मधुबनी : नव निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के उन्मुखीकरण कार्यक्रम का किया शुभारंभ - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 17 जून 2022

मधुबनी : नव निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के उन्मुखीकरण कार्यक्रम का किया शुभारंभ

  • मधुबनी जिले में भी कार्यक्रम का जिला,प्रखंड एवम ग्राम स्तर पर आयोजित कार्यक्रम में किया गया सीधा प्रसारण। मिथिला चित्रकला संस्थान में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में जिलाधिकारी,जिला परिषद अध्यक्ष सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने लिया भाग

madhubani-news
मधुबनी, मुख्यमंत्री बिहार श्री नीतीश कुमार ने  त्रिस्तरीय पंचायती राज संस्थाओं के नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों के उन्मुखीकरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया,जिसका प्रसारण जिले के जिला स्तरीय, प्रखंड एवं ग्राम पंचायत में आयोजित कार्यक्रम में  वेबकास्टिंग के माध्यम की गई। जिला पदाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा, जीप अध्यक्ष, जिला परिषद सदस्य आदि   मिथिला चित्रकला संस्थान मधुबनी में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में वेबकास्टिंग के  माध्यम जुड़ें , वही  प्रमुख,  उप प्रमुख,  पंचायत समिति के सदस्य एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी, कर्मी प्रखंड मुख्यालय से कार्यक्रम में वेबकास्टिंग से जुड़ें, साथ ही  ग्राम पंचायत स्तर पर ग्राम पंचायत मुखिया उप मुखिया सरपंच पंच ग्राम पंचायत सदस्य वार्ड सदस्य एवं पंचायत स्तरीय कर्मी अपने पंचायत के पंचायत सरकार भवन,  सामुदायिक भवन अथवा अन्य सरकारी भवनों में कार्यक्रम में वेबकास्टिंग के माध्यम से जुड़ें एवम माननीय मुख्यमंत्री के संबोधन को भी सुना। माननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्मुखीकरण कार्यक्रम में त्रिस्तरीय पंचायतीराज जनप्रतिनिधियों के उनके दायित्व,कर्तव्य एवम अधिकार के साथ-साथ योजनाओं की भी जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि त्रिस्तरीय पंचायतीराज प्रतिनिधियों को शराबबंदी को प्रभावकारी रूप से लागू करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिये। उन्होंने कहा कि गाँधी जी ने भी हमेशा शराब का विरोध किया। गाँधी जी का कहना था कि शराब आदमियों से ना सिर्फ उसका पैसा छीन लेती है बल्कि उसकी बुद्धि भी हर लेती है। शराब पीने वाला इंसान हैवान हो जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार शराब लगभग 200 बीमारियों को बढ़ाती है। शराब का सेवन कैंसर एड्स हेपिटाइटिस, टीवी लीवर एवं दिल की बीमारियों, मानसिक बीमारी ,माता शिशु से संबंधित बीमारियों के साथ-साथ हिंसक प्रवृत्ति को भी बढ़ाता है, साथ ही महिलाओं के साथ हिंसा में इसकी अहम भूमिका है।उन्होंने त्रिस्तरीय जनप्रतिनिधियों को सामाजिक बुराइयां यथा बाल विवाह उन्मूलन दहेज प्रथा उन्मूलन अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने का भी अपील किया। इसके पूर्व जिलाधिकारी अरविन्द कुमार वर्मा,जिला परिषद अध्यक्षा, उपाध्यक्ष,आदि ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर जिला स्तरीय कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन किया।जिला पदाधिकारी ने अपने संबोधन में पंचायती राज व्यवस्था लागू होने के बाद ग्रामीण परिवेश में हुए बदलाव पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। उन्होंने पंचायतो में चल रही विभिन्न योजनाओं की भी विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मधुबनी जिले में जलजमाव की समस्या एवम नल जल योजना का सुव्यवस्थित क्रियान्वयन एक महत्वपूर्ण चुनौती है,जिसे हम सभी को मिलकर समाधान करना है। उन्होंने कहा कि सभी बीडीओ को निर्देश दिया गया है कि मुखिया एवम अन्य संबधित स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर नल जल योजना से नियमित जलापूर्ति सुनिश्चित करवाये। अपने संबोधन में जिला परिषद अध्यक्षा श्रीमती बिंदु गुलाब यादव ने कहा कि हम त्रिस्तरीय पंचायतीराज प्रतिनिधि मिलकर ग्राम स्वराज्य के सपने को साकार कर सकते है। कार्यक्रम में उपस्थित जनप्रतिनिधियों को सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा  नशा मुक्ति, दहेज प्रथा उन्मूलन एवं बाल विवाह उन्मूलन हेतु समाज सुधार अभियान से संबंधित लीफलेट फोल्डर भी वितरण किया गया। उक्त कार्यक्रम में जिला परिषद अध्यक्षा श्रीमती बिंदु गुलाब यादव, जिला परिषद उपाध्यक्ष श्री संजय कुमार,उप विकास आयुक्त विशाल राज,जिला पंचायतीराज पदाधिकारी शिव कुमार पंडित,डीपीआरओ परिमल कुमार, एसडीसी बालेन्दु पांडेय सहित सभी जिला परिषद सदस्य आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: