बिहार : मुकेश सहनी एनडीए का अंदरूनी मामला : चिराग - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 27 मार्च 2022

बिहार : मुकेश सहनी एनडीए का अंदरूनी मामला : चिराग

mukesh-sahni-nda-internal-issue-chirag-paswan
पटना : लोजपा नेता चिराग पासवान ने नीतीश कैबिनेट के अंदर वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी को बाहर करने के लेकर कहा कि सब एनडीए का अंदरूनी मामला है, उनके साथ गठबंधन क्या फैसला करती है, वही लोग जानें। वहीं, मुकेश सहनी के मंत्री पद से इस्तीफा वाली बात पर चिराग ने कहा कि यह उनके गठबंधन के अंदर का मामला है कि उनके बीच क्या बातचीत हुई। 2020 में भी वह महागठबंधन के साथ थे और चुनाव की अधिसूचना के बाद एकाएक एनडीए का हिस्सा बने तो उस वक्त भाजपा से उनकी क्या बातचीत हुई और अब क्या बातचीत हुई ये नहीं कह सकते। चिराग पासवान ने साफ़ कहा कि मुकेश सहनी को गठबंधन में रहना चाहिए या इस्तीफा देना चाहिए इसके लिए वह अधिकृत नही हैं। यह बात जो उनके घटक दल हैं वही जान सकते हैं। इसके साथ ही सहनी के पार्टी के तीनों विधायक के भाजपा में शामिल होने पर चिराग ने कहा कि यह सब राजनीति का हिस्सा है। वह पहले मंत्री या पहला दल नहीं जिनके साथ ऐसा हुआ। आप उदाहरण के तौर पर हमारी पार्टी को भी देख सकते हैं। यह जो भी घटना घटी, यह पूरी तरह से मुकेश सहनी और उनकी पार्टी का अपना व्यक्तिगत विषय है। जिसकी वजह से चुनाव लड़ना और आने वाले दिनों में उन्होंने जिस तरह से बताया या उनके विधायक संभवत सहमत नहीं थे और उनका इंटरनल मामला है। बिहार की राजनीति में शुरू से ही ऐसा देखते आ रहा हूं। कोई ऐसे विधायक होंगे जो ऐसे दल में अपनी विचारों और महत्वाकांक्षी होते हों। चिराग ने कहा कि मैं अपनी पार्टी का उदाहरण दूँ तो हमारे नेता रामविलास पासवान ने जब से पार्टी बनाई, लोगों ने देखा कि महत्वाकांक्षी और पार्टी के विधायक आते जाते रहते।

कोई टिप्पणी नहीं: