बिहार : चार वर्षीय सैनिक कानून को वापस लेने पर जोर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 1 जुलाई 2022

बिहार : चार वर्षीय सैनिक कानून को वापस लेने पर जोर

agniveer-protest
पटना. केंद्र सरकार के द्वारा घोषित अग्निपथ योजना का विरोध जारी है.केन्द्र सरकार के द्वारा अग्निपथ योजना के तहत केवल चार साल की सेवा युवकों के ऊपर थोपा जा रहा है. इस चार वर्षीय सैनिक कानून को वापस लेने पर जोर दिया जा रहा है. देश की सेना में केंद्र सरकार के द्वारा इस प्रकार का प्रयोग देश की सुरक्षा व्यवस्था के लिए घातक सिद्ध हो सकता है केंद्र सरकार नौजवान बेरोजगारों को केवल चार वर्षों के लिए सेना में भर्ती देकर उन्हें बाद में सेवा से मुक्त करने की योजना बनाई है जिसके कारण से आज देश का बेरोजगार नौजवान अपने भविष्य के प्रति चिंतित है और इस योजना का विरोध कर आंदोलन करने बाध्य हो रहे है. इस संबंध में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (बिहार) द्वारा कल दिनांक 2 जुलाई, 2022 को अपराह्न 01.00 बजे प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय, सदाकत आश्रम, पटना में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन बिहार के प्रदेश कार्यसमिति की एक विस्तारित बैठक बुलायी गयी है. बैठक की अध्यक्षता भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन, बिहार के प्रदेश अध्यक्ष श्री चुन्नू सिंह जी करेंगे. उक्त बैठक में बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के माननीय अध्यक्ष डा0 मदन मोहन झा जी के अलावे कई गणमान्य नेतागण उपस्थित रहेंगे.

कोई टिप्पणी नहीं: