इस बार एनआईटीटीटीआर-चंडीगढ़ में लगेगा मीडिया चौपाल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 28 नवंबर 2022

इस बार एनआईटीटीटीआर-चंडीगढ़ में लगेगा मीडिया चौपाल

Media-chaupaal-2022
'मीडिया चौपाल' संचारकर्मियों के वैचारिक आदान-प्रदान का एक सशक्त माध्यम है। मीडिया और समाज के सम्बन्धों को सुदृढ़ बनाने के लिए वर्ष 2012 में 'मीडिया चौपाल' की शुरुआत हुई थी। तब से यह चौपाल अलग-अलग जगह लग रहा है और संचारविदों के ज्ञान एवं अनुभव से सबको लाभान्वित कर रहा है। इस वर्ष के 'मीडिया चौपाल' का आयोजन दि. 02 से 04 दिसंबर, 2022 को राष्ट्रीय तकनीकी शिक्षक प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान (एनआईटीटीटीआर) चंडीगढ़ में होगा और विचार-विमर्श का केन्द्रीय विषय “अमृतकाल में भारत अभ्युदय : चुनौतियाँ एवं संकल्प” है। इस चौपाल में लद्दाख से लक्षद्वीप तक के संचारक शामिल होंगे। 'मीडिया चौपाल' का प्रमुख उद्देश्य है - नेटवर्किंग, क्षमता संवर्धन और सशक्तिकरण के साथ-साथ संचार के सिद्धांत, प्रक्रिया और प्रारूपों के भारतीयकरण एवं मानवीयकरण, समाजीकरण और सकारात्मकता की ओर उन्मुख करना। इस तीन दिवसीय मीडिया चौपाल में लगभग 10 विमर्श सत्रों के साथ-साथ मीडिया प्रदर्शनी और पुस्तक प्रदर्शनी होगी। इस आयोजन में देश भर के 500 से अधिक संचारक (मीडिया पर्सन्स), फिल्म एवं कला जगत की नामचीन हस्तियाँ, सम्पादक, लेखक, साहित्य और जनमत को प्रभावित करने वाले महत्वपूर्ण लोग शामिल होंगे। 'मीडिया चौपाल-2022’ में होने वाले विमर्श के आधार पर मीडिया का भारतीयकरण एवं उसे लोकमंगलकारी बनाने का प्रयत्न करना इस आयोजन का उद्देश्य है। कुलमिलाकर 'मीडिया चौपाल' में होने वाला विमर्श मीडिया जगत के लिए नये आयाम और नये द्वार खोलेगा। विदित हो कि देश अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ मना रहा है। ऐसे में स्वतन्त्रता के इस 'अमृत महोत्सव' काल को संचार की दृष्टि से समझने के लिए इस वर्ष का विषय “अमृतकाल में भारत अभ्युदय : चुनौतियाँ एवं संकल्प” प्रासंगिक हो जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं: