द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा के नामांकन पत्र सही पाये गये - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 30 जून 2022

द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा के नामांकन पत्र सही पाये गये

nomination-papers-of-draupadi-murmu-and-yashwant-sinha-found-correct
नयी दिल्ली 30 जून, राष्ट्रपति चुनाव के लिए दायर किये गये 115 नामांकन पत्रों में से केवल दो उम्मीदवारों राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की द्राैपदी मुर्मू और विपक्ष के साझा उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के नामांकन पत्र सही पाये गये हैं। राज्यसभा के महासचिव और राष्ट्रपति चुनाव के लिए निर्वाचन अधिकारी पी सी मोदी ने गुरूवार को बताया कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन दायर करने की प्रक्रिया 15 जून को शुरू हुई थी और नामांकन के अंतिम दिन 29 जून तक कुल 115 नामांकन पत्र दायर किये गये थे। उन्होंने कहा कि आज नामांकन पत्रों की जांच के बाद केवल दो उम्मीदवारों श्रीमती मुर्मू और श्री सिन्हा के नामांकन पत्र ही सही पाये गये हैं तथा बाकी अन्य उम्मीदवारों के नामांकन पत्रों को अलग अलग खामियों के चलते खारिज कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि चुनाव कार्यक्रम के अनुसार दो जुलाई को शाम तीन बजे तक नाम वापस लिये जा सकते हैं। इसके बाद राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेने वाले उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी की जायेगी और यदि जरूरी हुआ तो मतदान 18 जुलाई को तथा मतों की गिनती 21 जुलाई को की जायेगी। चुनाव के लिए दायर कुल 115 नामांकनों में से 28 को दायर करने के समय ही खारिज कर दिया गया था। इन नामांकन पत्रों को राष्ट्रपति तथा उप राष्ट्रपति अधिनियम 1952 की धारा 5 बी (4) के तहत खारिज किया गया। बाकी बचे 87 नामांकन पत्रों की जांच की गयी और इनमें से 79 को दस्तावेज पूरे नहीं होने के कारण अस्वीकार कर दिया गया। श्रीमती मुर्मू और श्री सिन्हा दोनों ने चार- चार सेट नामांकन पत्र दायर किये थे। राष्ट्रपति चुनाव के लिए 16 राज्यों और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली से कुल 115 नामांकन पत्र दायर किये गये थे। 

कोई टिप्पणी नहीं: