विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 22 अप्रैल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 22 अप्रैल

अनंतिम चयन सूची जारी


महिला एवं बाल विकास विभाग की विदिशा ग्रामीण परियोजना के अंतर्गत आंगनबाडी केन्द्रों में रिक्त कार्यकर्ता एवं सहायिका पद के लिए खण्ड स्तरीय चयन समिति के अनुमोदन उपरांत अनंतिम चयन सूची जारी की गई है परियोजना अधिकारी ने बताया कि छह आंगनबाडी केन्द्रों के लिए आंगनबाडी सहायिका के पद पर चयन किया गया है तदानुसार आंगनबाडी केन्द्र बागरी के लिए श्रीमती मधु मेहर, अमऊखेडी हेतु स्वाति रघुवंशी, धतूरिया के लिए श्रीमती सविता अहिरवार, चितोरिया के लिए श्रीमती रश्मि दुबे, गोबरहेला हेतु श्रीमती भावना तथा बामोरा आंगनबाडी केन्द्र के लिए सहायिका पद पर श्रीमती टीना मेहर का जारी अनंतिम चयन सूची में नाम शामिल है। महिला एवं बाल विकास परियोजना विदिशा ग्रामीण की परियोजना अधिकारी ने बताया कि आंगनबाडी केन्द्रों पर सहायिका पद की नियुक्ति संबंधी जारी अनंतिम चयन सूची के संबंध में दावे आपत्तियों 30 अपै्रल तक कार्यालय महिला एवं बाल विकास परियोजना विदिशा ग्रामीण में कार्यालयीन दिवसों में दोपहर 12 बजे से सायं चार बजे तक जमा कर सकते है।


आर्थिक मदद जारी


कलेक्टर एवं दावा निपटान आयुक्त श्री उमाशंकर भार्गव ने हिट एण्ड रन के एक प्रकरण में आर्थिक मदद का आदेश जारी कर दिया है। कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि विदिशा तहसील में ग्राम नारोट पालकी के निवासी विजय वंशकार की अज्ञात वाहन सड़क दुर्घटना में घायल हो जाने के फलस्वरूप तोषण अधिनियम के तहत घायल विजय पुत्र खिलान सिंह को 12 हजार 500 रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है।


धरती बचाओं, जीवन बचाओं संगोष्ठि का आयोजन


विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर आज धरती बचाओं, जीवन बचाओं संगोष्टि का आयोजन आज शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय विदिशा में किया गया था। महाविद्यालय की प्राचार्यो डॉ मंजू जैन ने इस अवसर पर गहन प्रकाश डालते हुए कहा कि पर्यावरण के साथ छेड़छाड़ संबंधी आज आधुनिक युग की सबसे बड़ी समस्या हैं। मनुष्य जितनी जल्दी इस समस्या के प्रति सचेत होकर पर्यावरण को बढ़ावा देने के कार्यो को संपादित करना सुनिश्चित करेंगे तभी हम प्राणियों के अस्तित्व के प्रति सचेत हो सकेंगे। वहीं आने वाले पीढ़ी को हम विरासत में अच्छा पर्यावरण दें सकेंगे। पृथ्वी दिवस का मुख्य उद्धेश्य यहीं है कि हम अधिक से अधिक जल संरक्षण, ईंधन संरक्षण, ऊर्जा संरक्षण के साथ-साथ पौधरोपण के कार्य करें तथा प्लास्टिक निरोधक कार्यो को बढ़ावा देवे। पर्यावरणविद श्रीमती शशि सक्सेना, ने कहा कि प्रकृति का संरक्षण प्रकृति पर उपकार नहीं, बल्कि स्वयं हमारे जीवन और अस्तित्व के लिए आवश्यक है। जैसे हम भविष्य निधि के रूप में धन संचय करते हैं, उसी तरह स्वच्छ हवा-पानी का भी संरक्षण किया जाना चाहिए। मुख्य वक्ता श्रीमती ज्योति सारस्वत, विशेषज्ञ टेरिस गार्डन ने कहा कि वृक्ष हमें बाढ़, सूखा आदि अनेक पाकृतिक आपदाओं से बचाते हैं। उन्होंने ‘भारत मिशन सौ करोड़ वृक्ष‘ की योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया यह सामूहिक प्रयास से ही सफल हो सकता है, इसलिए हमें स्वयं पौधे लगाने होंगे और दूसरों को भी प्रेरित करना होगा। उन्होंने टेरिस गार्डन के लिए कुछ जरूरी टिप्स दिये। डॉ० ओजस्विनी जौहरी ने अपने संस्मरणों के माध्यम से बताया कि पर्यावरण में कैसे बदलाव आ चुके हैं। आज अनेक प्रजातियों का अस्तित्व संकट में है। कार्यक्रम का संचालन इको क्लब प्रभारी कार्यक्रम संयोजक डॉ रेखा श्रीवास्तव ने किया। कार्यक्रम की सह संयोजक डॉ विनिता प्रजापति ने औपचारिक रूप से धन्यवाद ज्ञापित किया। इस उपलक्ष्य पर छात्राओं के बीच कविता लेखन, निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डॉ सीमा चक्रवर्ती, डॉ सी. विजय खेस, डॉ वसुंधरा गवांदे, प्रो. किरण जैन, डॉ रामू विश्वकर्मा, प्रो. रवि रंजन, जोनू यादव, रामाशीष यादव के साथ महाविद्यालय के स्टाफ एवं छात्राएँ मौजूद रहीं।


ग्राम गौरव दिवस आयोजन की तैयारियों का जायजा 


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने शुक्रवार को ग्राम पंचायत कागपुर में बैठक आयोजित कर ग्राम गौरव दिवस आयोजन के परिपेक्ष्य में किए जाने वाले कार्यो की रूपरेखा से अवगत होते हुए आयोजन उद्धेश्यों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए है। कागपुर ग्राम पंचायत भवन में आयोजित इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, एसडीएम श्री गोपाल सिंह वर्मा के अलावा अन्य विभागों के जिलाधिकारी मौजूद रहें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि विदिशा जनपद पंचायत के ग्राम कागपुर में ग्राम गौरव दिवस का आयोजन मई माह के प्रथम सप्ताह में किया जाना प्रस्तावित है। इस कार्यक्रम में माननीय मुख्यमंत्री जी भी शामिल होगें। मुख्यमंत्री जी की गरिमा के अनुरूप सभी विभागों के द्वारा सम्पादित होने वाले कार्य शीघ्रतिशीघ्र पूर्ण कराए जाएं वहीं ऐसे निर्माण कार्य जो पूर्ण हो गए है उनका उपरोक्त कार्यक्रम स्थल पर लोकार्पण किया जाएगा। अतः सभी विभाग जिनके द्वारा ग्राम कागपुर में विभागीय कार्य संपादित कराए गए है उन कार्यो की उपलब्धियों पर आधारित अद्यतन जानकारी जिला पंचायत कार्यालय में जमा कराना सुनिश्चित करें। जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने बताया कि जिस दिन ग्राम कागपुर में ग्राम गौरव दिवस का आयोजन किया जाएगा उस दिन विशेष ग्राम सभा भी आयोजित की जाएगी जिसमें सभी विभागो के जिला कार्यालय प्रमुख अपने-अपने विभाग की योजनांतर्गत ग्राम कागपुर में विगत तीन वर्षो में किए गए कार्यो, लाभांवित हितग्राहियों की जानकारी एवं आगामी तीन वर्षो में किए जाने वाले कार्यो का ब्लू प्रिंट तैयार कर अवगत कराएंगे। जिपं सीईओ डॉ भरसट ने बताया कि ग्राम गौरव दिवस के तहत निर्धारित बिन्दुओं का शत-प्रतिशत क्रियान्वयन किया जाएगा। जिसमें स्वच्छता संबंधी, जल संवर्धन व हितग्राही मूलक योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ ग्राम के रहवासियों का दिलाया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। उपरोक्त बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।


आनंदम इकाई ने उत्कृष्ट विद्यालय में मनाया मातृभूमि दिवस


vidisha news
राज्य आनंदम जिला विदिशा इकाई के द्वारा आज शुक्रवार को शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय विदिशा में मातृभूमि दिवस मनाया गया। जिला आनंद सहयोगी विजय कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथि मातृभूमि दिवस के उपलक्ष में राज्य आनंद संस्थान के जिला एवं को-ऑर्डिनेटर संजय श्रीवास्तव एवं मास्टर ट्रेनर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉक्टर हेमंत विश्वास ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर जिला आनंदम सहायोग विजय कुमार श्रीवास्तव ने वायु जल आकाश अग्नि और पृथ्वी का मातृभूमि का कर्ज चुकाने के लिए मातृभूमि के लिए कुछ ऐसा कर जाओ जिससे कि हमारे जीवन में आनंद की अनुभूति हो का संदेश दिया। संजय श्रीवास्तव द्वारा महाभारत का एक शानदार गीत की प्रस्तुति दी। मुख्य अतिथि एवं जिला आनंद सहयोगी डॉक्टर हेमंत विश्वास द्वारा स्वास्थ्य के साथ-साथ अपने देश के प्रति मातृभूमि की रक्षा कर बचाने का संदेश दिया गया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं द्वारा मातृभूमि एवं देशभक्ति पर आधारित गीतों की प्रस्तुतियां दी गईं। प्राचार्य इंदुमती खरे मैडम द्वारा सभी राज आनंद संस्थान जिला विदिशा की पूरी टीम के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन विजय कुमार श्रीवास्तव द्वारा किया गया।


काशी विश्वनाथ तीर्थ दर्शन कर विदिशा लौटे तीर्थ यात्री, तीर्थ यात्रियों का स्टेशन पर फूल-माला पहनाकर किया स्वागत

  • तीर्थ दर्शन से लौटे हितग्राहियों ने व्यवस्थाओं गुणगान करते हुए मुख्यमंत्री जी के प्रति साधुवाद अभिव्यक्त किया

vidisha news
मुख्यंत्री तीर्थ दर्शन योजना से लाभान्वित होने वाले जिले के 50 तीर्थ यात्री आज शुक्रवार की दोपहर विदिशा जिले के तीर्थ यात्री रेलवे स्टेशन विदिशा स्टेशन पर उतरे। प्रशासन के साथ-साथ तीर्थ यात्रियों के परिजनों ने स्टेशन पर पहुंचकर सभी का स्वागत किया। मुख्यंमत्री श्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा योजनांतर्गत की गई व्यवस्थाओं से लाभान्वित तीर्थ यात्रियों ने व्यवस्थाओं की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए मुख्यमंत्री जी के प्रति साधुवाद व्यक्त करते हुए आशीर्वाद दिया है। इसके अलावा हितग्राही तीर्थ यात्रियों की सुविधा हेतु उनके साथ काशी विश्वनाथ के दर्शन हेतु पहुंचाए गए अनुरक्षक की भी काफी सराहना की है। रेलवे स्टेशन पर जब तीर्थ यात्री वापिस विदिशा लौटे तो प्रशासनिक अमले के अलावा अन्य लोगों ने तीर्थ यात्रियों का फूल माला पहनाकर स्वागत किया। तीर्थ यात्रा कर विदिशा लौटे तीर्थ यात्रियों ने बताया कि काशी विश्वनाथ दर्शन के उपरांत उन्हें शासन की तरफ से किताबें, भगवान भोलेनाथ की तस्वीर के अलावा अन्य सामग्री उपहार स्वरूप भेंट की गई है।


सफलता की कहानी : तीर्थ दर्शन योजना से लाभान्वित हितग्राहियों ने मुख्यमंत्री जी के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया


vidisha news
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत काशी विश्नाथ के दर्शन कर आज वापिस विदिशा लौटे कई हितग्राहियों ने मुख्यमंत्री जी के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया है। लाभान्वित हितग्राहियों का कहना है कि तीर्थ दर्शन के लिए उन्हें जब रवाना किया था तब से लेकर अब तक उन्हें किसी भी प्रकार की कोई असुविधा का सामना नहीं करना पड़ा। हितग्राहियों ने स्वयं अपनी जुबानी ही सफलता की कहानी को बयां किया है। काशी विश्नाथ के दर्शन के लिए रवाना हुए विदिशा जिले के बाला बरखेड़ा ग्राम के हितग्राही श्री नंदकिशोर शर्मा ने बताया कि उनका व उनके अलावा अन्य तीर्थ यात्रियों का सफर आनंदमय रहा। भक्ति-भजन कीर्तन करते हुए उनका सम्पूर्ण सफर कब पूर्ण हो गया पता ही नहीं चला, उपर से शासन प्रशासन द्वारा योजना के तहत किए गए प्रबंध और भी ज्यादा प्रभावित करने वाले थे। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद दिया है। इसके अलावा विदिशा के गल्लामंडी रोड निवासी श्री वीरसिंह लोधी ने बताया कि वह भी तीर्थ दर्शन योजना के पुनः शुरू हो जाने से काफी खुश थे और आज तीर्थ यात्रा कर वापस लौटने पर प्रसन्न महसूस कर रहे हैं। इसी के साथ-साथ नटेरन तहसील के ग्राम मूडरा पीताम्बर के रहवासी श्री धनसिंह रघुवंशी और विदिशा के रीटाफाटक निवासी श्रीमती जयाबाई सोनकर ने भी मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद दिया है। 


उपार्जन कार्यों की समीक्षा, सोमवार तक समितियों पर भण्डारित गेहूं का परिवहन शत-प्रतिशत कराएं


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने शुक्रवार को उपार्जन कार्यों की समीक्षा की। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार में हुई इस बैठक में ट्रांसपोर्टरों के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर श्री भार्गव ने सभी ट्रांसपोर्टरों से कहा कि आगामी सोमवार तक समितियों पर भण्डारित गेहूं का शत-प्रतिशत परिवहन कराना सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले में एक भी दाना बारिश के कारण खराब ना हो यह हम  सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि अब सब व्यवस्था क्रियान्वयन के अंग हैं। अतः किसी एक की भी असमर्थता हो जाने पर पूरा कार्य प्रभावित होता है। उन्होंने ऐसे उपार्जन केन्द्र जहां गेहूं का भण्डारण अत्यधिक मात्रा में है उन क्षेत्रों के ट्रांसपोर्टर अधिक संख्या में वाहन उपलब्ध कराएं। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि हम्माल भी उपार्जन व्यवस्था के अंग हैं अतः किसी भी ट्रक में भरी दोपहरी में लोडिंग करानेमें कई प्रकार की दिक्कतें आती हैं अतः ट्रांसपोर्टर सांयकाल या प्रातःकाल ट्रकों में लोडिंग कराने का कार्य हम्मालों से कराएं। उन्होंने भुगतान के संबंध में भी हो रही दिक्कतों के निदान हेतु मौके पर नागरिक आपूर्ति निगम के एमडी से संवाद कर शीघ्र ही हल कराने से आश्वस्त कराया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने उपार्जन कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान सभी से कहा कि बेहतर समन्वय स्थापित कर टीम भावना से हम उपार्जन कार्य को समयावधि में पूरा कराना सुनिश्चित करें। इस दौरा उपार्जन केन्द्रों पर अधिक आवक की संभावना कब तक है इस संबंध में भी आंकलन किया गया है। बैठक में ट्रांसपोर्टरों के द्वारा उपार्जन कार्यों में परिवहन के संबंध में होने वाली दिक्कतों से अवगत कराया है, जिसमें हम्मालों के भुगतान को प्राथमिकता दी गई है। वहीं हम्मालों की भुगतान दर एकरूपता हो का सुझाव दिया गया है। बैठक में नोडल व जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने अब तक हुए गेहूं उपार्जन, स्लॉट बुकिंग, परिवहन इत्यादि की विस्तृत जानकारी ही नहीं दी बल्कि समितियों पर भण्डारित गेहूं की मात्रा से अवगत कराया है।


बारिश की संभावना, उपज की करें सुरक्षा


किसान कल्याण तथा कृषि विभाग के उप संचालक डॉ पीके चौकसे ने मौसम वैज्ञानिकों से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर बताया कि आगामी एक-दो दिन में जिले में तेज हवा के साथ बारिश हो सकती है। अतः मौसम में हो रहे लगातार उतार-चढ़ाव को ध्यानगत रखते हुए उन्होंने जिले के सभी कृषकों से अपील की है कि अपनी उपज को सुरक्षित व बारिश से बचाव वाले स्थानों पर संभाल कर रखें। मण्डी एवं उपार्जन केन्द्रों पर जो कृषक विक्रय हेतु उपज लेकर गए हैं। वे सभी तिरपाल आदि से अपनी उपज को ढंककर सुरक्षित रखें। उन्होंने चना, गेहूं, मसूर उपार्जन समितियों को कृषि महाविद्यालय सीहोर के मौसम वैज्ञानिकों के द्वारा ईरान में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की सूचनाएं प्राप्त होने पर सभी उपार्जन समितियों को अधिक से अधिक सूचनाएं सम्प्रेषित कराने जाने की प्रक्रिया क्रियान्वित की जा रही है ताकि उपार्जित स्कन्ध एवं वारदाना को गोदाम के अन्दर ही रखें अथवा ढंककर रखें, ताकि बेमौसम बारिश होने पर फसल एवं वारदाना गीला होने से बचाया जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं: