मधुबनी : जिला टास्क फोर्स स्वास्थ्य की बैठक में डीएम ने दिए कई निर्देश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 17 जून 2022

मधुबनी : जिला टास्क फोर्स स्वास्थ्य की बैठक में डीएम ने दिए कई निर्देश

  • 19 से 25 जून तक चलने वाले पल्स पोलियो अभियान की सफलता को लेकर अधिकारियों को दिए कई निर्देश। एक भी बच्चा छूटे नही-जिलाधिकारी। ईवनिंग ब्रीफिंग में अनुपस्थित अधिकारियों पर होगी करवाई          

मधुबनी, जिलाधिकारी की अध्यक्षता में  समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में जिला टास्क फोर्स, स्वास्थ्य की बैठक आयोजित की गई।बैठक में पल्स पोलियो अभियान, नियमित टीकाकरण सहित कोविड वैक्सिनेशन के लिए योजना पर जिलाधिकारी द्वारा समीक्षा उपरांत कई निर्देश दिए गए । जिले में पल्स पोलियो अभियान के तहत शून्य से पांच आयु वर्ग के बच्चों को ओरल पोलियो की खुराक 19 जून से 25 जून तक प्रदान की जाएगी। इस अभियान की सफलता के लिए जिलाधिकारी के निर्देश से जिले में 2455 टीम, 1954 हाउस टू हाउस टीम, 362 ट्रांजिट टीम एवं 23 मोबाइल टीम का गठन किया गया है। यह सभी टीम मिलकर 819930 घरों में लगभग 673000 से भी अधिक बच्चों को खुराक पिलाएगी। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि जिले में सघन तौर पर मिशन मोड में इस अभियान की सफलता सुनिश्चित की जाए।उन्होंने निर्देश दिया कि अभियान के दौरान नियमित रूप से इवनिंग ब्रीफिंग करना सुनिश्चित करेंगे।उन्होंने कहा कि ईवनिंग ब्रीफिंग में अनुपस्थित अधिकारियों के विरुद्ध करवाई की जाएगी। उन्होंने नियमित टीकाकरण के फूल इम्यूनाइजेशन में 85% के आंकड़े को और बढ़ाने को कहा तथा कंप्लीट इम्यूनाइजेशन के 94% के आंकड़े को स्थिर बनाए रखने पर बल दिया।  इसके अतिरिक्त जिला पदाधिकारी ने कोविड 19 के टीकाकरण के आच्छादन को बढ़ाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि 12 से 14 तथा 15 से 18 आयु वर्ग के प्रथम और दूसरे डोज तथा 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में प्रिकौशनरी डोज बढ़ने पर बल दिया। इसके लिए उन्होंने हर घर दस्तक कार्यक्रम में और भी तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने जिले के घोघरडीहा, खजौली एवं मधेपुर प्रखंडों के बी सी एम पर कार्य में लापरवाही बरतने को लेकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उक्त बैठक में सिविल सर्जन, सुनील कुमार झा, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, आर के सिंह, डी आई ओ, शैलेंद्र कुमार विश्वकर्मा, एनसीडीओ, एस पी सिंह, सीडीओ, जीएम ठाकुर, डब्लू एच ओ से आदर्श वर्गिश, यूनिसेफ से प्रमोद कुमार झा सहित जिले के सभी प्रखंडों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी व सीडीपीओ उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: