वैशाली : प्रशांत किशोर ने हाजीपुर में की जन सुराज अभियान पर चर्चा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 1 सितंबर 2022

वैशाली : प्रशांत किशोर ने हाजीपुर में की जन सुराज अभियान पर चर्चा

  • चेहरा कलां, राजा पाकर और जंदाहा में प्रखंड समिति के गठन पर बैठक 

jan-suraj-vaishali
वैशाली,  जिले से जन सुराज अभियान की शुरुआत करने के बाद प्रशांत किशोर दूसरी बार आज वैशाली के हाजीपुर पहुंचे। हाजीपुर के एक स्थानीय होटल में प्रशांत किशोर ने जन सुराज की सोच से प्रभावित वैशाली के सैकड़ों लोगों से मुलाकात की। इस बैठक में चेहरा कलां, राजा पाकर और जंदाहा प्रखंड के अलावा वैशाली के विभिन्न प्रखंड से आए लोग शामिल हुए। प्रशांत किशोर के साथ इन प्रखंडों से आए लोगों ने जन सुराज अभियान के प्रखंड समिति के गठन पर गहन चर्चा की और आने वाले दिनों में वैशाली के सभी प्रखंडों में लोकतांत्रिक तरीके से जन सुराज अभियान समिति के गठन का निर्णय लिया। 


बिहार में जल्द ही हर प्रखंड में जन सुराज समिति का गठन

प्रशांत किशोर ने वैशाली जिले से आए सैकड़ों प्रबुद्ध नागरिकों का अभिवादन किया और जन सुराज की सोच पर अपनी बात रखी। प्रशांत किशोर ने कहा, "जन सुराज अभियान समिति के गठन की प्रक्रिया बिहार के लगभग 50 प्रखंडों में पूरी हो चुकी है। सीवान के जीरादेई और वैशाली के जंदाहा प्रखंड में समिति की घोषणा हो चुकी है और आने वाले दिनों में एक-एक कर सभी समितियों की घोषणा की जाएगी। समिति के गठन में पूरे तौर पर लोकतांत्रिक तरीके का पालन किया जा रहा है। समाज जिसके नाम की अनुशंसा कर रहा है वही लोग समिति के सदस्य बन रहे हैं और उन्हीं लोगों के बीच सर्वसम्मति से समिति के पदाधिकारियों का चयन हो रहा है।" 


हमें हवा का रुख मोड़ना आता है - प्रशांत किशोर

प्रशांत किशोर ने जन सुराज की राजनीतिक भविष्य पर बात करते हुए कहा कि बिहार के सभी प्रखंड समिति के लोग ही पदयात्रा के बाद राजनीतिक दल बनाने पर फैसला लेंगे और मैं इस प्रक्रिया से बाहर रहूंगा। उन्होंने कहा कि जो भी दल बनेगा उसका अध्यक्ष प्रशांत किशोर नहीं होंगे, बल्कि समिति से लोकतांत्रिक तरीके से चुना गया कोई व्यक्ति होगा। प्रशांत किशोर ने जोर देकर कहा कि जो लोग इस अभियान में अभी कंधा लगा रहे हैं आने वाले समय में चुनाव लड़ने और लड़वाने की जिम्मेदारी भी वही लोग निभाएंगे। जन सुराज की सफलता पर उन्होंने कहा कि यहां लड़ने के लिए लड़ने नहीं आए हैं, जीतने के लिए लड़ने आए हैं और अभी 2-3 साल है भरोसा रखिए हम लोग हवा का रुख मोड़ देंगे।


वैशाली के लोगों ने लिया जन सुराज अभियान को मजबूत करने का संकल्प

जन सुराज अभियान से जुड़े पूर्व आईपीएस अधिकारी संत कुमार पासवान ने सभा में मौजूद सभी लोगों को इस अभियान से जुड़ने के लिए प्रेरित किया। इसके बाद प्रशांत किशोर ने स्वतंत्रता सेनानी के परिवार से आने वाले बसंत राय, लाल देव सिंह, जेपी सेनानी चंद्र देव सिंह और राम नारायण सिंह को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। पूरे कार्यक्रम में मंच का संचालन युवा समाजसेवी अमित कुमार ने किया और धन्यवाद ज्ञापन समाजसेवी किसलय किशोर ने किया। कार्यक्रम में प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला संयोजक राजेश कुमार, जंदाहा प्रखंड से शिक्षक अमर सिंह, राजा पाकर प्रखंड से सामाजिक कार्यकर्ता अरशद हुसैन और चेहरा कलां प्रखंड से पूर्व जिला परिषद सदस्य आभा राय ने जन सुराज की सोच से सहमति जताते हुए इस अभियान को मजबूत करने के संकल्प को दोहराया।  इसके अलावा कार्यक्रम में बिंदेश्वर प्रसाद (समाजसेवी), राम ललित सिंह (समाजसेवी), सुधीर शुक्ला (सामाजिक कार्यकर्ता), उत्तपल कांत (अध्यक्ष, जिला प्राथमिक शिक्षक संघ), अनिल कुमार (समाजसेवी), राज कपूर सिंह (शहीद जय किशोर सिंह के पिता), हरिनंदन (समाजसेवी), प्रमोद झा (राजनीतिक कार्यकर्ता), मुकेश कुमार मुन्ना, जितेंद्र कुमार (समाजसेवी), अंशु शर्मा (राजनीतिक कार्यकर्ता), नीलू देवी (सामाजिक कार्यकर्ता), अवधेश पासवान (पूर्व मुखिया), विनोद कुमार (युवा समाजसेवी) सहित सैकड़ों गणमान्य लोग मौजूद रहें।

कोई टिप्पणी नहीं: