सांसद नवनीत और उनके पति को मिली बेल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 5 मई 2022

सांसद नवनीत और उनके पति को मिली बेल

navneet-rana-and-husband-get-bail
नयी दिल्ली/मुंबई : अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा को आज मुंबई की सत्र अदालत ने बुधवार को सशर्त्त जमानत दे दी। हालांकि जैसे ही उन्हें जमानत मिली, उद्धव सरकार ने नवनीत और उनके पति पर एक और कार्रवाई की तैयारी शुरू कर दी। अब महाराष्ट्र सरकार ने बीएमसी को नवनीत राणा के खार स्थित घर के निरीक्षण के लिए भेजा है। बीएमसी यह निरीक्षण करेगी कि कहीं उनका घर अवैध निर्माण के दायरे में तो नहीं आता। उद्धव सरकार के इस नए मूव को नवनीत ने पूरी तरह बदले की भावना से प्रेरित होकर परेशान करने की जुगत मात्र करार दिया है। इससे पहले आज सांसद नवनीत को मुंबई के भायखला जेल से जेजे अस्पताल ले जाया गया। मुंबई पुलिस नवनीत राणा (Navneet Rana) को लेकर जेजे हॉस्पिटल पहुंची जहां उनका सीटी स्कैन कराया जाएगा। इससे पहले नवनीत राणा के वकील रिजवान मर्चेंट ने दावा किया था कि उनकी मुवक्किल को जेल में उचित इलाज नहीं मिल पा रहा है। इसको लेकर रिजवान मर्चेंट ने बाइकुला जेल के सुपरिटेंडेंट को पत्र लिखा था। नवनीत की तबियत को लेकर जेल प्रशासन को लिखे पत्र में रिजवान मर्चेंट ने बताया था कि नवनीत राणा स्पोंडिलोसिस से जूझ रही हैं और उन्हें सीटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। पत्र में ये भी लिखा गया था कि लंबे वक्त तक नवनीत राणा को फर्श पर बैठने और सोने के लिए मजबूर किया गया। ऐसे में स्पोंडिलोसिस की वजह से उनका दर्द बढ़ गया है। विदित हो कि राणा दंपत्ति की ओर से महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के आवास के बाहर हनुमान चालीसा के पाठ के ऐलान के बाद जमकर हंगामा हुआ था। इसके बाद दोनों को हिरासत में लेकर गिरफ्तार कर लिया गया था।

कोई टिप्पणी नहीं: