बिहार : 'गरीबी' वो पुराना रोग है, जो सालों से छूट ही नहीं रहा है : प्रशांत किशोर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 3 जनवरी 2023

बिहार : 'गरीबी' वो पुराना रोग है, जो सालों से छूट ही नहीं रहा है : प्रशांत किशोर

Poverty-old-dises-bihar
चकिया, पूर्वी चंपारण, जन सुराज पदयात्रा के दौरान परसौनी वाजीद पंचायत में आम सभा को संबोधित करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि बिहार में 'गरीबी' जो है, वो पुरानी रोग है, जो सालों से छूट नहीं रही है। मैं पिछले 94 दिन से चल रहा हूं, ये बताने की लिए कि आखिर हम बिहारियों की दुर्दशा ऐसी क्यूं है? हम बिहारी 5 वर्ष बैठ कर अपनी हर समस्याओं पर बात करते तो हैं कि कैसे सड़क में पानी जमा है, बेरोजगारी खत्म नहीं हो रही है, शिक्षा व्यवस्था खराब है, मगर *जब वोट देने की बात आती है, तो उस समय हम सबकुछ भूल कर अपने जात के लोगों को खोजने लगते हैं।* बिहार में पिछले 30 साल से लोग सिर्फ 4 मुद्दे पर वोट करते जा रहे हैं, जिसे अब बदलने की जरूरत है।

कोई टिप्पणी नहीं: