मधुबनी : डीएम ने क्षेत्र भ्रमण कर कई योजनाओं का किया निरीक्षण। - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 8 जून 2022

मधुबनी : डीएम ने क्षेत्र भ्रमण कर कई योजनाओं का किया निरीक्षण।

  • जिला के वरीय पदाधिकारियों द्वारा प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ एवं संवेदनशील बनाने के उद्देश्य सरकार की विभिन्न योजनाओं/कार्यक्रमों का किया गया स्थलीय निरीक्षण।

dm-madhubani
मधुबनी, जिला पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों को त्वरित एवं प्रभावी ढंग से लागू करने तथा जिले में न्याय के साथ विकास को सुनिश्चित करने के साथ-साथ प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ एवं संवेदनशील बनाने के उद्देश्य से विभिन्न योजनाओं/कार्यक्रमों के स्थलीय निरीक्षण हेतु पदाधिकारियों को जिले के 47 पंचायतों में जांच एवं निरीक्षण हेतु भ्रमण करने का आदेश दिया गया, साथ ही निरीक्षण प्रतिवेदन जिला मुख्यालय में उपलब्ध कराने का भी निदेश दिया गया। जिसके तहत सरकार की  विभिन्न योजनाओं में हर घर नल का जल, घर तक पक्की गली नली योजना, पंचायत में प्राथमिक/माध्यमिक/" उच्च विद्यालय का निरीक्षण (छात्रों/शिक्षकों की उपस्थिति, भवन की स्थिति, छात्र/छात्राओं के शौचालय, पेयजल, बिजली मध्यान भोजन की गुणवत्ता), अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग/ अल्पसंख्यक छात्रावास में छात्रावास का निरीक्षण, आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण, स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र/ उप स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक की उपस्थिति एवं मूलभूत सुविधाओं का निरीक्षण, सामाजिक सुरक्षा योजना अंतर्गत सभी पेंशन योजनाओ में लाभुकों के खातों में वितरण की जाने राशि की स्थिति, आपूर्ति के क्षेत्र में खाद्यान्न भंडारण का निरीक्षण खादान की गुणवत्ता की स्थिति, मनरेगा योजनाओं के अद्दतन स्थिति की समीक्षा, आवास योजना अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना के अद्दतन स्थिति की समीक्षा, पंचायत सरकार भवन की स्थिति का निरीक्षण, भू-राजस्व मामले से संबंधित किसी भी मुद्दे पर प्राप्त शिकायत का अवलोकन एवं निरीक्षण हेतु सभी संबधित पंचायतो में प्रतिनियुक्त पदाधिकारियो ने पहुँचकर गहन जाँच किया।। जिला पदाधिकारी,  अरविन्द कुमार वर्मा ने भी जिले के खुटौना प्रखंड के अंतर्गत संचालित विभिन्न सरकारी योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करने के लिए स्थलीय निरीक्षण के क्रम में प्रखंड सह अंचल कार्यालय, खुटौना पंहुचे। जहां उनके द्वारा विस्तृत समीक्षा की गई। उन्होंने कार्यालय में संधारित विभिन्न पंजीयों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने नाराजगी जताई कि कतिपय पंजीयो को हाल में संधारित किया गया है तथा कुछ में अद्यतन कार्रवाई किए जाने का जिक्र नहीं है। समीक्षा के क्रम में उन्होंने पाया कि कर्मियों की कर्म पुस्तिका का ठीक प्रकार संधारण नहीं किया गया है। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी, खुटौना को सख्त निर्देश देते हुए प्रत्येक सप्ताह कर्मियों के कर्म पुस्तिका की जांच की जाए। उन्होंने प्रखंड सह अंचल कार्यालय में लाचार कार्यसंकृति पर गहरी नाराजगी प्रकट की और प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचल अधिकारी को इसमें सुधार लाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि जल्द से जल्द लंबित मामलों को पूर्ण कराना सुनिश्चित किया जाए।


उन्होंने प्रखंड में कार्यरत कार्यपालक सहायक सरिता कुमारी द्वारा अवकाश के आवेदन को बिना प्रखंड विकास पदाधिकारी से स्वीकृत कराए अनुपस्थित रहने की स्थिति में उनके वेतन को स्थगित करने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी द्वारा नल जल योजना की भी पड़ताल की गई। उन्होंने पाया कि कुछ पंचायतों में पूर्व के वार्ड सदस्यों द्वारा सरकारी राशि का उठाव तो कर लिया गया, परंतु कार्य को अपूर्ण छोड़ दिया गया है। उन्होंने उपस्थित प्रखंड विकास पदाधिकारी / प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी को निर्देश दिया कि ऐसे सभी जिम्मेवार व्यक्ति जिन्होंने सरकारी राशि का गबन कर लिया है, पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए राशि वसूली के लिए नीलाम पत्र वाद दायर किया जाए। उन्होंने इस संबंध में वास्तविक स्थिति की विस्तृत रिपोर्ट भी तलब की है। उन्होंने कहा कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी / प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी प्रत्येक सप्ताह अलग अलग पंचायतों के पंचायत भवन में जाकर वहां के मुखिया, वार्ड सदस्यों तथा पंचायत सचिव के साथ बैठक कर नल जल योजना सहित सभी लंबित योजनाओं के प्रगति की समीक्षा करें। उन्होंने भूमि विवाद और अतिक्रमण जैसे लंबित मामलों पर विशेष रूप से ध्यान दिए जाने पर बल दिया। उन्होंने दुर्गीपट्टी पंचायत के अंतर्गत वार्ड संख्या 14 नल जल योजना का स्थलीय निरीक्षण भी किया। जहां ग्रामीणों ने पेय जल आपूर्ति पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने वहां मनरेगा योजना से तालाब उड़ाही के कार्य का भी जायजा लिया। निरीक्षण के क्रम में उनके द्वारा दुर्गीपट्टी पंचायत के वार्ड संख्या 12 में नल जल योजना में खासी त्रुटि पाई। बिजली के कनेक्शन नहीं होने से जल आपूर्ति बाधित पाई गई। उन्होंने संबंधित दोषियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उन्होंने दुर्गीपट्टी पंचायत के अंतर्गत पंचायत सरकार भवन के निर्माण के लिए स्थल का चयन कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। उन्होंने पंचायत में 50 बेड के आयुष चिकित्सालय बनाए जाने के लिए चयनित स्थल का निरीक्षण भी किया।  जिलाधिकारी द्वारा खुटौना प्रखंड के परसाही पंचायत के दौलतपुर ग्राम में बांध का निरीक्षण भी किया गया। जहां स्थानीय लोगों द्वारा उन्हें जानकारी दी गई कि वर्ष 2019 के प्रलयंकारी बाढ़ के दौरान क्षतिग्रस्त मकानों को मिलने वाले गृह क्षति के कई मामले लंबित हैं। उन्होंने प्रभारी पदाधिकारी, जिला आपदा प्रबंधन शाखा को निर्देश दिया कि इस मामले से संबंधित संचिका को दो दिनों में उपस्थापीत किया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: