बिहार : कानून बनाने से पहले लोगों को करें जागरूक : चिराग - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 9 जून 2022

बिहार : कानून बनाने से पहले लोगों को करें जागरूक : चिराग

law-awareness-needed-chirag
पटना : लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने गुरुवार को राजधानी पटना में सदस्यता अभियान की शुरुआत की। वहीं, इस दौरान लोजपा नेता ने कहा कि आगामी दिनों में हमारा लक्ष्य है कि पार्टी पूरे बिहार में कम से कम 50 लोगों को अपना कार्यकर्ता बनाए। चिराग ने कहा कि लोजपा (रामविलास) अब नई पार्टी है और इसका नया सिंबल है, इसी कारण हमलोगों ने फिर से सदस्यता अभियान शुरू किया है। इसके साथ ही चिराग पासवान ने कहा कि आज ही हम ने भी अपनी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। पुराने जो भी हमारे साथी हैं वह भी आजीवन सदस्य बन रहे हैं। जो लक्ष्य हमलोगों ने रखा है उसे पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि हम मध्यावधि चुनाव की भी तैयारी कर रहे हैं क्योंकि हम शुरू से ही कहते आए हैं कि बिहार में मध्यावधि चुनाव होना निश्चित है। सदस्यता अभियान के साथ हम लोग मध्यावधि चुनाव की तैयारी कर रहे हैं। वहीं, इसी दरमियान जब चिराग से बिहार में शुरू होने वाली जाति आधारित गणना को लेकर सवाल किया गया है तो उन्होंने इस पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। वहीं, उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण कानून से जुड़े सवाल पर कहा कि मैं इस कानून का समर्थन करता हूं। चिराग ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण कानून जरूरी है। लेकिन, उससे पहले लोगों को जागरूक करना भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि लोग यह बात समझे की जनसंख्या बढ़ने से कहीं ना कहीं काफी दिक्कतें हो रही हैं।इसको लेकर सरकार को अभी से ही जागरूकता अभियान चलाना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि बिहार में शराबबंदी सफल होती हुई नजर नहीं आ रही है। चिराग ने कहा कि हमने बिहार में शराबबंदी लागू होने से पहले ही कह दिया था के लोगों को जागरूक कीजिए लेकिन वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कुछ नहीं किया। शराबबंदी कानून किस तरह से बिहार में फेल है यह सब जान रहे हैं। इसलिए अब यदि बिहार को लेकर कोई कानून बनाया जाता है तो हमें ऐतराज नहीं है लेकिन, उससे पहले लोगों के बीच जाकर जागरूकता अभियान चलाना भी जरूरी है।

कोई टिप्पणी नहीं: