गया: शांतिपूर्ण एवं सद्भावना पूर्ण दुर्गा पूजा के आयोजन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 4 अक्तूबर 2022

गया: शांतिपूर्ण एवं सद्भावना पूर्ण दुर्गा पूजा के आयोजन

दुर्गा पूजा-022 के शांतिपूर्ण एवं सद्भावना पूर्ण आयोजन एवं विधि व्यवस्था संधारण के मद्देनजर जिलाधिकारी  एवं वरीय पुलिस अधीक्षक के द्वारा की गई.’विधि व्यवस्था तथा शांति व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से जिले में कुल 515 स्थानों को चिन्हित करते हुए वरीय दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी तथा पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है...

Gaya-puja-news
गया. दुर्गा पूजा-2022 शांतिपूर्ण एवं सद्भावना आयोजन के मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा हर स्तर पर पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की गई है. शांतिपूर्ण एवं सद्भावना पूर्ण दुर्गा पूजा के आयोजन को लेकर पुलिस लाइन गया के परिसर में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों की संयुक्त ब्रीफिंग जिला पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम तथा वरीय पुलिस अधीक्षक हरप्रीत कौर की संयुक्त अध्यक्षता में की गई. प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस अधिकारियों को जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के द्वारा अलर्ट  मोड में कार्य करने का निर्देश दिया गया.जिलाधिकारी ने प्रतिनियुक्त सभी अधिकारी को निर्देश दिया कि समय अपने प्रतिनियुक्ति स्थल पर पहुंचकर कर्तव्यों के निर्वहन गंभीरतापूर्वक करें.उन्होंने कहा कि  पूजा का आयोजन शांतिपूर्ण हो इस बाबत चुस्त प्रशासनिक व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ पूजा में व्यवधान करने वाले, सामाजिक माहौल को दूषित करने वाले एवं अफवाह फैलाने वाले तत्वों को चिन्हित करते हुए कठोर कार्रवाई करे.  रात्रि में श्रद्धालुओं तथा आम जनों का भीड़ मूर्ति प्रतिमा को देखने के लिए एक साथ निकलते हैं इसे देखते हुए ट्रैफिक व्यवस्था को रेगुलेट होते रहे इस पर विशेष नजर रखें। पूजा,विसर्जन जुलूस ,डीजे पर प्रतिबंध इत्यादि को लेकर निर्देश दिए गए. निर्गत लाइसेंस में निहित शर्ताे के उलंघन पर कारवाई करने का निर्देश दिया गया। ब्रीफिंग में ड्यूटी का टाइमिंग को लेकर गंभीर रहने, कोई कोताही/लापरवाही करने पर कारवाई, नियंत्रण कक्ष, ट्रैफिक व्यवस्था, भीड़ नियंत्रण इत्यादि को लेकर निर्देश दिए गए. किसी भी सूरत में डीजे प्रतिबंधित रहेगा. निर्देश के उल्लंघन पर कारवाई की जाएगी.उन्होंने कहा कि ’उत्कृष्ट भीड़ प्रबंधन एवं विधि व्यवस्था संधारण प्रशासन के सर्वाेच्च प्राथमिकता है. इसमें किसी भी तरह की कोताही और लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

  

ज़िला पदाधिकारी ने प्रकाश व्यवस्था, यातायात प्रबंधन, विधि व्यवस्था संधारण, बैरिकेडिंग, विद्युत आपूर्ति, ध्वनि विस्तारक यंत्र की व्यवस्था, पेयजल, चिकित्सा सुविधा, अग्निशमन की व्यवस्था सहित सभी बिंदुओं पर एक-एक कर तैयारियों का जायजा लिया.उन्होंने कहा कि संवेदनशील स्थानों पर ड्रोन के माध्यम से भी लगातार नजर रखी जाएगी. भीड़ नियंत्रण हेतु प्रमुख जगहों पर ड्राप गेट भी लगाए जाएंगे.भीड़ नियंत्रण पर बेहतर प्रबंधन हेतु कई आवश्यक निर्णय भी लिए गए हैं. अफवाह फैलाने वाले के मंसूबे पूरे नहीं होंगे, की जाएगी सख्त करवाई. ’वरीय पुलिस अधीक्षक ने सख्त निर्देश दिया कि हुड़दंग बाजी करने वालों पर पूरी पैनी नजर रखी जाएगी किसी भी सूरत में उन्हें बख्शा नहीं जाएगा’यदि कोई व्यक्ति अफवाह फैला कर सामाजिक ताने-बाने को डिस्टर्ब करने का प्रयास करता है तो ऐसे लोगों /तत्वों के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 153- ए एवं 505 के अंतर्गत अविलंब कार्रवाई की जाएगी. जिले का साइबर सेल, आईटी सेल एवं सोशल मीडिया विंग के द्वारा फेसबुक, सभी व्हाट्सएप ग्रुप, पोर्टल, वेब न्यूज़ यूट्यूब चौनल पर विशेष नजर रखी जा रही है. दुर्गा पूजा को ध्यान में रखते हुए जिला के नियंत्रण कक्ष को अलर्ट मोड में रखा गया है, कहीं से भी कोई सूचना आने पर तुरंत अपने वरीय पदाधिकारी को सूचित करने का निर्देश दिया गया है नियंत्रण कक्ष का दूरभाष संख्या 0631 2222253/59 है.24 घंटा चलने वाला नियंत्रण कक्ष तीन पारियों में चलेगा. नियंत्रण कक्ष में पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति रखी गयी है. इसके साथ ही सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि अपने-अपने ड्यूटी स्थान पर हेलमेट तथा बॉडी प्रोटेक्टर के साथ ड्यूटी करें इसके अलावा सभी पदाधिकारी अपने मोबाइल फोन को वाइब्रेशन के साथ-साथ रिंगिंग मोड में रखें तथा आने वाले कॉल को तुरंत रिस्पांड करें.

कोई टिप्पणी नहीं: