प्राकृतिक कृषि सम्मेलन को संबोधित करेंगे मोदी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 जुलाई 2022

प्राकृतिक कृषि सम्मेलन को संबोधित करेंगे मोदी

modi-to-address-natural-farming-convention
नयी दिल्ली 09 जुलाई, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी रविवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सूरत जिले में एक प्राकृतिक कृषि सम्मेलन को संबोधित करेंगे। सम्‍मेलन में हजारों ऐसे किसान और हितधारक हिस्सा ले रहे हैं जिन्‍होंने सूरत में प्राकृतिक खेती को अपनाया और सफलता हासिल की। सम्‍मेलन में गुजरात के राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत, प्रधानमंत्री ने गत मार्च में गुजरात पंचायत महासम्मेलन में प्रत्येक गांव के कम से कम 75 किसानों को खेती के प्राकृतिक तरीके अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया था। उनकी इस परिकल्‍पना से प्रेरित, सूरत जिले ने किसानों को प्राकृतिक खेती अपनाने में मदद करने के उद्देश्‍य से विभिन्न हितधारकों और संस्थानों जैसे किसान समूहों, निर्वाचित प्रतिनिधियों, तलाथियों, कृषि उत्पाद विपणन समितियों (एपीएमसी), सहकारी समितियों, बैंकों आदि को संवेदनशील बनाने और प्रेरित करने के लिए ठोस पहल और समन्वित प्रयास किए। प्रत्येक ग्राम पंचायत में कम से कम 75 किसानों की पहचान की गई और उन्‍हें प्राकृतिक खेती करने के लिए प्रेरित और प्रशिक्षित किया गया। किसानों को 90 विभिन्न समूहों में प्रशिक्षित किया गया, जिसके परिणामस्वरूप जिले में 41,000 से अधिक किसानों को प्रशिक्षण दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: