मधुबनी : मुख्यमंत्री का 'समाधान यात्रा पहुंचा, जिले में विकास योजनाओं का किया निरीक्षण - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 11 जनवरी 2023

मधुबनी : मुख्यमंत्री का 'समाधान यात्रा पहुंचा, जिले में विकास योजनाओं का किया निरीक्षण

  • समस्याओं के समाधान हेतु अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

Nitish-samadhan-yatra-in-madhubani
मधुबनी, मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने आज 'समाधान यात्रा' के क्रम में मधुबनी जिले में विभिन्न विभागों के अंतर्गत चल रही विकास योजनाओं का निरीक्षण किया । निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने मधुबनी जिले के रहिका प्रखंड अंतर्गत जगतपुर पंचायत के वार्ड संख्या-4 स्थित महादलित / अतिपिछड़ा टोला का भ्रमण कर विकास योजनाओं का जायजा लिया। जल- जीवन - हरियाली अभियान के अंतर्गत जीर्णोद्धार किये गए सोनमा सागर का निरीक्षण करने के क्रम में उसके चारों तरफ सीढ़ीनुमा घाट बनाने का मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया ताकि स्थानीय लोगों को सहूलियत हो और छठ पूजा के दौरान व्रती अर्घ्य भी दे सके। समेकित बाल विकास परियोजना, रहिका ( अपना आंगनबाड़ी केंद्र) में पोषण थाली, सूखा राशन, अन्नप्राशन आदि से संबंधित लगाए गए स्टॉल का मुख्यमंत्री ने अवलोकन किया तथा इस आंगनबाड़ी केंद्र में पढ़ रहे बच्चों के संबंध में जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि आंगनबाड़ी केन्द्र के भवन का मजबूतीकरण और सुदृढ़ीकरण करायें साथ ही चहारदीवारी को और ऊँचा करायें ताकि कोई भी बच्चा तालाब की तरफ न जाय, आंगनबाड़ी परिसर में ही बच्चे ठीक से रहे। विभिन्न जीविका समूहों द्वारा लगाए गए स्टॉल का भी मुख्यमंत्री ने मुआयना किया, इस दौरान मुख्यमंत्री ने सतत् जीविकोपार्जन योजना के लाभार्थी महिलाओं के बीच किट वितरित किया । सतत् जीविकोपार्जन योजना अंतर्गत रहिका के 122 परिवारों हेतु मुख्यमंत्री ने 43 लाख 38 हजार रुपये की राशि का सांकेतिक चेक जीविका दीदियों को प्रदान किया। भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री ने ग्रामवासियों की समस्याएं भी सुनी और उसके यथाशीघ्र समाधान हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया । जाति आधारित गणना से संबंधित लगे स्टॉल का जायजा लेने के क्रम में मुख्यमंत्री ने पर्यवेक्षकों से बातचीत के क्रम में कहा कि पहले चरण में घरों की गिनती होनी है। जाति आधारित गणना के क्रम में जाति के साथ-साथ परिवारों की आर्थिक स्थिति की जानकारी भी लेनी है। इसके अलावा बाहर रहनेवाले लोगों के विषय में भी स्थानीय लोगों के माध्यम से जानकारी संग्रहित करनी है ताकि उनकी संख्या और आर्थिक स्थिति की जानकारी मिल सके। कितने लोगों को बाहर जाना पड़ रहा है, यह पता चलेगा। उन्होंने कहा कि जाति आधारित गणना में एक-एक चीज के बारे में जानकारी इकट्ठा करनी है। कोरोना काल में बाहर रहनेवाले सभी लोगों को आर्थिक मदद दी गयी। उनके भोजन, समुचित इलाज एवं आवासन का प्रबंध भी कराया गया। मुख्यमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को मुख्यमंत्री ने सर्टिफिकेट प्रदान किया।


पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हम बहुत पहले से यहां आकर एक-एक चीज को देखते रहे हैं। यह अब बनकर तैयार हो गया है। यहां अच्छे ढंग से सभी चीजों की ट्रेनिंग हो रही है। जीविका की दीदियां कितना अच्छा काम कर रही हैं इनके द्वारा निर्मित चीजों की बिहार से बाहर दूसरे राज्यों में भी बिक्री हो रही है। जीविका दीदियों ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया है कि इनके द्वारा तैयार सामान जापान में भी भेजी गई है। इनके द्वारा तैयार सामानों की ऑनलाइन बिक्री हो रही है। आज सभी जीविका दीदियां काफी खुश हैं। हमलोगों ने स्वयं सहायता समूह का जीविका नामकरण करके इसे आगे बढ़ाया। आज जीविका दीदियों को देखकर काफी अच्छा लग रहा है। जीविका दीदियां काफी आगे बढ़ रही हैं। किसी भी जीविका दीदियों को देख लीजिए, आज कितनी खुश हैं। सभी अपना काम कर रही हैं यह कितनी खुशी की बात है। इस इलाके की कुछ खास चीजें हैं। मिथिला पेंटिंग काफी प्रसिद्ध है। तालाब में मछली डालने की जो परंपरा है उसके तहत हमने यहाॅ मछली डाला है। आंगनबाड़ी केंद्र में भी हमने जाकर देखा है और उसको लेकर निर्देश दिया है। हेलीपैड पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों, नेताओं एवं जिला प्रशासन द्वारा मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया गया। भ्रमण के क्रम में जगह-जगह ग्रामीणों एवं जीविका दीदियों ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। इस दौरान वित्त, वाणिज्य कर एवं संसदीय कार्य मंत्री श्री विजय कुमार चौधरी, जल संसाधन मंत्री श्री संजय कुमार झा, खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री सह मधुबनी जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती लेशी सिंह, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री श्री ललित कुमार यादव, उद्योग मंत्री श्री समीर कुमार महासेठ, परिवहन मंत्री श्रीमती शीला कुमारी, सांसद श्री रामप्रीत मंडल, सांसद डॉ० फैयाज अहमद, विधायक श्रीमती मीना कुमारी, विधायक श्री सुधांशु शेखर, विधायक श्री भरत मंडल, पूर्व मंत्री श्री लक्ष्मेश्वर राय, पूर्व विधायक श्रीमती भावना झा, पूर्व विधान पार्षद श्री विनोद सिंह, पूर्व विधान पार्षद श्री दिलीप चौधरी, मुख्य सचिव श्री आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ० एस० सिद्धार्थ, मुख्यमंत्री के सचिव श्री अनुपम कुमार, ग्रामीण विकास विभाग के सचिव श्री बालामुरुगन डी०, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग के सचिव श्री देवेश सेहरा, अपर पुलिस महानिदेशक, विधि व्यवस्था श्री संजय सिंह, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी श्री गोपाल सिंह, मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी जीविका सह मिशन निदेशक जल-जीवन-हरियाली अभियान श्री राहुल कुमार, आयुक्त दरभंगा प्रमंडल डॉ० मनीष कुमार, पुलिस महानिरीक्षक दरभंगा प्रक्षेत्र श्री ललन मोहन प्रसाद, प्रभारी जिलाधिकारी मधुबनी श्री विशाल राज, पुलिस अधीक्षक मधुबनी श्री सुशील कुमार सहित अन्य वरीय अधिकारीगण उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं: