विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 27 मार्च - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 27 मार्च 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 27 मार्च

विदिशा जिले में 14956 हितग्राहियों को 29 मार्च को दिलायेंगे गृह प्रवेश


प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत गृह प्रवेश कार्यक्रम प्रधानमंत्री की उपस्थिति में गूगल मीट के माध्यम से 29 मार्च की प्रातः 11ः30 बजे से किया जायेगा, जिसमें विदिशा जिले के 14 हजार 956 हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया जाएगा। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि विदिशा जिले में जिन हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया जा रहा है उनके आवास पूर्ण सुसज्जित हो चुके हैं साथ ही शौचालय का निर्माण कराया जा चुका है वहीं संबंधित हितग्राहियों को अन्य विभागों की योजनाओं से भी लाभान्वित किया गया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि विदिशा जिले के कुल 14 हजार 956 हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया जाएगा, जिसमें विकासखंड वार हितग्राहियों की संख्या इस प्रकार से है- विदिशा जनपद में 1580, बासौदा में 2958, कुरवाई में 1820, सिरोंज में 2847, लटेरी में 1869, नटेरन में 2158, ग्यारसपुर विकासखंड में 1724, हितग्राहियों को गृह प्रवेश दिलाया जायेगा।  कलेक्टर श्री भार्गव ने समस्त जिला अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि 14 हजार 956 हितग्राहियों को विभिन्न विभागों द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं से गृह प्रवेश आयोजन तिथि से पहले लाभांवित करना है, जिसमें उन हितग्राहियों को सीमांकन, संबल, पीडीएस, शिक्षा, छात्रवृत्ति स्ट्रीट वेंडर, जेएसवाय, वैक्सीनेशन आयुष्मान कार्ड, पशुपालन के तहत केसीसी, एनएससी महिला बाल विकास और एससी, एसटी लोगों को मिलने वाली योजना का भी लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित करें, जिसकी सूची मुझे संबंधित विभाग उपलब्ध कराये। इसके अलावा एसडीएम अपने-अपने स्तर से यह सुनिश्चित करें कि संबंधित योजना का लाभ हितग्राही को मिले। प्रत्येक हितग्राही की ओर से धन्यवाद पत्र एवं गृह प्रवेश का फोटो वेबसाइट पर अपलोड हो, यह समस्त जनपद सीईओ सुनिश्चित करें। जिला स्तरीय कार्यक्रम विदिशा विकासखंड के ग्राम सुनपुरा में आयोजित किया जाएगा आयोजन के मद्देनजर आवश्यक व्यवस्थाओं की पूर्ति सुनिश्चित कराए जाने हेतु दिशा-निर्देशों दिए गए हैं। संबंधित जनपद सीईओ नेटवर्किंग आदि का प्रबंध करें, जिससे प्रधानमंत्री के उदबोधन को बिना किसी व्यवधान के सुनाया जा सके। इसके अलावा सभी जनपदों एवं ग्राम पंचायत स्तर पर भी प्रधानमंत्री का उदबोधन सुनाने का प्रबंध किया जाये।  कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कहा कि आवास पोर्टल पर पूर्ण सभी नव निर्मित आवासों की जनपदवार, ग्राम पंचायतवार, हितग्राहीवार सूची गृह प्रवेश के लिये तैयार की गई है। यह कार्यक्रम समस्त ग्राम पंचायतों, जनपद पंचायतों एवं जिला पंचायतों पर आयोजित एवं प्रसारित किया जाये।  उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम प्रदेशभर में आयोजित होंगे, जिलों में विभिन्न स्थानों पर मंत्री, सांसद, विधायक तथा स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं हितग्राही सम्मिलित होंगे तथा मुख्य कार्यक्रम से ऑनलाइन जुड़ेंगे। प्रधानमंत्री का संबोधन सभी कार्यक्रम स्थलों पर दिखाया, सुनाया जायेगा तथा दूरदर्शन, फेसबुक, यूटयूब, वेबकॉस्ट लिंक द्वारा प्रसारित होगा। समस्त हितग्राहियों को उक्त कार्यक्रम में भागीदारी की सूचना मोबाइल के माध्यम से एसएमएस व अन्य माध्यम से देना सुनिश्चित किया जाये। जिला पंचायत, सभी जनपद पंचायत, ग्राम पंचायतों तथा अन्य संलग्न विभागों को इस कार्यक्रम से कनेक्ट किया जाना सुनिश्चित करें। 


सोशल मीडिया प्लेटफार्म का उपयोग-

कलेक्टर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत के टिवीटर हैंडल, फेसबुक पेज पर व सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफार्म से कार्यक्रम का कैम्पेन जिला जनसंपर्क अधिकारी के माध्यम से इस कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार के लिये मीडिया कैम्पेन चलाया जाये। टवीटर हैंडल, फैसबुक पेज पर भी इसका प्रचार प्रसार किया जाये। जिले के त्रिस्तरीय पंचायतों के सभी अधिकारी, कर्मचारियों, को इस कार्यक्रम से जोड़ा जाये। गृह प्रवेश के कार्यक्रम में स्थानीय जनप्रतिनिधियों व गणमान्य व्यक्तियों को भी आमंत्रित किया जाये।


नोडल अधिकारी-

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने प्रत्येक कार्यक्रम के लिए एक एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया हैं। उन्होंने कहा कि जिन ग्राम पंचायतों जनपद पंचायतों में कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं वहां जिला स्तरीय कार्यक्रम की तर्ज पर नोडल अधिकारी अपनी उपस्थिति में हितग्राहियों को गृह प्रवेश दिलाना सुनिश्चित करेंगे साथ ही की गई संपूर्ण कार्यवाही का पालन प्रतिवेदन जिला पंचायत को उपलब्ध कराएंगे वहीं सोशल मीडिया के प्लेटफार्म पर त्वरित फोटो अपलोड के प्रबंधों में सहयोगप्रद करने हेतु उन्हें अधिकृत किया गया है।


मुख्य अतिथियों की विधानसभा वार सूची-

कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले की पांचों विधानसभाओं के लिए ग्राम पंचायतोंवार गृह प्रवेश कार्यक्रम के लिए अतिथि और मुख्य अतिथि की उपस्थिति में गृह प्रवेश दिलाया जाने के कार्य निर्विघ्न रुप से संपन्न हो के संबंध में भी आवश्यक दिशा निर्देश ही जारी नहीं किए बल्कि विधानसभा वार जिन ग्रामों में उपरोक्त कार्यक्रम का आयोजन होना है तथा कौन  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे एवं अध्यक्षता करेंगे इत्यादि के नामों की मयमोबाइल नंबर सहित जारी की है।


कन्या महाविद्यालय में स्वच्छता सप्ताह का आयोजन


vidisha news
शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय विदिशा में स्वच्छता सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। इसका आरंभ 26 मार्च को हुआ तथा समापन 31 मार्च को किया जाएगा। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ मंजू जैन ने कहा कि स्वच्छता को एक मूल्य और आदत के रूप में विकसित किये जाने की आवश्यकता है। अतः स्वच्छता के प्रति जागरुकता लाने के लिए इसका आयोजन हो रहा है। प्राचार्य ने स्वच्छता-शपथ दिलाकर इसकी शुरूआत की। भोपाल-नर्मदापुरम संभाग के अतिरिक्त संचालक डॉ मथुरा प्रसाद ने हस्ताक्षर अभियान को अपना समर्थन दिया। इस अवसर पर पक्षियों के पानी पीने लिए महाविद्यालय में सकोरे रखे गये। स्वच्छता सप्ताह के अंतर्गत 27 मार्च को वेबिनार आयोजित किया गया। वायु प्रदूषणरू कारण और निवारण पर बोलते हुए विशेष वक्ता डॉ जयश्री बोराना, प्राध्यापक वनस्पतिशास्त्र एसएसएल जैन महाविद्यालय विदिशा ने वायु प्रदूषण पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि यह मानवजनित समस्या है, इसलिए हमें भी इसके निवारण के लिए सोचना पड़ेगा। मुख्य वक्ता डॉ कुसुम माथुर प्राध्यापक भूगोल सरोजिनी नायडू शासकीय महाविद्यालय भोपाल ने जल प्रदूषणरू कारण और निवारण पर अपने विचार रखे। आज नदियाँ प्रदूषित हो रही हैं और पेय जल लगातार कम हो रहा है। इसलिए इस पर विचार किया जाना चाहिए और जरूरी कदम उठाये जाने चाहिए। कार्यक्रम का संयोजन इको क्लब प्रभारी डॉ रेखा श्रीवास्तव ने किया तथा सह-संयोजक डॉ ज्योति मिश्रा ने सहयोग किया। कार्यक्रम का संचालन प्रो रवि रंजन ने किया। इस वेबिनार में महाविद्यालय के प्राध्यापक एवं छात्राएं बड़ी संख्या में सम्मिलित हुइंर्। 


जीवन अमृत योजना में 11 लाख 78 हजार 76 हितग्राहियों को मिला लाभ, वैद्य आपके द्वार योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु राष्ट्रीय स्तर पर मिला सिल्वर मेडल


vidisha news
आयुष विभाग जिला विदिशा द्वारा विगत 2 वर्षों से निरंतर की जा रही गतिविधियों और क्रियाकलापों की जानकारी से अवगत कराते हुए जिला आयुष अधिकारी डॉ दिनेश कुमार अहिरवार ने बताया कि पिछले 2 वर्ष में कोरोनाकाल से लेकर वर्तमान में शासन द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं का लाभ आयुष विभाग के अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा आमजनों तक पहुंचाया गया है।


शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी इस प्रकार है-

जीवन अमृत योजना-

आयुष विभाग मध्यप्रदेश शासन के द्वारा कोरोना संक्रमणकाल में जनमानस की रोग प्रतिरोध क्षमता में वृद्धि करने के उद्देश्य से जीवन अमृत योजना प्रारंभ की गई। जिसके तहत आयुष विभाग के अधिकारी, कर्मचारियों ने कोविड-19 संक्रमण काल में कोरोना संक्रमित क्षेत्र में डोर-टू-डोर जाकर आयुष औषधि त्रिकटु चूर्ण का (काढ़ा), आर्सनिक एल्बम-30, निर्धारित यूनानी औषधियों का निशुल्क वितरण किया गया। वर्तमान में योजना अंतर्गत औषधालयों के माध्यम से त्रिकटु चूर्ण (काढ़ा) एवं अन्य आयुष औषधियों के वितरण का कार्य संपादित किया जा रहा है। योजना आरंभ दिनांक से वर्तमान तक कुल 11 लाख 78 हजार 76 व्यक्तियों को इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित किया जा चुका है।


आरोग्य कषायम-20 का वितरण-

कोरोना संक्रमण काल में कोविड-19 संक्रमित रोगियों के स्वास्थ्य लाभ व रोग प्रतिरोध क्षमता में वृद्धि के उद्देश्य से आयुष विभाग जिला विदिशा द्वारा क्वारंटीन संस्थाओं यथा जिला चिकित्सालय व मेडिकल कॉलेज विदिशा में भर्ती संक्रमित मरीजों को आयुष औषधि आरोग्य कषायम-20 काढ़े का सेवन कराया गया। वर्तमान तक 1350 कोविड पॉजिटिव रोगियों ने स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया है।


योग से निरोग-

जिला अंतर्गत कोरोना संक्रमित मरीजों व पोस्ट कोविड (संक्रमण से स्वस्थ हुए व्यक्तियों) के स्वास्थ्य में शीघ्र संपूर्ण सुधार लाने हेतु आयुष विभाग जिला विदिशा अंतर्गत पंजीकृत 16 योग प्रशिक्षकों के माध्यम से ऑनलाइन योगाभ्यास व पांच दिवसीय योग प्रशिक्षण का कार्यक्रम चलाया जा रहा है। वर्तमान तक विदिशा जिला अंतर्गत 5341 कोरोना संक्रमित मरीजों व 2627 पोस्ट कोविड व्यक्तियों कुल 7968 व्यक्तियों की मैपिंग कर उन्हें स्वास्थ्य लाभ प्रदान किया गया है।


मलेरिया ऑफ 200 का वितरण-

प्रत्येक वर्ष की भांति वर्ष 2021 के माह अगस्त में जिला अंतर्गत चिन्हित मलेरिया संक्रमित क्षेत्रों (15 ग्राम) में आयुष होम्योपैथी औषधि मलेरिया ऑफ-2000 का निशुल्क वितरण किया गया। इस कार्यक्रम के अंतर्गत दो चरणों में 7080 व्यक्तियों को लाभान्वित किया गया है।


पोषण माह का आयोजन-

प्रत्येक वर्ष की भांति वर्ष 2021 में भी सितंबर माह को पोषण माह के रूप में मनाया गया। आयुष विभाग के अधिकारी, कर्मचारियों के द्वारा आंगनबाड़ी, विद्यालयों, शासकीय संस्थाओं में पहुंचकर पोषण आहार के महत्व संबंधी बैनर, पोस्टर व भोजन से बनाई हुई झांकियों के माध्यम से भोजन में पोषण के महत्व, संतुलित दिनचर्या, नियमित व्यायाम व योग संबंधी जानकारियों से जनमानस को अवगत कराया है।


आयुष आपके द्वार-

आयुष आपके द्वार कार्यक्रम अंतर्गत आयुष विभाग के अधिकारी, कर्मचारियों के द्वारा संस्था, औषधालय ग्राम व आसपास के क्षेत्रों के विद्यालयों में जाकर आयुष पद्धति के लाभ, दिनचर्या, औषधिये पौधों, वृक्षों के महत्व, योग व आयुष दिनचर्या से विद्यार्थियों का ज्ञानवर्धन करते हुए स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें 2241 विद्यार्थी व अन्य लोगों को स्वास्थ्य लाभ दिया गया। कुछ अन्य कार्यक्रमों में जिला स्तर पर एसएटीआई कॉलेज में आयुष पद्धति पर व्याख्यान का आयोजन व शासकीय बेतवा उद्यान जतरापुरा विदिशा में आयुष पद्धति पर व्याख्यान के साथ औषधिये पौधों का वितरण किया जाना सम्मिलित है।


वैद्य आपके द्वार-

आयुष विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा संचालित योजना वेध आपके द्वार के माध्यम से आम नागरिक मैप आईटी द्वारा निर्मित एप आयुष क्योर पर अपना रजिस्ट्रेशन कर आयुष पद्धति की समस्त पैथियों (आयुर्वेद, होम्योपैथी, यूनानी) के विशेषज्ञों से ऑनलाइन परामर्श प्राप्त कर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। योजना के सफल क्रियान्वयन को देखते हुए वैध आपके द्वार योजना को राष्ट्रीय स्तर पर स्कोच अवॉर्ड में सिल्वर मेडल से सम्मानित किया गया है।  


प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, शहरी क्षेत्र के श्रमिकों को मिलेगी वृद्धावस्था पेंशन


शहरी क्षेत्रों के असंगठित श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ दिया जायेगा। योजना में पंजीयन का कार्य शुरू कर दिया गया है। आजादी के अमृत महोत्सवष् में सभी पात्र श्रमिकों का पंजीयन अभियान चलाकर किया जाएगा। इस योजना में असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को वृद्धावस्था में पेंशन एवं सामाजिक सुरक्षा का लाभ मिल सकेगा। प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ स्ट्रीट वेन्डर, मिड-डे-मील वर्कर, बोझा ढोने वाले,  ईट भठ्ठा मजदूर, मोची, कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कामगा, धोबी, रिक्शा चालक, भूमिहीन मजदूर, कृषि श्रमिक, निर्माण श्रमिक, बीड़ी श्रमिक, हथकरघा श्रमिक,  चमड़ा श्रमिक, दृश्य-श्रव्य बाधित श्रमिक, दैनिक वेतन भोगी, सफाई कर्मचारी, ऑउटसोर्स संस्था द्वारा नियोजित कर्मचारी, सफाई कर्मचारी या इसी तरह के अन्य व्यवसाय में काम करने वाले श्रमिकों को दिया जा सकता है। प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास श्री मनीष सिंह द्वारा सभी नगर निगमों, नगर पालिकाओं और नगर परिषदों को इस संबंध में कार्यवाही के आदेश जारी कर दिए गए हैं। 


फसलों का समर्थन मूल्य घोषित, जिले में गेहूं का उपार्जन कार्य 170 केन्द्रों पर 4 अप्रैल से 16 मई तक होगा


रबी विपणन वर्ष 2022.23 में फसलों का समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है । जिस के अनुसार  गेहूँ 2015, रुपए प्रति क्विंटल  जौ चना 5230,  प्रति क्विंटल तथा  मसूर 5500, रुपए प्रति क्विंटल घोषित किया गया है। जिले में चना और मसूर का उपार्जन कार्य जारी है जबकि गेहूं का 170 उपार्जन केन्द्रों पर समर्थन मूल्य पर क्रय कार्य 4 अप्रैल से शुरू होगा। जो किसान अपनी उपज को समर्थन मूल्य पर विक्रय करना चाहते है। वे कृषक समर्थन मूल्य पर फसल विक्रय के लिए शीघ्र ही स्लॉट बुक करें। कृषकों के लिए स्लॉट बुकिंगूण्उचमनचंतहंदण्दपबण्पद पर की जा सकेगी।


पंचायतों की प्रारूप मतदाता सूची का प्रकाशन 4 अप्रैल को


मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने मध्यप्रदेश पंचायत निर्वाचन नियमों के तहत पंचायतों के आगामी निर्वाचन के मद्देनजर एक जनवरी 2022 की संदर्भ तिथि के आधार पर फोटो युक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुनरीक्षण वर्ष 2022 की तैयारी हेतु कार्यक्रम जारी किया है। आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार ग्राम पंचायतों की फोटोयुक्त प्रारूप मतदाता सूची का सार्वजनिक प्रकाशन 4 अप्रैल को ग्राम पंचायत एवं विहित स्थानों पर किया जायेगा। प्रारूप मतदाता सूची पर दावे-आपत्तियां प्राधिकृत कर्मचारी द्वारा विहित केन्द्रों पर 4 अप्रैल से 11 अप्रैल की दोपहर 3 बजे तक प्राप्त की जायेगी। प्राप्त दावे.आपत्तियों का निराकरण 16 अप्रैल तक किया जायेगा। दावे-आपित्तयों के निराकरण के बाद फोटोयुक्त अंतिम सूची का प्रकाशन संबंधित रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों द्वारा 25 अप्रैल को ग्राम पंचायतों एवं विहित स्थानों पर किया जायेगा। 


12 से 14 आयुवर्ग के बच्चों हेतु 147 स्थलों पर टीकाकरण सत्रों का आयोजन


विदिशा जिले के सभी विकासखण्डों में 12 से 14 आयुवर्ग के बच्चों को कोविड वैक्सीनेशन टीकाकरण के लिए 147 स्थलों पर सत्रों का आयोजन किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय ने बताया कि लक्ष्यों के अनुरूप शत-प्रतिशत निर्धारित आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण कार्य हो इसके लिए हर स्तर पर व्यापक प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। सीएमएचओ डॉ उपाध्याय ने बताया कि 60 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को भी कोविड-19 के प्रिकॉशन डोज जिला अस्पताल के अलावा राजीव गांधी जन चिकित्सालय सिरोंज एवं बासौदा के अलावा सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ उपाध्याय ने बताया कि 12 से 14 आयुवर्ग के बच्चों के लिए विकासखण्डवार टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया जाएगा। तदानुसार विदिशा विकासखण्ड में 20, बासौदा में 19, ग्यारसपुर में 25, कुरवाई में 12, नटरेन में 20, सिरोंज में 28 तथा लटेरी विकासखण्ड में 23 स्थलों पर टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने पूर्व उल्लेखित आयुवर्ग के बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण कार्य हो के लिए आमजनों से सहयोग प्राप्त करने की अपील की गई है।


मलिन बस्तियों में आउटरिच कैम्प का आयोजन आज


विदिशा शहरी क्षेत्र की ऐसी बस्तियां जो मलिन बस्तियों में शामिल हैं उन बस्तियों में रहने वाले नागरिकों के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु विशेष पहल की जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय ने बताया कि सोमवार 28 मार्च को विदिशा शहर की दो मलिन बस्तियों में आउटरिच कैम्प का आयोजन किया गया है। इन कैम्पों में चिकित्सक व कर्मचारी को दायित्व रोस्टर अनुसार सौंपे गए हैं। सीएमएचओ डॉ उपाध्याय ने बताया कि सोमवार 28 मार्च को दोपहर दो बजे से सांय पांच बजे तक जिन मलिन बस्तियों में उपचार कैम्पों का आयोजन किया गया है उनमें गली नं पांच करैयाखेड़ा तथा मां वैष्णो मंदिर के पास करैयाखेड़ा शामिल हैं। उपरोक्त दोनों शिविरों में चिकित्सक के अलावा नर्सिंग पेरामेडिकल स्टॉफ, सपोर्ट स्टॉफ तथा आशा कार्यकर्ता उपस्थित होकर अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे। 


विदिशा विकासखण्ड में इन स्थलों पर आज टीकाकरण सत्र आयोजन


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय ने बताया कि विदिशा विकासखण्ड में 12 से 14 आयुवर्ग के बच्चों का कोविड वैक्सीनेशन टीकाकरण हेतु 20 स्थलो पर टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया गया है। सत्र स्थलों पर संबंधित कर्मचारी प्रातः 9 बजे से उपस्थित होकर टीकाकरण कार्यों का संपादन करना शुरू करेंगे। विदिशा विकासखण्ड अन्तर्गत जिन स्थलों पर सोमवार को टीकाकरण कार्य संपादित किए जाएंगे। उनमें जीनियस कॉन्वेंट स्कूल, केन्द्रीय विद्यालय, मां भवानी पब्लिक स्कूल, प्रगति पब्लिक स्कूल, निशा कॉन्वेंट स्कूल, मां सरस्वती ज्ञान मंदिर, सेंटमेरी हायर सेकेण्ड्री स्कूल, जय सरस्वती ज्ञान मंदिर, सेन्ट्रल एकेडमी, ब्राइट कॅरियर हाई स्कूल शामिल हैं। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के जिन स्कूलों में टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया गया है उनमें शासकीय मिडिल स्कूल मिर्जापुर, शासकीय मिडिल स्कूल खामखेड़ा, शासकीय मिडिल स्कूल करारिया, शासकीय मिडिल स्कूल रंगई, शासकीय वॉयस मिडिल स्कूल पीपलखेड़ा, शासकीय हायर सेकेण्ड्री स्कूल धमनोदा, शासकीय मिडिल स्कूल कुंआ खेड़ी, शासकीय मिडिल स्कूल सौंठिया, शासकीय गर्ल्स मिडिल स्कूल पीपलखेड़ा तथा शासकीय मिडिल स्कूल पालकी शामिल हैं।


तैयारियों से अवगत हुए प्रमुख सचिव


vidisha news
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव श्री उमाकांत उमराव ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गृह प्रवेश आयोजन के मद्देनजर जिलों में किए गए प्रबंधों का जायजा लिया है। गौरतलब हो कि मंगलवार 29 मार्च को प्रधानमंत्री जी द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत मध्यप्रदेश के पांच लाख से अधिक हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया जाएगा। विदिशा के एनआईसी कक्ष में मौजूद जिला पंचायत के प्रभारी सीईओ आईएएस श्री अनिल कुमार राठौर ने विदिशा जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत गृह प्रवेश आयोजन कार्यों को सुव्यवस्थित रूप से संपादित कराए जाने हेतु किए गए प्रबंधों से अवगत कराते हुए उन्होंने बताया कि विदिशा जिले में कुल 14 हजार 956 हितग्राहियों को एक ही दिन में गृह प्रवेश कराया जाएगा। अधिकांश हितग्राही आवास योजना से ही नहीं बल्कि अन्य योजनाओं से भी लाभान्वित हुए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: