 1600 किसान जुडे हुएए है यह किसान पुरी तरह से जैविक खेती कर रहे है और उनके उत्पाद पुरी तरह से जैविक है जिसमें काली कमोद चावल, चना, मुंग, तुअर, उडद, मटर, कोदरा, बट्टी कुरी, माल इत्यादि समस्त प्रकार के उत्पादो का बाजार अब वाग्धारा संस्था के जैविक रथ के माध्यम से शहरवासियो को सुलभता से उपलब्ध हो पायेगा। आज राजस्थान सरकार के कैबिनेट मंत्री महेंद्रजीत सिंह मालवीय के द्वारा आज इस अनाज रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया इस मौके पर मंत्री मालवीय जी द्वारा बताया गया कि जनजातीय क्षेत्र में संस्था के द्वारा बहुत ही सराहनीय कार्य किए जा रहे हैं जिसमें आज जैविक उत्पाद भी शहर वासियों को भी सुलभता से घर-घर उपलब्ध हो सकेगा। जिसमें स्वास्थ्य स्वस्थ रहेगा जो हमे अनेक प्रकार कि बीमारीयो से दुर रखेगा। इसमें खाद एवं कीटनाशक दवाईयो को प्रयोग नही किया जाता है। जिला कलेक्टर अंकित कुमार सिंह के द्वारा बताया गया कि मुझे भी वाग्धारा संस्था के कार्यो को नजदीकी से मेंने भी देखा है जिसमें इनके कार्यक्रर्ताओ के द्वारा वास्तव में सच्ची लगन एवं दृढता के साथ मंे इस क्षैत्र में कार्यरत है। इनके द्वारा जो भी कार्यक्रत चलाये जा रहे है। वह वास्तव में लोगो के लाभ कारी है। आज जो जैविक रथ तैयार किया गया है वह शहरवासियो के लिए बहुत ही कारगर सिद्ध होगा पूर्व मे जिला प्रशासन के साथ मिलकर पोषण स्वराज अभियान चलाया जिसमें क्षैत्र के कुपोषित बालक-बालिकाओ को सार्वधिक  लाभ पहुचा वाग्धारा संस्था सचिव जयेश जोशी द्वारा बताया गया कि संस्था के द्वारा जनजाति क्षेत्र में जैविक खेती को लेकर शुरु से ही कार्यरत है। संस्था का मुल उददेश्य क्षैत्र के किसानो को कम खर्च अत्यधिक आय एवं जैविक उत्पाद कि और ले जाना है। संस्था इस और बहुत समय से कार्यरत है। जैविक उत्पादो से लोगे के स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पडेगा एवं संस्था का मुख्य उददेश्य शहरवासियो को सुलभता से जैविक रथ के माध्यम उत्पाद उपलब्ध करवाना है। वाग्धारा संस्था के कृषि विशेषज्ञ पी.एल. पटेल द्वारा समस्त उतपादो के बारे में विस्तृत बताया गया कि किस प्रकार से हमारे जनजाति किसान भाईयो को अब जैविक उत्पादो के माध्यम से आय में बढोत्तोरी हुई है साथ ही किसानो के खेती के खर्च में कमी आई है। कार्यक्रम में महेन्द्रजीत सिह मालविया, जिला प्रमुख रेशम मालविया, पूर्व संसदीय सचिव नाना निनामा, जिला कलेक्टर अकिंत कुमार सिंह जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी भवानी सिह पालीवत, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी हिरालाल ताबियार, वाग्धारा के परमेश पाटीदार, नरेश पाटीदार, माजिद खान, अंगद पटेल इत्यादि उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अन्त  सभी अतिथियो को माजिद खान एवं परमेश पाटीदार द्वारा आभार व्यक्त किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: