IPL : कोलकाता ने चैंपियन चेन्नई को हरा कर शानदार आगाज़ किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 27 मार्च 2022

IPL : कोलकाता ने चैंपियन चेन्नई को हरा कर शानदार आगाज़ किया

kkr-beat-csk-in-opening-match
मुंबई, 26 मार्च, पिछले उपविजेता कोलकाता नाईट राइडर्स ने शानदार प्रदर्शन करते हुए गत चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स को शनिवार को आईपीएल के उद्घाटन मुकाबले में नौ गेंद शेष रहते छह विकेट से हराकर चौंका दिया। चेन्नई ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए महेंद्र सिंह धोनी के विस्फोटक अर्धशतक की बदौलत 20 ओवर में पांच विकेट पर 131 रन का सम्मानजनक स्कोर बनाया जबकि कोलकाता में 18.3ओवर में चार विकेट पर 133 रन बनाकर चार बार के चैंपियन चेन्नई को हार झेलने के लिए मजबूर कर दिया। कोलकाता की जीत में उसके गेंदबाजों का प्रमुख योगदान रहा जिन्होंने नए कप्तान रवींद्र जडेजा की अगुवाई में उतरे चेन्नई को जमीन सुंघा दी। कोलकाता की तरफ से ओपनर अजिंक्या रहाणे ने 34 गेंदों पर 44 रन की शानदार पारी खेली जिसमें उन्होंने छह चौके और एक छक्का लगाया। कोलकाता के लिए वेंकटेश अय्यर ने 16, नीतीश राणा ने 21, कप्तान श्रेयस अय्यर ने 20 और सैम बिलिंग्स ने 25 रन बनाये। चेन्नई की तरफ से ड्वेन ब्रावो ने 20 रन देकर सर्वाधिक तीन विकेट लिए। ब्रावो के आईपीएल इतिहास में 170 विकेट हो गए हैं। ऐसे में आईपीएल में सबसे ज्‍यादा विकेट लेने के मामले में उन्‍होंने लसिथ मलिंगा की बराबरी कर ली है। इससे पहले चेन्नई की टीम टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी और खराब और सुस्त शुरुआत की। उसके सलामी बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ और डेवोन कॉनवे सस्ते में निपट गए। दोनों बल्लेबाज क्रमश: शून्य और तीन रन बना कर आउट हुए। 28 के स्कोर पर शुरुआती दो विकेट गिरने के बाद चेन्नई की हालत इतनी बदतर हो गई कि उसने 11 ओवर तक महज 64 रन बना कर पांच विकेट खो दिए।


फिर हालांकि टीम के नव नियुक्त कप्तान रवींद्र जडेजा और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की जोड़ी ने टीम को संकट से उबारा। दोनों बल्लेबाजों ने पहले जुझारू तरीके से खेलते हुए विकेट बचाया और फिर अंत में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए टीम को चुनौती देने योग्य स्कोर तक पहुंचाया। दोनों बल्लेबाजों ने छठे विकेट के लिए 70 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। धोनी ने अपना पुराना रूप दिखाया और विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए सात चौकों और एक छक्के के सहारे 38 गेंदाें पर नाबाद 50 रन बनाए, जबकि जडेजा ने एक छक्के की मदद से 28 गेंदों पर 26 रन बनाए। अनुभवी बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा ने भी दो चौकों और दो छक्कों के सहारे 21 गेंदों पर 28 रन का योगदान दिया। धोनी और जडेजा ने आखिरी तीन ओवराें में तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की और 47 रन बटौरे। सबसे ज्यादा 18 रन आंद्रे रसेल के 20वें ओवर से आए, जिसमें धोनी ने दो चौके और जडेजा ने आखिरी गेंद पर छक्का जड़ा। कोलकाता की ओर से उमेश यादव, वरुण चक्रवर्ती और सुनील नारायण शानदार गेंदबाजी की। उमेश ने जहां चार ओवर में 20 रन पर सर्वाधिक दो, वहीं वरुण ने चार ओवर में 23 रन पर एक विकेट लिया। रसेल को भी एक विकेट मिला, लेकिन वह बहुत महंगे साबित हुए। सबसे किफायती नारायण रहे, जिन्होंने चार ओवर में महज 15 रन दिए।

कोई टिप्पणी नहीं: