बिहार के किसानों के साथ भी हकमारी की जा रही है - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 30 जनवरी 2021

बिहार के किसानों के साथ भी हकमारी की जा रही है

farmer-protest-bihar
पटना. राजधानी दिल्ली में दो महीने से भी ज्यादा समय से किसानों के समर्थन में आंदोलन चल रहा है. शनिवार को किसानों के समर्थन में महागठबंधन ने बिहार में मानव श्रृंखला बनाया. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व में कांग्रेस और वामपंथी दलों ने पटना से बुद्ध स्मृति पार्क के सामने मानव श्रृंखला बनाई और किसान आंदोलन के समर्थन में अपनी आवाज बुलंद की. केंद्रीय कृषि कानून के खिलाफ एवं किसान आंदोलन के समर्थन में राजद की अपील पर महागठबंधन के घटक दलों ने शनिवार (30 जनवरी) को प्रदेेश में मानव श्रृंखला बनाई.राजधानी में बुद्ध स्मृति पार्क के पास नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजीत शर्मा समेत कई नेता कतार में खड़े हुए.उन्होंने दावा किया कि कानून वापसी तक आंदोलन जारी रहेगा.मानव श्रृंखला का आयोजन दोपहर 12.30 बजे से एक बजे तक किया गया.इसमें राजद के अलावा, कांग्रेस एवं तीनों वामदल के नेता-कार्यकर्ता सड़क के किनारे खड़े रहे. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने केंद्र और राज्य सरकारों को किसान विरोधी बताया और कहा कि नए कृषि कानून के जरिए बिहार के किसानों के साथ भी हकमारी की जा रही है. उन्होंने दावा किया कि महागठबंधन के दल किसानों के साथ हैं.उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार बिहार में भी किसानों के लिए बाजार समिति शुरू करें. तेजस्वी ने पहले ही कह रखा था कि कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए कतार में खड़े लोग दो गज की दूरी का ख्याल रखेंगे.इसलिए सभी कार्यकर्ता एक-दूसरे से दूर-दूर थे.तेजस्वी के साथ कतार में राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, श्याम रजक, मनोज झा, प्रेम कुमार गुप्ता समेत सैकड़ों लोग खड़े थे. मानव श्रृंखला से पहले उसके लिए अनुमति को लेकर विवाद हो गया. पटना जिला प्रशासन की ओर से दावा किया गया कि राजद ने आयोजन की अनुमति नहीं मांगी है, जबकि राजद ने कहा कि 19 जनवरी को ही आधिकारिक तौर पर गृह विभाग के प्रधान सचिव को पत्र देकर सूचित किया गया था. चूंकि आंदोलन प्रदेश स्तर का है, इसलिए अलग-अलग जिलों से अनुमति लेने की जरूरत नहीं थी.गृह सचिव को सूचित करने के बाद अलग से कोई प्रक्रिया बाकी नहीं रह जाती है.


मानव श्रृंखला निर्माण को लेकर जिला प्रशासन ने कोतवाली थाने में राजद  भाकपा माले के कई नेताओं पर कराया मामला दर्ज, बगैर अनुमति  मजमा लगाना, भीड़ लगाना,  और कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन को लेकर हुआ मामला दर्ज,कोतवाली थाने में दर्ज हुआ मामला. राजद विधायक रीतलाल यादव ने दानापुर में मानव श्रृंखला बनाया.राजद नेता और दानापुर के विधायक रीतलाल यादव 30 जनवरी 2021 को मानव का रूट तय किए थे. राजद नेता और दानापुर के विधायक रीतलाल यादव ने तय किए रुट पर ही मानव श्रृंखला बनाया.उन्होंने सभी भाई-बहनों ने अनुरोध किए थे कि वे सभी महागठबंधन का सहयोग करे. उन्होंने कहा मानव श्रृंखला बनाने के लिए कोई भी व्यक्ति कहीं नहीं जाए. वे एक काम करे जहाँ हैं वहीँ से तीन-तीन फिट की दूरी बना कर खड़े हो जाए. राजद नेता और दानापुर के विधायक रीतलाल यादव ने कहा कि “गोविंदपुर, बाल्मिक से होते हुए खगौल स्टेशन, सरारी गुमटी होते हुए शिवाला, शिकारपुर, हाथीगंज, नरगडा होते हुए आनंद बाजार, छावनी परिषद शाहपुर होते हुए दाउदपुर, खगौल स्टेशन से कोथवा होते हुए दीघा दीघा से दानापुर पड़ाव” तक मानव श्रृंखला बनाएं. पार्टी ने तय किया है कि मानव श्रृंखला बना कर हमलोग किसान भाईयों का समर्थन करें इसके लिए पार्टी ने तारीख तय कर दी है 30 जनवरी 2021. बता दें कि राजद नेता और दानापुर के विधायक रीतलाल यादव 30 जनवरी 2021 को स्वंय मानव श्रृंखला का हिस्सा बने. मानव श्रृंखला के लिए दानापुर में समय भी तय किया गया 12:00 PM दिया. दानापुर के विधायक रीतलाल यादव ने रूट भी तय किए हैं गोविंदपुर, बाल्मिक से होते हुए खगौल स्टेशन, सरारी गुमटी होते हुए शिवाला, शिकारपुर, हाथीगंज, नरगडा होते हुए आनंद बाजार, छावनी परिषद शाहपुर होते हुए दाउदपुर, खगौल स्टेशन से कोथवा होते हुए दीघा दीघा से दानापुर पड़ाव” तक मानव श्रृंखला बनाएंगे. यह मानव श्रृंखला एक घंटे तक चली.कुर्जी दीघा में पप्पू राय ने मानव श्रृंखला को अंजाम तक पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़े.

कोई टिप्पणी नहीं: