मधुबनी : कोविड वैक्सिनेशन के लक्ष्य को लेकर डीएम ने किया विस्तृत समीक्षा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 8 अगस्त 2022

मधुबनी : कोविड वैक्सिनेशन के लक्ष्य को लेकर डीएम ने किया विस्तृत समीक्षा

  • बुधवार को अलग अलग पंचायतों में लगने वाले शिविर में भी कोविड वैक्सिनेशन की रहेगी सुविधा ।

madhubani-news
मधुबनी, जिलाधिकारी अरविन्द कुमार वर्मा ने समाहरणालय स्थित विडियो कॉन्फ्रेंसिंग कक्ष से सभी प्रखंडों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड समन्वयक जीविका के साथ जिले में कोविड वैक्सिनेशन के लक्ष्य को शत प्रतिशत हासिल को लेकर   बनाई गई कार्ययोजना का विस्तृत समीक्षा किया। समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने  असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि इन दिनों देखा जा रहा है कि लोग कोरोना के प्रकोप को भूलते जा रहे हैं।  अभी भी बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्होंने कोविड वैक्सिनेशन का बूस्टर  डोज नही लिया है। इतना ही नहीं, वैक्सिनेशन का दूसरा और पहला डोज नहीं लेने वाले लोग भी हैं। ऐसे में जिले में शत प्रतिशत कोविड वैक्विनेशन के लक्ष्य को हासिल करने के लिए जिले के विभिन्न विभागों को साथ मिलकर प्रयास करना होगा। इस कार्य में शिक्षा, बाल विकास परियोजना, जीविका जैसे समूह को स्वास्थ्य विभाग से आपसी समन्वय स्थापित कर कार्य संपादित करना होगा। उन्होंने निर्देश दिया कि जिले के सभी प्रखंडों में प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रतिदिन प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड समन्वयक जीविका, सीडीपीओ एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ बैठक कर उक्त दिवस की उपलब्धियों की समीक्षा करेंगे और अगले दिवस की गतिविधि की रूप रेखा तय करेंगे। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी विद्यालयों में उन बच्चों की सूची बनाई जाए जो टीका लेने के लायक तो हैं, परंतु अभी तक किसी कारण से टीका नहीं ले सके हैं। बच्चों की सूची में उनके आधार संख्या और अभिभावक के मोबाइल नंबर का भी जिक्र हो। उस सूची को प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ साझा किया जाएगा और संबंधित विद्यालय को वैक्सिनेशन प्वाइंट बनाते हुए सभी बच्चों का शत प्रतिशत टीकाकरण पूर्ण किया जाएगा। उन्होंने इसके लिए संबंधित विद्यालय प्रधान और शिक्षकों को तत्पर होकर सहयोग देने को कहा है। उन्होंने कहा कि उक्त वैक्सिनेशन प्वाइंट पर क्षेत्र की आंगनवाड़ी सेविका और जीविका दीदियां भी उन लोगों को लाने का काम करेंगे जो विद्यालय में नामांकित नहीं हैं, परंतु वैक्सिनेशन लेने की अहर्ता रखते हुए भी प्रथम, द्वितीय अथवा बूस्टर डोज से वंचित हैं। उन्होंने ऐसे हाउस होल्ड की पहचान करने के निर्देश भी दिए हैं।  जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि बुधवार को अलग अलग पंचायतों में लगने वाले शिविर में भी कोविड वैक्सिनेशन की सुविधा रहेगी। उस दिन शिविर के आस पास के सभी योग्य लोगों को अनिवार्य रूप से कोविड का वैक्सीन लगाया जाए। उन्होंने उम्मीद जताई कि स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा,  बाल विकास परियोजना और जीविका जैसे संगठनों के समन्वयित प्रयास से जिले के शत प्रतिशत वैक्सिनेशन के लक्ष्य को जल्द ही हासिल कर लिया जाएगा। उक्त अवसर पर सिविल सर्जन, सुनील कुमार झा, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, आर के सिंह, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, डॉ विश्वकर्मा, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, आईसीडीएस, शोभा सिन्हा, एडीपीओ, सतीश कुमार सहित अन्य सभी संबंधित पदाधिकारी विडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष से तथा जिले के सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, सभी प्रखंड समन्वयक जीविका, सभी सीडीपीओ व सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ऑनलाइन मोड में उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: